भाजपा की पीएम मोदी के मन की बात के 100वें एपिसोड को ऐतिहासिक बनाने की तैयारी

नई दिल्ली : भाजपा ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के ‘मन की बात’ के 100वें एपिसोड को ऐतिहासिक बनाने के लिए खास तैयारी की है। 100वें एपिसोड का लाइव प्रसारण देशभर में 4 लाख सेंटरों में होगा। भाजपा के सभी सांसद, विधायक, चुने गए जन-प्रतिनिधि तथा पार्टी के सभी पदाधिकारी इस कार्यक्रम में शामिल होंगे। देश भर के विभिन्न सामजिक संगठन, सिविल सोसायटी एवं अन्य संस्थाएं भी ‘मन की बात’ के इस कार्यक्रम में बढ़-चढ़ कर भाग लेंगे। यहां तक कि विश्व भर में प्रवासी भारतीय भी प्रधानमंत्री के ‘मन की बात’ के इस 100वें एपिसोड को सुनेंगे। भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव दुष्यंत गौतम ने 30 अप्रैल, 2023 को प्रसारित होने जा रहे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के ‘मन की बात’ के 100वें एपिसोड को ऐतिहासिक बनाने और इसे व्यापक स्वरूप देने के लिए भाजपा की तैयारियों को लेकर एक विस्तृत कार्यक्रम जारी करते हुए बताया कि देशभर में बूथ स्तर पर लगभग 4 लाख सेंटरों में इसके प्रसारण की अभूतपूर्व व्यवस्था की जा रही है। हर विधानसभा में लगभग 100 से अधिक स्थानों पर इसे बड़े स्तर पर आयोजित किया जाएगा जिसमें स्थानीय सांसद, विधायक एवं चुने गए जन-प्रतिनिधि तथा पार्टी के वरिष्ठ पदाधिकारी एवं पार्टी कार्यकर्ता कार्यक्रम के संयोजन की व्यवस्था में शामिल होंगे। इसके साथ ही , सिविल सोसायटी, देश भर के विभिन्न सामजिक संगठन एवं अन्य संस्थाएं भी इसमें बढ़-चढ़ कर भाग लेने के लिए आगे आ रही हैं। यही नहीं, विश्व भर में प्रवासी भारतीय भी इसमें अपनी सहभागिता सुनिश्चित कर रहे हैं। भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा और केंद्रीय गृह एवं सहकारिता मंत्री अमित शाह सहित पार्टी के सभी वरिष्ठ नेता देश के विभिन्न स्थानों पर ‘मन की बात’ कार्यक्रम में शामिल होगें।

‘मन की बात’ कार्यक्रम को सफल बनाने के लिए पार्टी के सभी सांसदों, विधायकों एवं चुने हुए जन-प्रतिनिधियों को जिम्मेदारियां दी गई हैं। प्रदेश पदाधिकारियों को एक-एक जिले की जिम्मेदारी दी गई है। सभी सांसद, विधायक एवं जन-प्रतिनिधि अपने-अपने क्षेत्रों में इस कार्यक्रम को सफल बनाने के लिए जुटे हुए हैं। आकाशवाणी द्वारा प्रसारित किए जाने वाले इस कार्यक्रम में प्रधानमंत्री मोदी देश की जनता से सीधा संवाद करते हैं।

आपको बता दें कि ‘मन की बात’ का प्रसारण 3 अक्टूबर, 2014 को प्रारंभ हुआ था। इसे 52 भारतीय भाषाओं-बोलियों और 11 विदेशी भाषाओं में प्रसारित किया जाता है। 27 जनवरी, 2015 को अमेरिका के तत्कालीन राष्ट्रपति बराक ओबामा भी प्रधानमंत्री मोदी के साथ इस कार्यक्रम में शामिल हुए थे। गौरतलब है कि पिछले दिनों आईआईएम रोहतक के द्वारा मन की बात पर विस्तृत सर्वे किया गया, जिसमें यह निकल कर आया था कि मन की बात कार्यक्रम से देश के लगभग 96 प्रतिशत लोग परिचित हैं। अभी तक इस कार्यक्रम को लगभग 100 करोड़ से ज्यादा लोग सुन चुके हैं। लगभग 23 करोड़ लोगों ने मन की बात कार्यक्रम को नियमित रूप से देखा या सुना है। इसी सर्वे के अनुसार- मन की बात नागरिकों के व्यवहार, विचार एवं मनोस्थिति को सकारात्मक रूप से प्रभावित करती है। लगभग 60 प्रतिशत लोगों ने राष्ट्र निर्माण के लिए कार्य करने में रूचि दिखाई है। लगभग 55 प्रतिशत लोग राष्ट्र के एक जिम्मेदार नागरिक बनने की पुष्टि करते हैं। लगभग 73 प्रतिशत लोग देश की प्रगति के बारे में आशावादी महसूस करते हैं।

–आईएएनएस

रूसी सांस्कृतिक कलाकारों से पीएम मोदी ने की मुलाकात, पूछे ये सवाल

नई दिल्ली । प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी रूस के दौरे पर हैं। जहां उन्होंने मंगलवार को भारतीय समुदाय के लोगों को संबोधित किया। अक्सर पीएम मोदी विदेशी दौरे पर जाते हैं...

