नार्थ ईस्ट और साउथ इंडिया में बढ़ी बिहार के लीची के पौधों की मांग

मुज़फ्फरपुर, 4 अगस्त (आईएएनएस)| बिहार के मुज़फ्फरपुर की मिट्ठी और रसीली शाही लीची की पहचान देश और विदेशों में भी है, लेकिन अब नार्थ ईस्ट और साउथ इंडिया के लोगों को भी इसका स्वाद पसंद आ रहा है। तभी तो यहां की लीची के पौघों की मांग वहां होने लगी है। नार्थ ईस्ट और साउथ इंडिया के राज्यों में लीची के पौधे लगाने की कवायद शुरू कर दी गयी है। इन राज्यों में यहां की लीची के पौधों की मांग अचानक से बढ़ गयी है। इन राज्यों में भी अब शाही लीची की बागवानी शुरू कर दी गयी है।

मुजफ्फरपुर स्थित राष्ट्रीय लीची अनुसन्धान केंद्र में इस साल इन क्षेत्रों के राज्यों से लगातार पौधों की मांग आ रही है और लोग ले भी जा रहे हैें।

लीची अनुसंधान केंद्र के निदेशक डॉ. शेषधर पांडेय ने आईएएनएस को बताया, “लीची के पेड़ में कलम (मिट्टी लगाकर बांधना) बांधा जाता है। करीब 40 दिनों में इसमे जड़ आ जाता है। उसके बाद इसे काटकर पौधा का आकार दिया जाता है। इसके बाद उसकी आपूर्ति संबंधित राज्यों में की जाएगी।”

उन्होंने कहा कि ऐसा नहीं कि पौधे तैयार करने को काम कोई यहां पहली बार हो रहा है। प्रत्येक साल इस अनुसंधान केंद्र में करीब 60 हजार पौधे तैयार किये जाते हैं, जिसमे से 40 हजार पौधा काम में आता है। अन्य पौधे कुछ कारणों से खराब हो जाते हैं। तैयार पौधों को देश के विभिन्न हिस्सों में आपूर्ति की जाती है। मुज़फ्फरपुर के किसान भी यहां से पौधे खरीदकर ले जाते हैं।

डॉ. पांडेय ने बताया, “जब पेड़ से जड़ वाली डाली को काटा जाता है तो उसके बाद इसे वर्मी कम्पोस्ट से तैयार किए गए घोल में रखा जाता है। फिर घोल में भींगे हुए डाली को सूखे हुए वर्मी कम्पोस्ट में रखा जाता है। इसके बाद इसे एक प्लास्टिक में लपेट दिया जाता है। एक माह तक यह वहीं पर रहता है।”

निदेशक बताते हैं, “पौधे तैयार करने का 15 जून के बाद का समय सबसे उत्तम होता है, क्योंकि अभी बारिश होती है। इस समय पेड़ में कलम बांधने पर जड़ तुरन्त निकल जाता है और 40 दिन बाद इसकी कटाई कर ली जाती है। यह प्रक्रिया अगस्त तक चलती है। ”

पांडेय भी मानते हैं कि हाल के दिनों में यहां की लीची की मांग अन्य राज्यों में बढ़ी है। उन्होंने कहा कि अन्य राज्यों के लोग यहां प्रशिक्षण भी लेते हैं और लगातार संपर्क में बने रहते हैं।

उन्होंने कहा, “उत्तर प्रदेश, उतराखंड, मध्य प्रदेश, केरल, तमिलनाडु, पंजाब और हरियाणा से भी यहां की लीची की मांग आई है। यह कोई एक समय का काम नहीं है, यह एक प्रक्रिया है जो जारी रहती है। मांग आती रहती और पौधों की आपूर्ति होती रहती है।”

उल्लेखनीय है कि बिहार की शाही लीची देश और विदेशों में भी चर्चित है. इस साल लीची ब्रिटेन तक पहुंच चुकी है। शाही लीची को जीआई टैग मिल चुका है। बिहार के मुजफ्फरपुर, वैशाली, समस्तीपुर, पूर्वी चंपारण, बेगूसराय सहित कई जिलों में शाही लीची के बाग हैं, लेकिन लीची का सबसे अधिक उत्पादन मुजफ्फरपुर में होता है।

–आईएनएस

सीएम ममता ने भाजपा पर राज्य में फर्जी वीडियो प्रसारित करने का आरोप लगाया

कोलकाता । पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने मंगलवार को उत्तर बंगाल के जलपाईगुड़ी में एक चुनावी रैली को संबोधित किया। इस दौरान उन्होंने भाजपा पर राज्य में फर्जी...

