लूटी गई कलाकृतियों की बरामदगी के बाद फिर से खुलेगा इराक का राष्ट्रीय संग्रहालय

बगदाद: इराकी प्रधानमंत्री मुस्तफा अल-कदीमी ने बगदाद में इराक संग्रहालय को फिर से खोलने का आदेश दिया है। अल-कदीमी ने एक ट्वीट में कहा, “17,000 इराकी कलाकृतियों की वापसी के साथ, मैंने इराक संग्रहालय को जनता और शोधकर्ताओं के लिए फिर से खोलने का आदेश दिया।”

बुधवार को, संस्कृति, पर्यटन और पुरावशेष मंत्री हसन नादिम ने एक बयान में कहा कि बरामद गोलियां 4,500 साल पहले की हैं। और सुमेरियन सभ्यता के दौरान व्यापार आदान-प्रदान का दस्तावेजीकरण करने वाले क्यूनिफॉर्म शिलालेख हैं।

अगले दिन, अल-कदीमी और उनका प्रतिनिधिमंडल अमेरिका की कई दिनों की यात्रा के बाद बगदाद लौट आया और 17,000 कलाकृतियों को वापस लाया।

आधिकारिक आंकड़ों के अनुसार, 2003 में अमेरिका के नेतृत्व वाले सैनिकों द्वारा सद्दाम हुसैन के शासन को गिराने के बाद, पाषाण युग, बेबीलोन, असीरियन और इस्लामिक काल के लगभग 15,000 सांस्कृतिक अवशेषों को लुटेरों द्वारा चुरा लिया गया या नष्ट कर दिया गया।

2014 में उत्तरी और पश्चिमी इराक में इस्लामिक स्टेट के आतंकी समूह द्वारा बड़े क्षेत्रों पर नियंत्रण करने के बाद मोसुल संग्रहालय और हटरा और निमरुद के प्राचीन शहरों को भी नष्ट कर दिया गया था और बड़ी संख्या में पुरावशेषों की तस्करी की गई थी।

इराक में 10,000 से अधिक स्थलों को आधिकारिक तौर पर पुरातात्विक स्थलों के रूप में मान्यता प्राप्त है, लेकिन उनमें से अधिकांश सुरक्षित नहीं हैं और कई अभी भी लूटे जा रहे हैं।

–आईएएनएस

प्रख्यात अंग्रेजी लेखक रस्किन बॉन्ड को साहित्य अकादेमी की महत्तर सदस्यता

नई दिल्ली । साहित्य अकादेमी का सर्वोच्च सम्मान "महत्तर सदस्यता "आज अंग्रेजी के प्रख्यात लेखक और विद्वान रस्किन बॉन्ड को प्रदान की गई।उनकी अस्वस्थताके कारण यह सम्मान उनके मसूरी स्थित...

विश्व रेडियो दिवस:बेहद रोमांचक है वायरलेस दुनिया

बीजिंग । 3 नवंबर, 2011 को यूनेस्को ने हर साल 13 फरवरी को "विश्व रेडियो दिवस" ​​के रूप में नामित करने का निर्णय लिया। 13 फरवरी 1946 को संयुक्त राष्ट्र...

पटना में गंगा नदी के तट पर लगेगी राजेंद्र प्रसाद की 243 मीटर ऊंची प्रतिमा

पटना । बिहार की राजधानी पटना में गंगा तट पर देश के प्रथम राष्ट्रपति राजेंद्र प्रसाद की 243 मीटर ऊंची प्रतिमा लगेगी। यह प्रतिमा गुजरात में नर्मदा के किनारे बने...

भारतीय कला विरासत की अनोखी झांकी लाल किले में

नई दिल्ली । विश्व के प्रसिद्ध "आर्ट बिनाले" की तर्ज़ पर अब देश में पहला "बिनाले "8 दिसम्बर से राजधानी के ऐतिहासिक लाल किले में होगा।31 मार्च तक चलने वाले...

