रामनगरी अयोध्या में आत्मनिर्भता की नजीर बनेगी कान्हा गौशाला

अयोध्या: राम की नगरी (अयोध्या) में कान्हा की गौशाला आकर ले रही है। तकरीबन 60 फीसद से अधिक काम हो चुका है। योगी सरकार का प्रयास है कि यह गौशाला प्रदेश के लिए मॉडल बने। इसके निर्माण पर करीब आठ करोड़ रुपये की लागत आनी है। अक्टूबर 2019 में सरकार की ओर से इसकी मंजूरी भी मिल चुकी है। साथ ही पहली, दूसरी और तीसरी किश्त के रूप में धनराशि भी स्वीकृति हो चुकी है। कार्य पूर्ण होने पर इस गोशाला में करीब 15 हजार गोवंश रखे जा सकेंगे। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का प्रयास है कि यह गोशाला भविष्य में आत्मनिर्भरता की नजीर बने। इसके लिए गोवंश के गोबर और गोमूत्र के सहउत्पाद जैविक खाद, साबुन, अगरबत्ती, दवाएं, जैविक कीटनाशक आदि बनाकर उनकी बिक्री की जाएगी। सरकार इसकी ब्रांडिग में मदद करेगी।

आवारा कुत्ते और कुछ ऐसे ही जानवर जिनकी बढ़ती आबादी भविष्य में बड़ी संख्या में अयोध्या आने वाले देशी -विदेशी पर्यटकों के लिए समस्या न बनें, इसके लिए सरकार ने इनके बर्थ कंट्रोल (प्रजनन नियंत्रण) के लिए भी करीब 3.20 करोड़ की योजना तैयार की है।

अयोध्या के नगर आयुक्त विषाल सिंह कहते हैं, “बैसिंह स्थित नगर निगम का गोआश्रय स्थल अब कान्हा गौशाला के रूप में आकार ले रहा है। यह करीब 8 करोड़ की लागत से तैयार किया जा रहा है। इसे मॉडल के रूप में विकसित किया जा रहा है। इसका 60 प्रतिषत काम पूरा हो चुका है। इसमें रोजगार पहले से लोगों को मिल रहे हैं। इसके बनने के बाद बहुत सारे रोजगार अवसर उत्पन्न होंगे। वर्तमान में यहां करीब 1200 सौ गाय रहती है। इसे कान्हा उपवन के नाम पर विकसित किया जा रहा है।”

प्रस्ताव के आधार पर कान्हा गोशाला में बेसहारा गोवंश संरक्षित किए जाने का लक्ष्य प्रस्तावित है। पशु चिकित्सालय, बीमार एवं संक्रमित पशुओं के उपचार व्यवस्था और कांजी हाउस की भी व्यवस्था होगी। इसके अलावा कर्मचारियों के लिए कार्यालय के साथ उनके रूकने व्यवस्था निगरानी के लिए वॉच टावर भी बनना है।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का गोप्रेम जगजाहिर है। गोवंश के संरक्षण व संवर्धन से उनका आत्मिक जुड़ाव है। वह जिस विष्व प्रसिद्ध गोरक्षपीठ के कर्ताधर्ता हैं, उसकी ख्याति में गोसेवा भी प्रमुख स्तंभ है। गोरखनाथ मंदिर की गोशाला में देसी गोवंश की कई नस्लें देश में प्रतिष्ठित हैं। मुख्यमंत्री योगी जब भी गोरखनाथ मंदिर में होते हैं, गोसेवा से ही उनकी दिनचर्या प्रारंभ होती है। कितनी भी व्यस्तता हो, गोवंश को गुड़ चना खिलाना, उन्हें नाम से पुकारकर अपने पास बुलाकर दुलारना वह कभी नहीं भूलते।

–आईएएनएस

हरियाणा जिला परिषद चुनाव में बीजेपी का खराब प्रदर्शन

चंडीगढ़ : हरियाणा में हाल ही में संपन्न जिला परिषद के चुनाव में सत्तारूढ़ भाजपा को हार का सामना करना पड़ा। उसे सात जिलों में जिला परिषद की 102 सीटों...

दिल्ली और चंडीगढ़ में अपने देश का वीजा प्रदान करने की प्रकिया को कनाडा बनाएगा और सुव्यवस्थित

नई दिल्ली : कनाडा दिल्ली व चंडीगढ़ में अपने देश के लिए वीजा प्रदान करने की प्रक्रिया को और मजबूत बनाएगा। कनाडा में काम करने और अध्ययन करने के इच्छुक...

