भारतीय युवाओं में बढ़ रहे हैं ब्लड कैंसर के मामले : विशेषज्ञ

नई दिल्ली । डॉक्टरों ने कहा कि भारत में 30 से 40 वर्ष की आयु के युवा वयस्कों में क्रोनिक माइलॉयड ल्यूकेमिया (सीएमएल) काफी बढ़ रहा है।

डॉक्टरों ने बताया कि क्रोनिक माइलॉयड ल्यूकेमिया (सीएमएल) एक दुर्लभ बीमारी है। लेकिन इसका इलाज संभव है। यह रक्त कैंसर है।

सीएमएल बोन मैरो को प्रभावित करती है। इसमें सामान्य रूप से न्यूट्रोफिल, बेसोफिल, इयोसिनोफिल और मोनोसाइट्स जैसी श्वेत रक्त कोशिकाओं में विकसित होने वाली कोशिकाएं कैंसरयुक्त हो जाती हैं।

वैश्विक स्तर पर सीएमएल बड़ी संख्या में लोगों को प्रभावित करता है। एक अनुमान के मुताबिक यह 1.2 से 15 लाख व्यक्तियों को प्रभावित करता है।

यह बीमारी इतने ज्यादा तौर पर फैलने के बावजूद सीएमएल ल्यूकेमिया के अन्य रूपों की तुलना में अपेक्षाकृत दुर्लभ है। इसमें ल्यूकेमिया के सभी मामलों का लगभग 15 प्रतिशत शामिल है।

जर्नल लांसेट में प्रकाशित एक हालिया अध्ययन में यह बात सामने आई है कि यह बीमारी बहुत कम उम्र के व्यक्तियों को अपना शिकार बना रही है। भारत में अधिकांश रोगियों में यह 30 से 40 वर्ष की आयु के बीच देखने को मिला।

इसकी तुलना में यह पश्चिमी देशों में 64 वर्ष की आयु में देखने को मिला।

बेंगलुरु के एचसीजी कॉम्प्रिहेंसिव कैंसर केयर हॉस्पिटल के वरिष्ठ हेमेटोलॉजिस्ट और हेमाटो-ऑन्कोलॉजिस्ट के.एस. नटराज ने आईएएनएस को बताया, ”मैं देखता हूं कि हर महीने लगभग 5-10 नए रोगियों में सीएमएल का पता चलता है और वहीं 10-15 अतिरिक्त रोगी फॉलो-अप के लिए आते हैं।”

उन्होंने कहा, “मरीजों की संख्या में इसलिए भी वृद्धि हो रही है, क्योंकि लोग इस बीमारी को लेकर सजग नहीं हैं। जब लोग नियमित रूप से सामान्य जांच के लिए जाते हैं और डॉक्टर परीक्षण की सलाह देते हैं, तब संदिग्ध रूप से उच्च डब्ल्यूबीसी की संख्या का पता चलता है।”

यदि प्रारंभिक अवस्था में इसकी पहचान और इसका उपचार किया जाए तो सीएमएल काफी हद तक ठीक हो सकता है।

सीएमएल में सामान्य तौर पर पसीना आना, वजन कम होना, बुखार, हड्डियों में दर्द और प्लीहा का बढ़ना जैसे लक्षण दिखाई देते हैं।

एम्स नई दिल्ली में हेमेटोलॉजी के प्रोफेसर तूलिका सेठ ने आईएएनएस को बताया, “क्रोनिक माइलॉयड ल्यूकेमिया का इलाज संभव है। हालांकि इस बीमारी से लड़ने के लिए बेहद नाजुक संतुलन अपनाने की आवश्यकता होती है। इस बीमारी से उभरने के लिए लगातार दवा का सेवन और नियमित जांच सबसे महत्वपूर्ण बात है। निगरानी और व्यक्तिगत उपचार रणनीतियों के साथ सीएमएल से उभरा जा सकता है।”

उन्होंने कहा, “सीएमएल के इलाज के दौरान प्रत्येक चरण में अद्वितीय चुनौतियों का सामना करना पड़ता है। लगातार निगरानी को प्राथमिकता देने के साथ उपचार का पालन करते हुए चिकित्सा में प्रगति को अपनाना महत्वपूर्ण है।”

–आईएएनएस

पेपर लीक पर सीएम नीतीश कुमार गंभीर, सख्त से सख्त होगी कार्रवाई : सम्राट चौधरी

पटना । नीट पेपर लीक मामले को लेकर बिहार के डिप्टी सीएम सम्राट चौधरी ने बड़ा बयान दिया है। उन्होंने कहा कि प्रश्न पत्र लीक करने वालों पर सख्त कार्रवाई...

