ईंधन उपभोक्ताओं को मिली राहत, पेट्रोल-डीजल के दामों में पूरे सप्ताह कोई वृद्धि नहीं

नई दिल्ली: तेल विपणन कंपनियों (ओएमसी) ने लगातार सात दिनों तक ईंधन की कीमतों में बढ़ोतरी को रोका हुआ है, जो हफ्तों में सबसे लंबी अवधि है। पिछले कुछ दिनों से कच्चे तेल में थोड़ी मजबूती आई है और इससे तेल विपणन कंपनियों द्वारा कीमतों में कटौती को रोका जा सकता है।

शनिवार को कीमतों में कोई बदलाव नहीं होने से राष्ट्रीय राजधानी में पेट्रोल 101.84 रुपये प्रति लीटर पर बिक रहा है, जबकि डीजल 89.87 रुपये प्रति लीटर पर अपरिवर्तित है।

रविवार से पेट्रोल पंप की कीमत स्थिर है। पिछली बार 17 जुलाई को पेट्रोल में 30 पैसे प्रति लीटर की बढ़ोतरी हुई थी, जबकि डीजल की कीमतों में कोई बदलाव नहीं हुआ।

ईंधन की कीमतों में वृद्धि में ठहराव का एक मुख्य कारण वैश्विक तेल की कीमतों में 10 प्रतिशत से अधिक की गिरावट है, जिसमें बेंचमार्क क्रूड कुछ ही सप्ताह पहले 77 डॉलर प्रति बैरल के उच्च स्तर से 69 डॉलर प्रति बैरल पर आ गया है।

मजबूत मांग अनुमानों पर यह फिर से बढ़कर 74 डॉलर प्रति बैरल हो गया था।

ओपेक के कच्चे उत्पादन को बढ़ाने के लिए एक समझौते के साथ ही तेल की कीमतें नरम रहने की उम्मीद है। यह लंबे अंतराल के बाद भारत में ईंधन की कीमतों में वास्तव में गिरावट का रास्ता बना सकता है।

मुंबई में, जहां पेट्रोल की कीमतें 29 मई को पहली बार 100 रुपये का आंकड़ा पार कर गईं, ईंधन की कीमत 107.83 रुपये प्रति लीटर है। शहर में डीजल की कीमत भी 97.45 रुपये है, जो महानगरों में सबसे ज्यादा है।

सभी महानगरों में पेट्रोल की कीमतें अब 100 रुपये प्रति लीटर के आंकड़े को पार कर गई हैं।
–आईएएनएस

अडानी समूह ने हिंडनबर्ग के निराधार आरोपों पर विस्तृत प्रतिक्रिया दी

नई दिल्ली : अडानी समूह ने रविवार को हिंडनबर्ग रिसर्च द्वारा फैलाए गए बेबुनियाद आरोपों और भ्रामक आख्यानों का 400 से अधिक पन्नों के जवाब में प्रासंगिक दस्तावेजों के साथ...

अर्थव्यवस्था में सुधार के बावजूद अमेरिकी तकनीकी दिग्गज कर रहे हैं छंटनी

वाशिंगटन : कोविड-19 से प्रभावित हुई अर्थव्यवस्था में सुधार के बावजूद अमेरिका स्थिति बड़ी तकनीकी कंपनियों में कर्मचारियों की छंटनी का क्रम जारी है। गूगल के सीईओ सुंदर पिचाई ने...

शॉर्ट सेलिंग रिपोर्ट से बाजार में हलचल, एसबीआई ने किया एक्सपोजर का बचाव

मुंबई : भारत के सबसे बड़े ऋणदाता भारतीय स्टेट बैंक (एसबीआई) ने शुक्रवार को कहा कि अडानी समूह के लिए उसका एक्सपोजर भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) के बड़े एक्सपोजर फ्रेमवर्क...

गुजरात से बेहतरीन बना है गोमती रिवर फ्रंट, भाजपा ने चिढ़कर किया बर्बाद – अखिलेश

लखनऊ:समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव लखनऊ स्थित गोमती रिवर फ्रन्ट पहुंचे। इस दौरान उन्होंने कहा कि गोमती रिवर फ्रन्ट गुजरात के साबरमती नदी पर बनाए गए रिवर फ्रन्ट...