तेजी बच्चन ने लेडी मैकेबेथ की भूमिका निभाई थी

नई दिल्ली। प्रख्यात स्वतंत्रता सेनानी एवम भारत छोड़ो आंदोलन में जेल जानेवाले प्रसिद्ध रंगकर्मी एवम लेखक वीरेन्द्र नारायण द्वारा निर्देशित नाटकों में तेजी बच्चन ने ही नहीं बल्कि देवानंद की...

खेलों के माध्यम से भी पूरे प्रदेश में मनाया गया आजादी का जश्न

लखनऊ : प्रदेश में आजादी के जश्न का समारोह ध्वजारोहण के साथ-साथ विभिन्न सांस्कृतिक कार्यक्रमों की विस्तृत श्रृंखला के माध्यम से संपन्न हुआ। इस अवसर पर प्रदेश के खेल विभाग...

समाज में तनाव पैदा करने वाले दृश्य हटाना सेंसर बोर्ड की ज़िम्मेदारी: अनिल दुबे 

अगर फ़िल्म में ऐसे दृश्य या कहानी है जो समाज में तनाव को जन्म देता हो, तो फ़िल्म सेंट्रल बोर्ड ऑफ फिल्म सर्टिफिकेशन, (सेंसर बोर्ड) को उसे तुरंत हटा देना...

अमृत महोत्सव में हुए दो लाख कार्यक्रम
अब समापन 30 अगस्त को कर्तव्य पथ पर होगा।

नई दिल्ली 4 अगस्त । आज़ादी के अमृत महोत्सव में दोलाख कार्यक्रम होने ने के बाद इसका समापन समारोह 30 अगस्त को होगाजिसमें देश भर की मिट्टी को दिल्ली लाया...

राष्ट्रपति ने किया एशिया के सबसे बड़े अंतरराष्ट्रीय साहित्य उत्सव “उन्मेष “का शुभारंभ

साहित्यकार का सत्य इतिहासकारों के तथ्य से ज़्यादा विश्वसनीय है - श्रीमती द्रौपदी मुर्मु नई दिल्ली 4अगस्त । राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू ने कल भोपाल में एशिया के सबसे बड़े अंतरराष्ट्रीय...

श्रीलंका गृह युद्ध पर उपन्यास के लिए ऑस्ट्रेलियाई-तमिल को शीर्ष साहित्यिक पुरस्कार

मेलबर्न : ऑस्ट्रेलियाई-तमिल वकील शंकरी चंद्रन ने अपने उपन्यास 'चाय टाइम एट सिनामन गार्डन्स' के लिए 60,000 डॉलर का प्रतिष्ठित माइल्स फ्रैंकलिन साहित्य पुरस्कार जीता है। पुरस्कार की घोषणा मंगलवार...

हिंदी के लिए अतुल कुमार राय को युवा साहित्य अकादमी पुरस्कार
सूर्यनाथ सिंह को बाल साहित्य अकादमी पुरस्कार

नई दिल्ली : हिंदी के लिए युवा साहित्य अकादमी पुरस्कार अतुल कुमार राय के उपन्यास "चाँदपुर की चंदा" को प्रदान किया गया है.अंग्रेज़ी के लिए अनिरुद्ध कानिसेट्टी की पुस्तक "लॉडर््स...

सुभद्रा कुमारी चौहान पर नाटक से एनएसडी के फेस्टिवल का होगा उद्घटान

नई दिल्ली : "खूब लड़ी मर्दानी वो तो झांसी वाली रानी थी "जैसी अमर पंक्तियां लिखनेवाली महान कवयित्री एवम स्वतंत्रता सेनानी सुभद्रा कुमारी चौहान पर आधारित नाटक से 28 जून...

editors

Read Previous

एआईएमआईएम जल्द ही राजस्थान में दस्तक देगी : ओवैसी

Read Next

रूपाला ने केसीसी के लाभों का विस्तार करने को 3 महीने लंबा अभियान शुरू किया

Leave a Reply

Your email address will not be published.

WP2Social Auto Publish Powered By : XYZScripts.com