रक्षाबंधन में भी दिख रहा बुलडोजर का क्रेज

लखनऊ:लगातार अपराधियों और भूमाफियाओं के खिलाफ यूपी सरकार का चल रहा बुलडोजर का क्रेज रक्षाबंधन में दिखने लगा है। अब बुलडोजर के राखियों की धूम है। जहां बहने यह राखी खरीदकर खुश है वहीं भाईयों की कलाई पर बांध कर सुरक्षा का संदेश भी देने वाली है।

दुकानों में जरीदार, नगदार, मोतीदार, डोरीदार, धागेदार, कार्टून, भगवा रंग समेत अन्य तरह की राखियां सजा ली हैं। कार्टून राखियों में मिकी माउस, डोरेमान, मोटू-पतलू आदि शामिल हैं। बच्चों को कार्टून वाली राखियां खूब पसंद आ रही हैं। वहीं, युवाओं में बुलडोजर, योगी बाबा और मोदी राखियों का क्रेज है। दुकानदार विकास का कहते है कि सामान्य राखियां 10 रुपये से लेकर 100 रुपये तक हैं। रा-मैटेरियल, माल भाड़ा और मजदूरी बढ़ने के कारण राखियों का रेट पिछले वर्ष की तुलना में लगभग 10 से 20 प्रतिशत तक बढ़ गया है।

मोटू-पतलू, स्माइली, बाबा का बुलडोजर और टैडीबियर समेत अन्य राखियां बाजार में हैं।

बाजार में चाइनीज राखियां इस बार कम हैं। चाइनीज राखी 264 से लेकर 340 रुपये दर्जन तक है। फुटकर बाजार में चाइनीज राखी की कीमत 22 से लेकर 45 रुपये तक है। लखनऊ के राखी कारोबारी रमेश गुप्ता ने बताया कि बाजार में चाइनीज माल न के बराबर है। कुछ लोगों ने लाइट वाली राखियां मंगवाई हैं।

राखी बेचने वाले दुकानदार इमरान का कहना है कि दो साल बाद राखी बाजार में अच्छा कारोबार हो रहा है। कहा कि मार्केट में ट्रेडिशनल राखियों से लेकर बच्चों के लिए कार्टून और क्रिकेट के खिलाड़ियों वाली राखियां मौजूद हैं। लेकिन इस बार खासतौर पर मार्केट में लांच की गई बुलडोजर राखी की सबसे ज्यादा डिमांड है। इसके साथ ही मोदी और योगी की राखी भी बहनों की पहली पसंद बनी हुई है।

राखी खरीदने आई जया ने कहा कि माफियाओं के खिलाफ बुलडोजर की कार्रवाई से इस सिम्बोलिक की राखी खरीदने आयी हैं।

वाराणसी में सोनभद्र से आए दुकानदार रमेश कहते हैं कि देश में विकास हो रहा है और अच्छाई के प्रतीक के रूप में ‘बुलडोर बाबा राखी’ है और यह राखी तेजी से बिकने वाली भी है। उन्होंने बताया कि योगी सरकार में अच्छा काम हो रहा है। इसलिए राखी लोगों को पसंद आएगी। तो वहीं एक अन्य खरीदार अपने लिए राखी लेने आए हैं और बताते है कि उनकी बहनों को ‘बुलडोर बाबा राखी’ पसंद आई है इसलिए लेने आए हैं।

वाराणसी के दाल मंडी इलाके की राखी के इस होलसेल की दुकान पर राखी खरीदने आई प्रीति वाराणसी के कपसेठी इलाके की हैं।

राखी की दुकान लगाती हैं। लिहाजा राखी के त्योहार पर होलसेल में राखी खरीदने आई हैं। लेकिन यहां इन्हें सबसे ज्यादा पसंद योगी, मोदी की राखी के साथ बुलडोजर वाली राखी पसंद आई है।

–आईएएनएस

editors

Read Previous

तमिलनाडु से 50 साल पहले चोरी हुई पार्वती की मूर्ति न्यूयॉर्क में मिली

Read Next

नोएडा में 1000 किलो कचरे से बनाई गई 20 फीट ऊंची गांधी प्रतिमा

Leave a Reply

Your email address will not be published.

WP2Social Auto Publish Powered By : XYZScripts.com