मुंबई में फर्जी टीकाकरण की खबरों के बाद लोगों में डर और मायूसी

मुंबई: मुंबई में फर्जी टीकाकरण की खबरों के बाद टीका की गुणवत्ता को लेकर लोगों में एक डर बैठ गया है। गृह संकुलों ,एनजीओ और निजी अस्पतालों में टीकाकरण अभियान में टीका ले चुके लोग डरे हुए हैं।

अवैध टीकाकरण अभियान की जांच कर रही मुंबई पुलिस ने के अनुसार 25 मई से 6 जून के बीच इन शिविरों में टीकों के स्थान पर 2,060 से अधिक लोगों को सलाइन वाटर के डोस लगाए गये। पुलिस ने इस सिलसिले में 13 लोगों को गिरफ्तार किया है। मुंबई महानगर पालिका (बीएमसी) ने इस मामले में मुख्य कड़ी के तौर पर शिवम अस्पताल का लाइसेंस निरस्त कर दिया और उसे सील कर दिया है।

ये अभियान मुंबई के परेल और अधिकतर उपनगरीय इलाके कांदिवली, मलाड, बोरीवली, अंधेरी, खार, और वर्सोवा में चलाए गए थे। इसके अलावा ठाणे, नवी मुंबई में भी ऐसे मामले सामने आए हैं।
संयुक्त पुलिस आयुक्त विश्वास नांगरे पाटिल के अनुसार पुलिस ने राहुल दुबे नाम के एक व्यक्ति को गिरफ्तार किया है, जो शिवम अस्पताल से जुड़ा था। उसने कबूल किया कि उसने अन्य आरोपियों के साथ शीशियों में सलाईन वाटर भर दिया।

इस मामले में नीता पटारिया, शिवराज, मनीष त्रिपाठी ,राहुल दुबे, राजेश पांडे और मलाड मेडिकल एसोसिएशन के पूर्व सदस्य महेंद्र सिंह मुख्य आरोपी हैं।कांदिवली पुलिस ने अब तक नौ फर्जी कैंपों के सिलसिले में 13 आरोपियों को गिरफ्तार किया है।

इन नौ ड्राइवों के अलावा, कांदिवली (पूर्व) के समता नगर और अंधेरी (पूर्व) में एमआईडीसी में इस तरह के दो और अभियान सामने आए हैं। आगे की जांच यह पता लगाने के लिए की जा रही है कि लगा गए टीके असली थे या नकली! इन दो ड्राइवों में 1,600 से अधिक लोगों को टीका लगाया गया। जिनमें से सिर्फ 48 लोगों को टीकाकरण प्रमाण पत्र मिला। इसमें गंभीर बात यह है कि इस टीकाकरण के लिए बीएमसी से कोई अनुमति नहीं ली गई थी।

इधर बीएमसी के सामने सबसे बड़ा मसला इस बात का पता लगाना है कि जिन लोगों को फर्जी टीका लगाया उस टीके के द्रव्य की वास्तविकता क्या है ?और कितने लोगों को फर्जी टीके लगाए गए?

बकौल अपर आयुक्त सुरेश काकानी, कांदिवली फर्जी टीकाकरण के तहत वास्तव में किसे टीका लगाया गया या टीके के बजाय किसे कुछ मिश्रित पानी, रसायन आदि दिया गया था, यह सवाल अनुत्तरित हैं।

30 मई को कांदिवली में हीरानंदानी सोसाइटी के 390 निवासियों को कुछ निजी व्यक्तियों द्वारा 1,260 रुपये में टीका लगाया गया था। हालांकि, जब उन्हें टीकाकरण को लेकर संदेह हुआ तो उन्होंने पुलिस में शिकायत दर्ज कराई।

बीएमसी अब टीकाकरण के तहत उन्हें दिए गए टीके की प्रामाणिकता को सत्यापित करने के लिए सभी लोगों की मैडिकल जांच करेगी। जिन लोगों को वास्तविक वैक्सीन मिली है, उनको दूसरी खुराक के लिए 84 दिन इंतजार करना होगा। जिनको फर्जी वैक्सीन दी गई है, उनकी पूरी तरह से मेडिकल जांच के बाद ही उन्हें वैक्सीन की नई खुराक देने का फैसला किया जाएगा।

स्वास्थ्य मंत्री राजेश टोपे का कहना है कि वे सभी 2,680 लोगों का एंटीबॉडी परीक्षण कराने के बारे में सोच रहे हैं। उसके बाद, ही उचित टीकाकरण की योजना बनाएंगे और केंद्र सरकार के साथ इस मामले पर चर्चा कर उन्हें को-विन पर पंजीकृत करेंगे।

रुपये के अब तक के सबसे निचले स्तर पर गिरने पर केटीआर ने पीएम के खिलाफ खोला मोर्चा

हैदराबाद: भारतीय रुपया शुक्रवार को सर्वकालिक निचले स्तर पर जाने के साथ ही तेलंगाना राष्ट्र समिति (टीआरएस) के कार्यकारी अध्यक्ष के.टी. रामाराव ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के पुराने ट्वीट्स के...

