ईरान: महिला प्रदर्शनकारियों की जीत

तेहरान। ईरान में आखिरकार महिला प्रदर्शनकारियों की जीत हुई है। ढ़ाई महीने से भी अधिक समय से चल रहे हिजाब विरोधी आंदोलन के सामने कट्टरपंथी ईरान सरकार को झुकना पड़ा है। ईरान सरकार ने महसा अमिनी की हत्या में शामिल मोरलिटी पुलिस की यूनिट को भंग कर दिया है।

बता दें कि यह प्रदर्शन महसा अमीनी की गिरफ्तारी और मोरेलिटी पुलिस की कस्टडी में उनकी हत्या के बाद शुरू हुए थे। अमीनी को देश के बेहद कड़े महिला ड्रेस कोड के कथित उल्लंघन पर गिरफ्तार किया गया था।

यह घटना 16 सितंबर की थी, तब 22 साल की कुर्दिश मूल की ईरानी महिला महसा अमीनी अपने परिवार के साथ तेहरान गई थीं। उसी दौरान उन्हें हिजाब कानून के उल्लंघन के आरोप में गिरफ्तार किया गया था। रिपोर्ट्स के मुताबिक गिरफ्तार किए जाने के तीन दिन बाद अमीनी की कथित मौत हुई।

मोरेलिटी पुलिस को ईरान में गश्त-ए-इरशाद या गाइडेंस पैट्रोल के नाम से जाना जाता है। इसे कट्टरपंथी राष्ट्रपति महमूद अहमदीनेजाद के कार्यकाल में गठित किया गया था। इसका कथित उद्देश्य “सभ्यता और हिजाब की संस्कृति का विस्तार” करना था। यह पुलिस हिजाब नहीं पहनने पर महिलाओं को गिरफ्तार कर लेती है और टॉर्चर करती है।

दशकों से प्रताड़ना की शिकार ईरानी महिलाओं ने अमीनी की मौत के बाद भारी विरोध किया था। पिछले करीब ढाई महीने से ईरान की महिलाएं एकजुट होकर सड़कों पर थी। इस विरोध प्रदर्शन में करीब 300 लोगों की जान गई और 14 हजार लोग जेल भेजे गए। हालांकि, आखिरकार कट्टरपंथी सरकार को झुकना पड़ा।

———— इंडिया न्यूज़ स्ट्रीम

नई कर व्यवस्था में 7 लाख रुपये तक की आय पर कोई टैक्स नहीं : वित्त मंत्री

नई दिल्ली : वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने बुधवार को 2023-24 के लिए नए टैक्स स्लैब की घोषणा की, जिसके तहत नई आयकर व्यवस्था के तहत सालाना 7 लाख रुपये...

‘सार्वजनिक पूंजीगत खर्च बढ़ने पर बजट ने निराश नहीं किया’

चेन्नई : एक्यूट रेटिंग्स एंड रिसर्च के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि बजट 2023-24 सरकार द्वारा सार्वजनिक पूंजीगत व्यय की प्रतिबद्धता के संबंध में निराशाजनक नहीं है। "बाजार सरकार...

धनबाद में आग से मरने वाले सभी 14 एक ही परिवार के, 30 जख्मी

धनबाद: धनबाद के अपॉर्टमेंट में मंगलवार की रात आग लगने से जिन 14 लोगों की मौत हुई, वे सभी एक ही परिवार के हैं। परिवार की लोग एक शादी समारोह...

विशाखापत्तनम होगी आंध्र प्रदेश की नई राजधानी

नई दिल्ली। आंध्रप्रदेश की नई राजधानी विशाखापट्टनम होगी। प्रदेश के मुख्यमंत्री वाई एस जगन मोहन रेड्डी ने मंगलवार ये ऐलान किया है। सीएम रेड्डी ने कहा कि मैं भी आने वाले महीनों...

आर्थिक सर्वेक्षण : वित्त वर्ष 2023-24 के लिए जीडीपी 6.5 फीसदी रहने का अनुमान

नई दिल्ली : राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू के अभिभाषण के बाद मंगलवार को आर्थिक सर्वेक्षण 2022-23 जारी कर दिया गया। आर्थिक सर्वे में वित्त वर्ष 2023-24 के लिए रियल जीडीपी ग्रोथ...

पेशावर की मस्जिद में हुए आत्मघाती हमले में मरने वालों की संख्या 72 पहुंची

इस्लामाबाद : पाकिस्तान के पेशावर के पुलिस लाइन इलाके में एक मस्जिद में सोमवार को हुए जोरदार बम धमाका में मरने वालों की संख्या बढ़कर 72 हो गई है। मंगलवार...

पेशावर मस्जिद विस्फोट में 17 लोगों की मौत, 83 घायल

पेशावर : पाकिस्तान के पेशावर शहर में सोमवार को एक मस्जिद में हुए विस्फोट में कम से कम 17 लोगों की मौत हो गई और 83 अन्य घायल हो गए।...

एनआईए ने बीजापुर मुठभेड़ मामले में वांछित महिला नक्सली को किया गिरफ्तार

नई दिल्ली : छत्तीसगढ़ के बीजापुर मुठभेड़ मामले में राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) ने एक महिला माओवादी कैडर को गिरफ्तार किया है। 2021 में हुई मुठभेड़ में 22 पुलिसकर्मियों की...

     मुगल गार्डन का नाम अब अमृत उद्यान होगा 

 नई दिल्ली:  देशभर में ऐतिहासिक धरोहरों, स्थलों और शहरों के नाम बदलने का सिलसिला निरंतर जारी है। इसी क्रम में केंद्र सरकार ने अब फूलों की विभिन्‍न किस्‍मों के लिए...

धनबाद के निजी अस्पताल में आग से दो डॉक्टरों सहित छह की मौत

धनबाद : धनबाद शहर के एक प्राइवेट हॉस्पिटल में आग लगने से दो डॉक्टरों सहित छह लोगों की मौत हो गई है। शहर के बैंक मोड़ थाना क्षेत्र के टेलीफोन...

मोरबी त्रासदी : 1,262 पन्नों की चार्जशीट दाखिल, जयसुख पटेल मुख्य आरोपी

मोरबी : गुजरात पुलिस ने शुक्रवार को मोरबी पुल ढहने के मामले में 1,262 पन्नों की चार्जशीट पेश की और ओरेवा समूह के निदेशक जयसुख पटेल को मुख्य आरोपी बनाया।...

गणतंत्र दिवस परेड में स्वदेशी हथियारों की झलक, भारतीय तोप से 21 तोपों की सलामी

नई दिल्ली : 26 जनवरी को कर्तव्य पथ पर गणतंत्र दिवस परेड में स्वदेशी व आधुनिक हथियारों की बेहतरीन झलक देखने को मिली। परंपरा के अनुसार सबसे पहले राष्ट्रीय ध्वज...

editors

Read Previous

कतर में आठ पूर्व भारतीय नौसेना कर्मियों का भाग्य अधर में लटका

Read Next

हाईकोर्ट ने राजनीतिक दलों से पूछा, जातीय रैलियों पर क्यो न लगा दी जाए पूर्ण पाबंदी

Leave a Reply

Your email address will not be published.

WP2Social Auto Publish Powered By : XYZScripts.com