फेफड़ों की बीमारी में अधिक जोखिम बढ़ा सकता है जलवायु परिवर्तन : रिपोर्ट

पेरिस : एक रिपोर्ट में यह बात सामने आई है कि अस्थमा और क्रॉनिक ऑब्सट्रक्टिव पल्मोनरी डिजीज (सीओपीडी) जैसी फेफड़ों की समस्याओं से पीड़ित बच्चों और वयस्कों को जलवायु परिवर्तन से और अधिक खतरा हो सकता है।

यूरोपियन रेस्पिरेटरी जर्नल में प्रकाशित रिपोर्ट इस बात का सबूत पेश करती है कि कैसे जलवायु परिवर्तन के प्रभाव जैसे हीटवेव, जंगल की आग और बाढ़, दुनिया भर के लाखों लोगों, विशेषकर शिशुओं, छोटे बच्चों और बुजुर्गों के लिए सांस लेने में कठिनाई को और बढ़ा देंगे।

यूरोपीय रेस्पिरेटरी सोसाइटी के पर्यावरण और स्वास्थ्य समिति के अध्यक्ष प्रोफेसर जोराना जोवानोविक एंडर्सन ने कहा, “जलवायु परिवर्तन हर किसी के स्वास्थ्य को प्रभावित करता है, लेकिन इससे श्वसन रोगी सबसे अधिक असुरक्षित हैं। ये वे लोग हैं जो पहले से ही सांस लेने में कठिनाई का अनुभव करते हैं, और वे हमारी बदलती जलवायु के प्रति कहीं अधिक संवेदनशील हैं। उनके लिए जलवायु परिवर्तन खतरनाक साबित होगा।”

“वायु प्रदूषण पहले से ही हमारे फेफड़ों को नुकसान पहुंचा रहा है। अब जलवायु परिवर्तन का असर सांस के मरीजों के लिए बड़ा खतरा बनता जा रहा है।”

रिपोर्ट के अनुसार इन प्रभावों में वायुजनित एलर्जी में वृद्धि शामिल है। इनमें लू, सूखा और जंगल की आग जैसी घटनाएं भी शामिल हैं, जिससे अत्यधिक वायु प्रदूषण और धूल भरी आंधियां होती हैं। साथ ही भारी वर्षा और बाढ़ से घर में उच्च आर्द्रता और फफूंदी भी रोगियों के लिए खतरनाक है।

यह रिपोर्ट विशेष रूप से शिशुओं और बच्चों के लिए अतिरिक्त जोखिम पर प्रकाश डालती है, जिनके फेफड़े अभी भी विकसित हो रहे हैं।

इस वर्ष दुनिया भर में उच्च तापमान के नए रिकॉर्ड बने हैं। यूरोप में लू, विनाशकारी जंगल की आग, बारिश, तूफान और बाढ़ का अनुभव हुआ है।

प्रोफेसर एंडरसन ने कहा, “श्वसन डॉक्टरों और नर्सों के रूप में हमें इन नए जोखिमों के बारे में जागरूक रहने और मरीजों की पीड़ा को कम करने में मदद करने की जरूरत है।”

“हमें अपने मरीजों को जोखिमों के बारे में भी समझाने की जरूरत है ताकि वे जलवायु परिवर्तन के प्रतिकूल प्रभावों से खुद को बचा सकें।”

प्रोफेसर एंडरसन ने कहा कि मौजूदा सीमाएं पुरानी हो चुकी हैं और दुनिया भर के लोगों के स्वास्थ्य की रक्षा करने में विफल हैं।

उन्होंने स्वच्छ हवा और बेहतर स्वास्थ्य सुनिश्चित करने के लिए महत्वाकांक्षी नए वायु गुणवत्ता मानकों का आह्वान किया।

प्रोफेसर एंडरसन ने कहा,“हम सभी को स्वच्छ, सुरक्षित हवा में सांस लेने की जरूरत है। इसका मतलब है कि हमें अपने ग्रह और हमारे स्वास्थ्य पर जलवायु परिवर्तन के प्रभावों को कम करने के लिए नीति निर्माताओं से कार्रवाई की आवश्यकता है।”

आईएएनएस

केरल हाईकोर्ट ने महिला मजिस्ट्रेट के साथ दुर्व्यवहार करने पर 29 वकीलों के खिलाफ अवमानना का मामला किया शुरू

कोच्चि । केरल हाईकोर्ट ने कड़ा रुख अपनाते हुए हाल ही में कोट्टायम में एक महिला मजिस्ट्रेट की अदालत के समक्ष कार्यवाही रोकने वाले विरोध प्रदर्शन में कथित रूप से...

क्या ‘गुप्त एआई प्रोजेक्ट’ ने ऑल्टमैन की बढ़ाई थी मुश्किल…?