व्यावसायिक फूलों की खेती को बढ़ावा देने के लिए 39 करोड़ रुपये की परियोजना को मंजूरी

श्रीनगर:जम्मू और कश्मीर सरकार ने फूलों को बढ़ावा देने के लिए केंद्र शासित प्रदेश में विभिन्न कृषि-जलवायु और पारिस्थितिक स्थितियों को ध्यान में रखते हुए फूलों की खेती की विशाल...

पहले कोविड, अब छंटनी : जबरदस्त तनाव, चिंता से गुजर रहे भारतीय पेशेवर

नई दिल्ली : बढ़ती छंटनी के बीच विभिन्न कंपनियों से आने वाले रोगियों की संख्या में वृद्धि हुई है - कार्यालय जाने वाले और घर से काम करने वाले दोनों...

माइक्रोसॉफ्ट छंटनी सबसे अधिक हार्डवेयर वर्टिकल को प्रभावित करेगी

सैन फ्रांसिस्को: माइक्रोसॉफ्ट छंटनी विशेष रूप से एक्सबॉक्स गेमिंग कंसोल, पीसी एक्सेसरीज, सरफेस लैपटॉप, एआर होलोलेन्स हेडसेट और अन्य जैसे हार्डवेयर वर्टिकल को प्रभावित करेगी, क्योंकि यह 'अपने हार्डवेयर पोर्टफोलियो...

क्रिप्टोकरेंसी ब्रोकर जेनेसिस दिवालिया घोषित होने के लिए दे सकती है आवेदन

लंदन:पॉपुलर क्रिप्टोकरेंसी ब्रोकर जेनेसिस दिवालिया घोषित होने के आवेदन कर सकती हैं। यह जानकारी अंदरूनी सूत्रों ने दी है। डेली मेल के मुताबिक, सैम बैंकमैन-फ्राइड के एफटीएक्स के बाद यह...

केंद्र ने सुप्रीम कोर्ट से कहा, ”सेवा विवाद मामले को बड़ी बेंच को किया जाए रेफर”

नई दिल्ली: केंद्र ने बुधवार को सुप्रीम कोर्ट से प्रशासनिक सेवाओं पर नियंत्रण के मुद्दे पर जीएनसीटीडी बनाम भारत संघ मामले में 2018 के फैसले को बड़ी बेंच को भेजने...

एफआरएआई ने केंद्र से की दैनिक वस्तुओं पर करों में कटौती की अपील

नई दिल्ली: 'मेक इन इंडिया' उत्पादों पर उच्च कर देश भर में तस्करी और नकली उत्पादों की भारी मांग पैदा कर रहे हैं और लाखों छोटे और गरीब दुकानदारों को...

बाबर आजम के निजी वीडियो सोशल मीडिया पर लीक, यूजर्स ने दी प्रतिक्रिया

नई दिल्ली: पाकिस्तान के कप्तान बाबर आजम खराब फॉर्म के साथ एक विवाद में पड़ गए हैं, क्योंकि उनके कथित निजी वीडियो और फोटो सोशल मीडिया पर वायरल हो गए...

बिहार में रामचरितमानस को लेकर अब सत्ताधारी महागठबंधन में ‘महाभारत’

पटना: हिंदू धर्मावलंबियों के पवित्र ग्रंथ श्रीरामचरित मानस को लेकर बिहार के शिक्षा मंत्री चंद्रशेखर द्वारा दिए गए एक बयान के बाद बिहार की सियासत में जारी सियासी महाभारत समाप्त...

editors

Read Previous

आरआईएल के वित्त वर्ष 2022 की पहली तिमाही के शुद्ध लाभ में 66 प्रतिशत की बढ़ोतरी

Read Next

बिहार : दीघा-सोनपुर रेलपथ के दोहरीकरण पर अब तक 88 .27 करोड़ रुपये खर्च

Leave a Reply

Your email address will not be published.

WP2Social Auto Publish Powered By : XYZScripts.com