प्रधानमंत्री मोदी, अमित शाह व जेपी नड्डा ने दी गणतंत्र दिवस की शुभकामनाएं

नई दिल्ली । प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देशवासियों को 75वें गणतंत्र दिवस के विशेष अवसर पर शुभकामनाएं दी है। इसके साथ ही केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह और भाजपा राष्ट्रीय...

गणतंत्र दिवस पर सीएम योगी ने फहराया ध्वज, दी बधाई

लखनऊ । गणतंत्र दिवस के अवसर पर उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने शुक्रवार को अपने सरकारी आवास पर ध्वजारोहण किया। इस दौरान उन्होंने प्रदेशवासियों को गणतंत्र दिवस की...

अयोध्या के दीपोत्सव में रामायण के सातों अध्यायों की दिखेंगी झांकियां

अयोध्या । रामनगरी अयोध्या में होने वाले दीपोत्सव को भव्य बनाने के लिए तेज गति से काम हो रहा है। पर्यटन विभाग रामायण के सातों अध्यायों (कांड) पर आधारित झांकियां...

पुराने संसद भवन पर लगाया गया ‘संविधान सदन’ नाम का नया बोर्ड

नई दिल्ली: के पुराने भवन पर 'संविधान सदन' नाम का नया बोर्ड लगा दिया गया है। संसद के विशेष सत्र के दौरान पुराने संसद भवन से कामकाज के नए भवन...

एनीमेशन धारावाहिक से आजादी की लड़ाई का इतिहास

नई दिल्ली ।आज़ादी के अमृत महोत्सव के तहत देश की आजादी की लड़ाई के इतिहास को अब एनीमेशन धारावाहिक के जरिए 15 अक्टूबर से दिखाया जाएगा। सूचना एवं प्रसारण मंत्री...

राष्‍ट्रीय संग्रहालय खाली कराने को कांग्रेस नेता शशि थरूर ने बताया बर्बरता

नई दिल्ली । कांग्रेस नेता शशि थरूर ने शनिवार को राष्ट्रीय संग्रहालय को खाली करने पर चिंता व्यक्त करते हुए कहा कि यह "बर्बरता" है, शुद्ध और सरल है। एक्स...

पुराने किले की खुदाई में मिला ढाई हजार वर्षों का इतिहास

नई दिल्ली : राजधानी के पुराने किले की खुदाई में मौर्य काल से लेकर मुगल काल तक का छिपा हुआ ढाई हजार वर्षों का इतिहास मिला है ।संस्कृति राज्यमंत्री जी...

पुराने किले की खुदाई में मिला ढाई हजार वर्षों का इतिहास

नई दिल्ली : राजधानी के पुराने किले की खुदाई में मौर्य काल से लेकर मुगल काल तक का छिपा हुआ ढाई हजार वर्षों का इतिहास मिला है ।संस्कृति राज्यमंत्री जी...

जामिया के पूर्व छात्रों की ‘राइटिंग विद फायर’ को पीबॉडी अवार्ड, ऑस्कर के लिए नॉमिनेट होने वाली पहली भारतीय फीचर डॉक्यूमेंट्री

नई दिल्ली: जामिया मिलिया इस्लामिया स्थित एजेके मास कम्युनिकेशन रिसर्च सेंटर (एजेके एमसीआरसी) के पूर्व छात्र रिंटू थॉमस और सुष्मित घोष की 'राइटिंग विद फायर' नामक एक डॉक्यूमेंट्री फिल्म ने...

हिमंता ने असम के गमोसा के लिए जीआई टैग प्राप्त किया

गुवाहाटी : असम के मुख्यमंत्री हिमंता बिस्वा सरमा ने असोमिया गमोसा के लिए जियोग्राफिकल इंडिकेशन रजिस्ट्रेशन सर्टिफिकेट (जीआई टैग) प्राप्त किया है। मुख्यमंत्री को जीआई रजिस्ट्री के रजिस्ट्र्रार और पेटेंट,...

जी 20 के देश भारत की संस्कृति से सीखेंगे

नई दिल्ली : जी20 के सदस्य देशों में भारत की सांस्कृतिक एकता एवम विविधता तथा वसुधैव कटुम्बकम की अवधारणा को फैलाने के लिए कल्चर वर्किंग ग्रुप की चार बैठकें होंगी।संस्कृति...

admin

Read Previous

आनंद मोहन की रिहाई केंद्र के मॉडल जेल मैनुअल 2016 पर आधारित : नीतीश

Read Next

माफिया मुख्तार अंसारी को दस साल की कैद और पांच लाख जुर्माने की सजा

Leave a Reply

Your email address will not be published.

WP2Social Auto Publish Powered By : XYZScripts.com