संयुक्त राज्य अमेरिका के 10 दिवसीय दौर पर जयशंकर, जानिए पूरा कार्यक्रम

वाशिंगटन : विदेश मंत्री एस. जयशंकर रविवार को संयुक्त राज्य अमेरिका के अपने 10 दिवसीय दौरे की शुरूआत कर रहे हैं, जो संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद की रुकी हुई सुधार...

भारत-पाकिस्तान की ‘बैकचैनल’ वार्ता खत्म हो गई : रिपोर्ट

इस्लामाबाद : पाकिस्तान और भारत के बीच बैकचैनल वार्ता समाप्त हो गई है, क्योंकि दोनों पक्षों ने उन कदमों पर सहमत होने के लिए संघर्ष किया है जो संबंधों में...

भारतीय समकक्ष को चीनी राष्ट्रपति के संदेश के बाद पिघलेगी रिश्ते की बर्फ

बीजिंग : भारत की पंद्रहवीं राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू शपथ ग्रहण के अवसर पर दुनियाभर के राजनेताओं से बधाई और शुभकामना संदेश मिलना कूटनीतिक शिष्टाचार है। जिस वनवासी समुदाय को दुनिया...

पीओके में बड़े पैमाने पर विरोध प्रदर्शन

पुंछ : पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर (पीओके) में अविश्वसनीय रूप से उच्च मुद्रास्फीति और मानवाधिकारों के मुद्दों के खिलाफ बड़े पैमाने पर विरोध प्रदर्शन हो रहे हैं और प्रदर्शनकारियों...

बुद्धा एयर के अधिकारियों ने अयोध्या से जनकपुर के बीच उड़ान सेवा शुरू करने की जताई इच्छा

लखनऊ, 14 मई (आईएएनएस)| नेपाल की विमानन कंपनी बुद्धा एयर प्राइवेट लिमिटेड के प्रबंध निदेशक विरेन्द्र बहादुर बस्नेत की अगुआई में अधिकारियों के एक प्रतिनिधिमंडल ने शनिवार को लोकभवन में...

व्हाइट हाउस की संचार निदेशक कोरोना पॉजिटिव

वाशिंगटन:व्हाइट हाउस की संचार निदेशक केट बेडिंगफील्ड कोरोना पॉजिटिव हो गई हैं। बेडिंगफील्ड 40 साल की हैं। उन्होंने ट्वीट किया कि उन्होंने बुधवार को अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन को एन...

यूजीसी का ट्विटर हैंडल हैक होने पर प्राथमिकी दर्ज

नई दिल्ली: दिल्ली पुलिस के स्पेशल सेल ने विश्वविद्यालय अनुदान आयोग के आधिकारिक ट्विटर हैंडल को हैक करने के मामले में प्राथमिकी दर्ज की है। आईएएनएस को मिली प्राथमिकी की...

यूक्रेन में फसे छात्र छात्राओं को वापस लाने की मुहीम, प्रभारी मुख्य सचिव राधा रतूड़ी ने दिए यह बड़े निर्देश

देहरादून: प्रभारी मुख्य सचिव राधा रतूड़ी ने सचिवालय में वीडियो कांफ्रेंस के माध्यम से सभी जिलाधिकारियों को निर्देश दिये कि यूक्रेन में उत्तराखण्ड के जो छात्र एवं अन्य नागरिक हैं,...

वीके सिंह पोलैंड-यूक्रेन सीमा पर फंसे भारतीय छात्रों से मिले

नई दिल्ली:केंद्रीय मंत्री जनरल (सेवानिवृत्त) वी.के. सिंह ने बुधवार को पोलैंड-यूक्रेन सीमा पर बुडोमिर्ज का दौरा किया, जहां उन्होंने फंसे हुए भारतीय छात्रों से मुलाकात की और उन्हें भोजन और...

लगभग 17,000 भारतीय नागरिक यूक्रेन सीमा छोड़ चुके हैं : विदेश मंत्रालय

नई दिल्ली: यूक्रेन में भारतीय दूतावास द्वारा एडवाइजरी जारी किए जाने के बाद से लगभग 17,000 भारतीय नागरिक युद्धग्रस्त यूक्रेन को उसकी विभिन्न सीमाओं के रास्ते छोड़ चुके हैं। विदेश...

बेलारूस के राष्ट्रपति ने रूस के अगले हमले के दिये संकेत, मोलडोवा होगा अगला शिकार

नई दिल्ली: बेलारूस के राष्ट्रपति एलेक्जेंडर लुकाशेंको ने बुधवार को भूल से यह खुलासा कर दिया कि रूस यूक्रेन के बाद मोलडोवा पर हमला करने की योजना बना रहा है।...

admin

Read Previous

भागवत के सकारात्मक बयान के बाद सूरजपाल अम्मू का ज़हरीला भाषण

Read Next

शास्त्री को हटाने का कोई कारण नहीं : कपिल

Leave a Reply

Your email address will not be published.

WP2Social Auto Publish Powered By : XYZScripts.com