सच्चर समिति के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट में याचिका : ‘मुसलमान विशेष वर्ग नहीं’

नई दिल्ली, 29 जुलाई (आईएएनएस)| मुस्लिम समुदाय के लिए कल्याणकारी योजनाओं की सिफारिश करने वाली सच्चर समिति की रिपोर्ट को लागू करने के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट में एक याचिका दायर की गई है। इसमें कहा गया है कि मुसलमानों को विशेष वर्ग नहीं माना जा सकता। सनातन वैदिक धर्म के अनुयायी कहे जाने वाले याचिकाकर्ताओं ने कहा कि वे मुसलमानों की सामाजिक स्थिति पर रिपोर्ट तैयार करने के लिए न्यायमूर्ति राजेंद्र सच्चर (सेवानिवृत्त) की अध्यक्षता में एक उच्चस्तरीय समिति का गठन करने के लिए प्रधानमंत्री कार्यालय द्वारा 2005 में अधिसूचना के खिलाफ हैं। मुस्लिम समुदाय की आर्थिक और शैक्षिक स्थिति जानने के बहाने कानून के शासन को किसी भी धर्म या धार्मिक समूह के प्रति झुकाव नहीं रखना चाहिए।

याचिका में तर्क दिया गया है कि सामाजिक और शैक्षणिक रूप से पिछड़े वर्गों की स्थितियों की जांच के लिए आयोग नियुक्त करने की शक्ति संविधान के अनुच्छेद 340 के तहत राष्ट्रपति के पास है। यह उल्लेख करना प्रासंगिक है कि पूरे मुस्लिम समुदाय की पहचान सामाजिक और शैक्षिक रूप से पिछड़े वर्ग के रूप में नहीं की गई है और इसलिए, मुसलमानों को, एक धार्मिक समुदाय के रूप में, पिछड़े वर्गों के लिए उपलब्ध लाभों के हकदार विशेष वर्ग नहीं माना जा सकता।

इसमें कहा गया है कि अनुसूचित जाति और अनुसूचित जनजाति वर्ग के व्यक्तियों की सामाजिक और आर्थिक स्थिति किसी भी अन्य समुदाय की तुलना में बदतर है, और सरकार उनकी बेहतरी के लिए उचित कदम उठाने में विफल रही है।

याचिकाकर्ताओं ने कहा कि मुस्लिम समुदाय किसी विशेष व्यवहार का हकदार नहीं है, क्योंकि वे कई वर्षो तक शासक रहे हैं और यहां तक कि ब्रिटिश शासन के दौरान भी उन्होंने सत्ता का आनंद लिया और साझा किया।

याचिका में यह भी कहा गया है कि भारत में मुस्लिम शासन काल सबसे लंबे समय तक रहा। इसके बाद ब्रिटिश शासन था, जिसके दौरान कई हिंदुओं को मुस्लिम या ईसाई धर्म अपनाना पड़ा।

याचिका में मांग की गई है कि केंद्र सरकार को 17 नवंबर, 2006 को सौंपी गई सच्चर समिति की रिपोर्ट पर भरोसा न करने और उसे लागू करने से रोकने का निर्देश दिया जाए।

भारतीयों ने कहा, ग्लोबल वामिर्ंग बनेगी महामारी व प्राकृतिक आपदाओं का कारण

नई दिल्ली : अधिकांश भारतीयों का मानना कि है कि ग्लोबल वामिर्ंग देश में अधिक महामारी व प्राकृतिक आपदाओं का कारण बनेगी। भारतीयों का यह विचार विश्व स्वास्थ्य संगठन की...

त्यागी महापंचायत के मंच पर आरोपियों का हुआ सम्मान, 15 दिन का अल्टीमेटम देकर खत्म हुई महापंचायत

नोएडा: श्रीकांत त्यागी के मामले को लेकर नोएडा के सेक्टर 110 स्थित रामलीला मैदान में रविवार को संपन्न हुई त्यागी समाज की महापंचायत में जेल से बाहर आए 6 आरोपियों...

क्या वीआई पि कल्चर ज़िम्मेदार है मथुरा मंदिर में भग्दढ़ का ?