बंगाल ट्रेन हादसे में मरने वालों की संख्या 10 हुई

कोलकाता । पश्चिम बंगाल के दार्जिलिंग जिले में कंचनजंगा एक्सप्रेस और एक मालगाड़ी की टक्कर में मरने वाले लोगों की संख्या बढ़कर 10 हो गई है। राज्य प्रशासन के एक...

डिफेंस मैन्युफैक्चरिंग में आत्मनिर्भर बन रहा भारत, एचएएल को मिला नया ऑर्डर

नई दिल्ली । भारत की डिफेंस कंपनी हिंदुस्तान एयरोनॉटिक्स लिमिटेड (एचएएल) को रक्षा मंत्रालय की ओर से 156 लाइट कॉम्बैट हेलीकॉप्टर का ऑर्डर मिला है। नया ऑर्डर मिलने के साथ...

26वां शांगहाई अंतर्राष्ट्रीय फिल्म महोत्सव शुरू

बीजिंग । 26वां शांगहाई अंतर्राष्ट्रीय फिल्म महोत्सव 14 जून को शुरू हुआ, जिसमें जीवंत प्रतिस्पर्धा और सिनेमाई अनुभवों की विविधतापूर्ण श्रृंखला प्रदर्शित की जाएगी। इस वर्ष, चीन और विदेश दोनों...

बिहार से गुंडाराज-माफिया राज का होगा खात्मा : विजय कुमार सिन्हा

लखीसराय । लोकसभा चुनाव के बाद बिहार के उपमुख्यमंत्री विजय कुमार सिन्हा एक दिवसीय दौरे पर रविवार को लखीसराय पहुंचे। जहां भाजपा कार्यकर्ताओं ने उनका जोरदार स्वागत किया। विजय कुमार...

कर्नाटक में वाहन चालकों को झटका, पेट्रोल-डीजल हुआ महंगा

बेंगलुरु । कर्नाटक में वाहन चालकों को बड़ा झटका लगा है। राज्य सरकार ने शनिवार को ईंधन पर खुदरा बिक्री कर (रिटेल सेल टैक्स) बढ़ा दिया है। इसके बाद राज्य...

‘दिल्ली में पानी की पाइपलाइन काटने की हो रही साजिश’, आतिशी ने पुलिस कमिश्नर को लिखा पत्र

नई दिल्ली । देश की राजधानी दिल्ली में पानी किल्लत को लेकर सियासत तेज हो गई है। इस बीच दिल्ली की जल मंत्री आतिशी ने आरोप लगाया है कि राष्ट्रीय...

भीषण गर्मी के चलते दोगुने हुए सब्जियों के दाम

फरीदाबाद । पूरे उत्तर भारत में इन दिनों भीषण गर्मी पड़ रही है। लोगों का हाल बेहाल है, ऐसे में अब लोग सब्जियों के बढ़ते दामों से परेशान हैं। भीषण...

नीट विवाद पर धर्मेंद्र प्रधान का बड़ा बयान – ‘बच्चों के भविष्य के साथ खिलवाड़ नहीं होगा’

नई दिल्ली । नीट यूजी 2024 के परीक्षा परिणामों को लेकर जारी सियासत के बीच एक बार फिर केंद्रीय शिक्षा मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने बयान दिया है। उन्होंने परीक्षार्थियों को...

2024 में एशिया-प्रशांत क्षेत्र में भारत ही रहेगा सबसे तेजी से बढ़ती हुई अर्थव्यवस्था : मूडीज

नई दिल्ली । भारत 2024 में एशिया-प्रशांत क्षेत्र की सबसे तेजी से बढ़ने वाली अर्थव्यवस्था बनी रहेगी। ग्लोबल रेटिंग एजेंसी मूडीज की ओर से ताजा रिपोर्ट में ये दावा किया...

रतलाम में मंदिर में फेंका गोवंश का कटा सिर, आरोपियों के घरों पर चला बुलडोजर

रतलाम । मध्य प्रदेश के रतलाम जिले के एक मंदिर में शरारती लोगों ने गोवंश का कटा हुआ सिर फेंक दिया। इस मामले में पुलिस ने सख्त कार्रवाई की है।...

सुप्रीम कोर्ट ने अन्नू कपूर की फिल्म ‘हमारे बारह’ की रिलीज पर लगाई रोक

नई दिल्ली । अन्नू कपूर स्टारर फिल्म 'हमारे बारह' विवादों में घिरी है। सुप्रीम कोर्ट ने गुरुवार को फिल्म 'हमारे बारह' की स्क्रीनिंग पर रोक लगा दी है। यह रोक...

admin

Read Previous

हरियाणा सरकार ने दिल्ली को मिलने वाले यमुना नदी के पानी में कटौती की है : आतिशी

Read Next

अच्छे दिन तो नहीं आ पाए, चार जून के बाद खुशियों के दिन आएंगे : अखिलेश यादव

Leave a Reply

Your email address will not be published.

WP2Social Auto Publish Powered By : XYZScripts.com