नोएडा में 1000 किलो कचरे से बनाई गई 20 फीट ऊंची गांधी प्रतिमा

नई दिल्ली: उत्तर प्रदेश के नोएडा में सोमवार को ‘भारत छोड़ो आंदोलन’ की 80वीं वर्षगांठ पर ‘स्वच्छ भारत’ के प्रतीक के रूप में कचरे से बनी महात्मा गांधी की एक प्रतिमा का अनावरण किया गया। नोएडा के सेक्टर 137 के पास स्थापित ‘माचिर्ंग गांधी’ की मूर्ति पूरी तरह से प्लास्टिक कचरे से बनाई गई है।

आत्मनिर्भर और स्वच्छ भारत के लिए महात्मा गांधी के ²ष्टिकोण को याद करते हुए, साथ ही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के सपने को पूरा करने के उद्देश्य से नोएडा प्राधिकरण ने एक निजी कंपनी के सहयोग से नोएडा में प्लास्टिक के उपयोग को कम करने के बारे में आम लोगों को याद दिलाने के लिए प्रतिमा का अनावरण किया।

गौतमबुद्धनगर के सांसद महेश शर्मा, विधायक पंकज सिंह, विधायक तेजपाल सिंह नागर और नोएडा प्राधिकरण की सीईओ रितु माहेश्वरी ने 20 फीट ऊंची, 6 फीट लंबी, 6 फीट चौड़ी प्रतिमा का अनावरण किया। इसका वजन 1,150 किलोग्राम है।

1 जुलाई को सिंगल यूज प्लास्टिक पर पूरी तरह से प्रतिबंध लगने के बाद लोगों को प्लास्टिक से होने वाले पर्यावरणीय नुकसान के प्रति जागरूक करने और इसके उपयोग को नियंत्रित करने के लिए यह प्रयास किया जा रहा है।

कचरे से इस प्रतिमा का निर्माण एक जागरूकता अभियान की तरह है। इसके साथ ही ऑपरेशन प्लास्टिक एक्सचेंज मोबाइल वैन भी शुरू किया गया है।

इस अभियान के तहत अब तक 170 लोगों ने 816 किलो प्लास्टिक की बोतलों और 52 किलो पॉलीथिन को कपड़े से बने थैले, लकड़ी के स्टॉक रेट और स्टील की बोतलों से बदला है।

–आईएएनएस

editors

Read Previous

रक्षाबंधन में भी दिख रहा बुलडोजर का क्रेज

Read Next

जयपुर की 60,000 गायों के गोबर की राखियों के अमेरिका, मॉरीशस में खरीदार मिले

Leave a Reply

Your email address will not be published.

WP2Social Auto Publish Powered By : XYZScripts.com