वृन्दावन: पूर्व मंदिर समिति के सदस्य दिनेश गोस्वामी ने कहा कि वीआईपी संस्कृति के कारण शुक्रवार को मथुरा में जन्माष्टमी समारोह के दौरान बांके बिहारी मंदिर में भगदड़ मच गई,...

विश्व स्तर पर यूट्यूब की तुलना में बच्चे, किशोर टिकटॉक पर बिता रहे ज्यादा समय

सैन फ्रांसिस्को: बच्चे और किशोर दुनिया भर में गूगल के स्वामित्व वाले यूट्यूब पर सिर्फ 56 मिनट की तुलना में चीनी शॉर्ट-वीडियो प्लेटफॉर्म टिकटॉक पर रोजाना औसतन 91 मिनट की...

अजमेर के प्रधान मौलवी ने इस्लामिक और मानवता विरोधी नारे की निंदा की 

जयपुर, 10 जुलाई (आईएएनएस)| ईद के मौके पर हाजी सैयद सलमान चिश्ती, गद्दी नशीन-दरगाह अजमेर शरीफ और चिश्ती फाउंडेशन के अध्यक्ष ने रविवार को इस्लामिक विरोधी और मानवता विरोधी नारों...

सेना के जवान ने साइकिल से 36 घंटे में 650 किमी की दूरी की तय, रिकॉर्ड का दावा

बेंगलुरु, 10 जुलाई (आईएएनएस)| सेना के जवान ने 36 घंटे में 650 किलोमीटर की दूरी तय कर सबसे तेज साइकिलिंग करके सोलो (पुरुष) श्रेणी में इंडिया बुक ऑफ रिकॉर्डस में...

राजस्थान सरकार ने 10 साल में 85 बार इंटरनेट बंद किया : डिजिटल इमरजेंसी

जयपुर, 3 जुलाई (आईएएनएस)| पिछले 10 साल में 85 बार इंटरनेट सेवाएं बंद करने को 'राजस्थान में डिजिटल इमरजेंसी' करार दिया जा रहा है। 28 जून को उदयपुर में कन्हैया...

गुजरात के मुसलमानों का बहिष्कार करने की अपील

नई दिल्ली। गुजरात के बनासकांठा जिले के थराड के वाग्सन ग्राम पंचायत ने मुस्लिम हाकरों और व्यापारियों से कोई समान न खरीदने की हिन्दू समाज से अपील की है। इस...

जबलपुर में उग रहा है ढाई लाख रुपए किलो वाला आम

जबलपुर, 29 जून (आईएएनएस)| आम ढाई लाख रुपए किलो वाला, यह सुनकर आपको कुछ अचरज हो सकता है मगर वाकई में मध्यप्रदेश के जबलपुर में एक आम प्रेमी ऐसा आम...

गुजरात में 75 वर्षीय महिला को बेडशीट में लपेटकर अस्पताल ले गया बेटा

अहमदाबाद, 29 जून (आईएएनएस)| गरुड़ेश्वर तालुका के जरवानी गाँव की एक 75 वर्षीय महिला बीमार पड़ गई और उसे इलाज के लिए ले जाना पड़ा। बुढ़ी महिला का बेटा उन्हें...

अपने प्रेमी से शादी करने के लिए ‘लड़की’ बन गई ‘लड़का’

प्रयागराज, 28 जून (आईएएनएस)| कहते हैं, प्यार सब कुछ बदल सकता है, प्यार पहाड़ों को भी हिला सकता है, तो यह सच भी है। एक लड़की ने ऐसा करके दिखाया...

अग्निपथ: सरकार की सख्ती के बीच युवाओं का आन्दोलन जारी रखने का फैसला

जहाँ एक तरफ केंद्र सरकार की “अग्निपथ योजना” का विरोध छात्रों द्वारा किया जा रहा है, वही दूसरी तरफ कई सामजिक संगठन भी इसके विरोध में सामने आ गए हैं....

editors

Read Previous

बिहार के मुजफ्फरपुर में प्रेम प्रसंग को लेकर युवक की पीट-पीटकर हत्या

Read Next

ओलंपिक (महिला हॉकी) : भारत को मिली पहली जीत, आयरलैंड को 1-0 से हराया

Leave a Reply

Your email address will not be published.

WP2Social Auto Publish Powered By : XYZScripts.com