नई दिल्ली । ओपनएआई की 'पराजय' ने एक बात साबित कर दी है, एआई उद्योग को विनियमित और तेज करने की जरूरत है। सैम ऑल्टमैन द्वारा संचालित चैटजीपीटी निर्माता में...

7 साल बाद पिता से मिले एलन मस्क, रो पड़ा परिवार

सैन फ्रांसिस्को । स्पेसएक्स और टेस्ला के सीईओ एलन मस्क ने स्टारशिप रॉकेट के लॉन्च के दौरान सात साल बाद अपने पिता एरोल मस्क से मुलाकात की। एरोल और परिवार...

फेफड़ों के कैंसर के उच्च जोखिम की पहचान करेगा आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस उपकरण : रिसर्च

न्यूयॉर्क । भारतीय मूल के एक शोधकर्ता सहित अन्‍य शोधकर्ताओं द्वारा किए गए शोध में यह बात सामने आई है कि आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस उपकरण चेस्‍ट के एक्स-रे से बिना धूम्रपान...

ईडी ने फेमा उल्लंघन मामले में बायजू रवींद्रन को कारण बताओ नोटिस जारी किया

नई दिल्ली । प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) के निर्णायक प्राधिकरण ने एडटेक फर्म थिंक एंड लर्न प्राइवेट लिमिटेड और बायजू रवींद्रन को 9362.35 करोड़ रुपये की कथित हेराफेरी के मामले में...

मस्क ने एक्स पर नफरत फैलाने वाले विज्ञापनों के दावों को लेकर मीडिया मैटर्स के खिलाफ दायर किया मुकदमा

सैन फ्रांसिस्को । एलन मस्क के एक्स ने कॉन्ट्रैक्ट में हस्तक्षेप, व्यापार उपेक्षा और संभावित आर्थिक लाभ में हस्तक्षेप का आरोप लगाते हुए गैर-लाभकारी मीडिया मैटर्स पर मुकदमा दायर किया...

चीनी कृषि वैज्ञानिकों को मिली बड़ी सफलता, धान की नई किस्म की तैयार

बीजिंग । चीन में कृषि के क्षेत्र में लगातार नए प्रयोग हो रहे हैं, साथ ही तकनीक का भी इस्तेमाल किया जा रहा है। जिसकी कृषि प्रधान देश चीन की...

कांग्रेस में शामिल होने के एक दिन बाद, अभिनेत्री विजयशांति बनीं तेलंगाना चुनाव समन्वयक

नई दिल्ली । तेलंगाना में विधानसभा चुनाव के लिए एक पखवाड़े से भी कम समय बचा है। कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे ने शनिवार को अभिनेता से नेता बनीं विजयशांति को...

भारतीय कला विरासत की अनोखी झांकी लाल किले में

नई दिल्ली । विश्व के प्रसिद्ध "आर्ट बिनाले" की तर्ज़ पर अब देश में पहला "बिनाले "8 दिसम्बर से राजधानी के ऐतिहासिक लाल किले में होगा।31 मार्च तक चलने वाले...

फिलीपींस में 7.2 तीव्रता का भीषण भूकंप

मनीला । दक्षिणी फिलीपींस में शुक्रवार को रिक्टर पैमाने पर 7.2 तीव्रता का जबरदस्त भूकंप आया, हालांकि जानमाल के नुकसान की फिलहाल कोई खबर नहीं है। फिलीपीन इंस्टीट्यूट ऑफ वोल्केनोलॉजी...

फ्रांस ने सीरियाई राष्ट्रपति बशर अल-असद के लिए जारी किया गिरफ्तारी वारंट

पेरिस । सीरियाई राष्ट्रपति बशर अल-असद के लिए फ्रांसीसी सरकार ने युद्धग्रस्त राष्ट्र में नागरिकों के खिलाफ रासायनिक हथियारों के कथित इस्तेमाल के लिए गिरफ्तारी वारंट जारी किया है। यह...

सहारा समूह के संस्थापक सुब्रत रॉय का लंबी बीमारी के बाद 75 साल की उम्र में निधन

मुंबई । सहारा इंडिया परिवार के संस्थापक 'सहाराश्री' सुब्रत रॉय का लंबी बीमारी के बाद दिल का दौरा पड़ने से मंगलवार को निधन हो गया। वह 75 वर्ष के थे।...

admin

Read Previous

जसप्रीत बुमराह को हुआ लड़का, सोशल मीडिया पर खबर साझा की

Read Next

कैंसर के कई रूपों से लड़ने की क्षमता रखता है तंबाकू का पत्ता : शोध

Leave a Reply

Your email address will not be published.

WP2Social Auto Publish Powered By : XYZScripts.com