भारत को सालाना 1,000 से अधिक पायलटों की जरूरत है, पर ट्रेनिंग इंफ्रास्ट्रक्चर की है कमी

नई दिल्ली : उड्डयन क्षेत्र में विकास को देखते हुए उम्मीद है कि भारत को अगले पांच वर्षो में प्रतिवर्ष 1,000 से अधिक पायलटों की जरूरत होगी। हालांकि, विशेषज्ञों ने...

‘विधानसभा से इस्तीफे की घोषणा नए सैन्य नेतृत्व से जुड़ने का इमरान खान का प्रयास’

इस्लामाबाद : पीटीआई के अध्यक्ष इमरान खान की विधानसभा छोड़ने की अस्पष्ट धमकी वास्तव में राजनीतिक रूप से प्रासंगिक बने रहने का एक प्रयास है और नए सैन्य नेतृत्व को...

चीन में कोविड प्रतिबंधों के खिलाफ व्यापक विरोध, शी जिनपिंग से इस्तीफे की मांग

बीजिंग : एक अपार्टमेंट ब्लॉक में आग लगने के बाद चीन में कोविड प्रतिबंधों के खिलाफ विरोध तेज होता दिख रहा है। स्थानीय मीडिया ने यह जानकारी दी। पीड़ितों को...

बंगाल के नए राज्यपाल ने ममता के साथ संघर्ष विराम की जगाई उम्मीद

कोलकाता : राज्य के नवनियुक्त राज्यपाल सी.वी. आनंद बोस के पदग्रहण के साथ ही राजनीतिक गलियारे में यह सवाल होने लगा है कि क्या गवर्नर हाउस-राज्य सचिवालय के झगड़े का...

यूपी व गुजरात में लव जिहाद कानून समान, लेकिन गुजरात में अधिक कठोर दंड

अहमदाबाद : गुजरात फ्रीडम ऑफ रिलिजन एक्ट, 2003 'लव जिहाद' या अंतरधार्मिक विवाह और जबरन विवाह की तुलना में धर्मांतरण को रोकने के बारे में अधिक था। लेकिन उत्तरप्रदेश सरकार...

इस स्कूल में चलता है चिल्ड्रेन बैंक, बच्चों को पठन सामग्रियों के लिए मिलता है ऋण

गया (बिहार) : ऐसे तो आपने बैंक कई देखे और उसके बारे में सुने होंगे, लेकिन बिहार में एक ऐसा भी बैंक है जो न केवल स्कूल में चलता है...

हिमालयन याक को एफएसएसएआई से मिला खाद्य पशु टैग

ईटानगर:केंद्रीय स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय के तहत आने वाले भारतीय खाद्य सुरक्षा और मानक प्राधिकरण (एफएसएसएआई) से हिमालयन याक को खाद्य पशु टैग मिला है। शीर्ष अधिकारियों ने शनिवार...

पांच साल में दस गुना बढ़ गयी वाराणसी में पर्यटकों की संख्या

वाराणसी:प्रधानमंत्री मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी में पिछले पांच सालों में पर्यटकों की संख्या तकरीबन दस गुना बढ़ गई है। पर्यटन विभाग की ओर से जनवरी 2017 से लेकर जुलाई...

मुकदमेबाजी प्रक्रिया को सरल बनाना, नागरिक केंद्रित बनाना महत्वपूर्ण: सीजेआई

नई दिल्ली: भारत के प्रधान न्यायाधीश डी.वाई. चंद्रचूड़ ने शनिवार को कहा कि मुकदमेबाजी प्रक्रिया को सरल बनाना और इसे 'नागरिक केंद्रित' बनाना महत्वपूर्ण है, न्यायाधीशों को न्याय, समानता और...

राजस्थान की एक सरपंच लड़कियों के कल्याण के लिए अपनी सैलरी दान करती है

जयपुर: राजस्थान की एक महिला सरपंच अपनी निजी सुख-सुविधाओं को दरकिनार कर लड़कियों को पढ़ाई और खेल में उत्कृष्टता हासिल करने में मदद कर उन्हें सशक्त बनाने के मिशन पर...

editors

Read Previous

2022 के यूपी चुनाव में नए चेहरे अभियान का नेतृत्व करेंगे

Read Next

आरएसएस समर्थित शोध निकाय ने संभावित तीसरी कोविड लहर से बचने के उपाय सुझाए

Leave a Reply

Your email address will not be published.

WP2Social Auto Publish Powered By : XYZScripts.com