भाजपा सरकार के बनने से पहले पूरा प्रदेश दंगाईयों के हवाले था : भूपेंद्र चौधरी

हाथरस । उत्तर प्रदेश भाजपा के अध्यक्ष चौधरी भूपेंद्र सिंह हाथरस से पार्टी प्रत्याशी अनूप वाल्मीकि के नामांकन में उपस्थित हुए। इस दौरान उन्होंने विपक्ष पर जमकर हमला बोला। उन्होंने...

यूपीएससी की सिविल सर्विस परीक्षा का रिजल्ट जारी, आदित्य श्रीवास्तव बने टॉपर

नई दिल्‍ली । संघ लोक सेवा आयोग (यूपीएससी) द्वारा ली जाने वाली देश की सबसे बड़ी सिविल सर्विस परीक्षा का फाइनल रिजल्ट आ गया है। सिविल सर्विस परीक्षा में इस...

कांकेर में सुरक्षा बलों से मुठभेड़ में 10 से ज्यादा नक्सलियों के मारे जाने की खबर

कांकेर । छत्तीसगढ़ के कांकेर में लोकसभा चुनाव के पहले चरण के मतदान से पहले सुरक्षा बलों को बड़ी सफलता मिली है। मंगलवार दोपहर बाद सुरक्षा बलों की नक्सलियों से...

पतंजलि के भ्रामक विज्ञापन: बाबा रामदेव व आचार्य बालकृष्ण ने सुप्रीम कोर्ट के समक्ष मांगी मौखिक माफी

नई दिल्ली । बाबा रामदेव और पतंजलि आयुर्वेद लिमिटेड के प्रबंध निदेशक आचार्य बालकृष्ण ने मंगलवार को सुप्रीम कोर्ट के समक्ष मौखिक रूप से बिना शर्त माफी मांगी। पीठ ने...

फेयरनेस क्रीम से देश में बढ़ रही किडनी की समस्या, एक अध्ययन में खुलासा

नई दिल्ली । एक नए अध्ययन के अनुसार, त्वचा की रंगत निखारने वाली क्रीमों के इस्तेमाल से भारत में किडनी की समस्याएं बढ़ रही हैं। गोरी त्वचा को लेकर समाज...

घोषणा पत्र में यूसीसी को शामिल करने पर सीएम धामी ने जताया पीएम मोदी का आभार

देहरादून/खटीमा । लोकसभा चुनाव 2024 के लिए रविवार को डॉ. भीमराव अंबेडकर की जयंती पर बीजेपी ने अपना घोषणा पत्र जारी किया। इसमें बीजेपी ने यूसीसी को शामिल किया है,...

‘पहली और आखिरी चेतावनी’: बिश्नोई गैंग ने ली सलमान खान के घर पर फायरिंग की जिम्मेदारी

मुंबई । जेल में बंद गैंगस्टर लॉरेंस बिश्नोई के माफिया संगठन ने रविवार को सुबह होने से ठीक पहले बॉलीवुड मेगास्टार सलमान खान के घर पर गोलीबारी की जिम्मेदारी ली...

युवा भारत की आकांक्षाओं का प्रतिबिंब है भाजपा का संकल्प पत्र : प्रधानमंत्री मोदी

नई दिल्ली । लोकसभा चुनाव-2024 के लिए भाजपा ने अपना चुनाव घोषणा पत्र (संकल्प पत्र - लोकसभा 2024 ) रविवार को जारी कर दिया। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, भाजपा के राष्ट्रीय...

भाजपा के संकल्प पत्र पर सीएम योगी बोले, देश का एंबिशन ही मोदी का मिशन है

लखनऊ । लोकसभा चुनाव 2024 के लिए भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने रविवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की मौजदूगी में अपना 'संकल्प पत्र' जारी किया। पार्टी ने अपने संकल्प पत्र...

गिरफ्तारी के खिलाफ केजरीवाल की याचिका पर सुप्रीम कोर्ट में सोमवार को सुनवाई

नई दिल्ली । दिल्ली शराब नीति मामले में ईडी द्वारा मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल की गिरफ्तारी और रिमांड के खिलाफ याचिका पर सुप्रीम कोर्ट 15 अप्रैल यानी सोमवार को सुनवाई करेगा।...

राजद के एक करोड़ नौकरी देने के वादे पर भाजपा सहित एनडीए के घटक दलों ने उड़ाई खिल्ली

पटना । राष्ट्रीय जनता दल के घोषणापत्र पर भाजपा सहित एनडीए के घटक दलों ने पलटवार किया है। भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष सम्राट चौधरी ने राजद के घोषणा पत्र पर...

editors

Read Previous

काबुल हवाईअड्डे के पास फिर विस्फोट, रॉकेट हमले का अंदेशा

Read Next

अफगानिस्तान क्रिकेट बोर्ड महिलाओं को क्रिकेट में शामिल करने पर कर रहा विचार

Leave a Reply

Your email address will not be published.

WP2Social Auto Publish Powered By : XYZScripts.com