भारतीय शोधकर्ता मैग्नेट का उपयोग करके पानी से हाइड्रोजन बनाने पर कर रहे हैं काम

नई दिल्ली, 4 अगस्त (आईएएनएस)| भारतीय शोधकतार्ओं एक अभिनव हाइड्रोजन निर्माण मार्ग के साथ आए है जो इसके उत्पादन को तीन गुना बढ़ाता है और आवश्यक ऊर्जा को कम करता है जो कम लागत पर पर्यावरण के अनुकूल हाइड्रोजन ईंधन की दिशा में मार्ग प्रशस्त कर सकते हैं। एक ईंधन के रूप में, हाइड्रोजन हरित और टिकाऊ अर्थव्यवस्था की दिशा में बदलाव लाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभा सकता है।

कोयले और गैसोलीन जैसे गैर-नवीकरणीय ऊर्जा स्रोतों की तुलना में लगभग तीन गुना अधिक कैलोरी मान होने के अलावा, ऊर्जा को मुक्त करने के लिए हाइड्रोजन के दहन से पानी पैदा होता है और इस प्रकार यह पूरी तरह से गैर-प्रदूषणकारी है।

पृथ्वी के वायुमंडल (350 पीपीबीवी) में आणविक हाइड्रोजन की अत्यधिक कम प्रचुरता के कारण, हाइड्रोजन के उत्पादन के लिए पानी का विद्युत-क्षेत्र चालित विघटन एक आकर्षक मार्ग है।

हालांकि, ऐसे इलेक्ट्रोलिसिस के लिए उच्च ऊर्जा इनपुट की आवश्यकता होती है और यह हाइड्रोजन उत्पादन की धीमी दर से जुड़ा होता है। महंगे प्लेटिनम और इरिडियम-आधारित उत्प्रेरकों का उपयोग भी इसे व्यापक व्यावसायीकरण के लिए हतोत्साहित करता है। इसलिए, ‘हरित-हाइड्रोजन-अर्थव्यवस्था’ के लिए संक्रमण ऐसे ²ष्टिकोण की मांग करता है जो ऊर्जा और सामग्री की लागत को कम करता है और साथ ही साथ हाइड्रोजन उत्पादन दर में सुधार करता है, विज्ञान और प्रौद्योगिकी मंत्रालय के तहत विज्ञान और प्रौद्योगिकी विभाग (डीएसटी) से एक विज्ञप्ति में कहा गया है।

सी. सुब्रमण्यम के नेतृत्व में आईआईटी बॉम्बे के शोधकतार्ओं की एक टीम ने एक अभिनव मार्ग निकाला है जो इन सभी चुनौतियों का व्यवहार्य समाधान प्रदान करता है। इसमें बाहरी चुंबकीय क्षेत्र की उपस्थिति में पानी का इलेक्ट्रोलिसिस शामिल है।

वैज्ञानिकों ने समझाया कि इस विधि में, वही प्रणाली जो 1 मिली हाइड्रोजन गैस का उत्पादन करती है, उसी समय में 3 मिली हाइड्रोजन का उत्पादन करने के लिए 19 प्रतिशत कम ऊर्जा की आवश्यकता होती है। यह उत्प्रेरक साइट पर विद्युत और चुंबकीय क्षेत्रों को सहक्रियात्मक रूप से जोड़कर प्राप्त किया जाता है।

सरल ²ष्टिकोण किसी भी मौजूदा इलेक्ट्रोलाइजर (जो हाइड्रोजन और ऑक्सीजन में पानी को तोड़ने के लिए बिजली का उपयोग करता है) को बाहरी मैग्नेट के साथ डिजाइन में भारी बदलाव के बिना रेट्रोफिट करने की क्षमता प्रदान करता है, जिससे एच 2 उत्पादन की ऊर्जा दक्षता में वृद्धि होती है।

हाइड्रोजन के उत्पादन के लिए यह प्रूफ-ऑफ-कॉन्सेप्ट प्रदर्शन एसीएस सस्टेनेबल केमिस्ट्री एंड इंजीनियरिंग जर्नल में प्रकाशित हुआ है।

इलेक्ट्रोकैटलिटिक सामग्री – कोबाल्ट-ऑक्साइड नैनो-क्यूब्स जो हार्ड-कार्बन आधारित नैनोस्ट्रक्च र्ड कार्बन फ्लोरेट्स पर बिखरे हुए हैं – इस प्रभाव को प्राप्त करने के लिए प्रमुख महत्वपूर्ण है और इसे विज्ञान और प्रौद्योगिकी विभाग की सामग्री के अनुदान के समर्थन से विकसित किया गया था।

सुब्रमण्यम ने कहा, “बाहरी चुंबकीय क्षेत्र का आंतरायिक उपयोग ऊर्जा कुशल हाइड्रोजन उत्पादन प्राप्त करने के लिए एक नई दिशा प्रदान करता है। इस उद्देश्य के लिए अन्य उत्प्रेरक भी खोजे जा सकते हैं।”

डीएसटी फंडिंग द्वारा समर्थित दोनों छात्रों जयता साहा और रानादेब बॉल ने कहा, “0.5 एनएम 3, एच क्षमता के एक बुनियादी इलेक्ट्रोलाइजर सेल को उत्प्रेरक को बदलकर और चुंबकीय क्षेत्र की आपूर्ति करके तुरंत 1.5 एनएम 3 , एच क्षमता में अपग्रेड किया जा सकता है।”

यह दिखाने के बाद कि विधि बहुत जटिल नहीं है, टीम अब टीआरएल स्तर को बढ़ाने और इसके सफल व्यावसायीकरण को सुनिश्चित करने के लिए एक औद्योगिक भागीदार के साथ काम कर रही है।

सुब्रमण्यम ने कहा, “हाइड्रोजन आधारित अर्थव्यवस्था के महत्व को देखते हुए, हमारा लक्ष्य एक मिशन-मोड में परियोजना को लागू करना और स्वदेशी मैग्नेटो-इलेक्ट्रोलाइटिक हाइड्रोजन जनरेटर का एहसास करना है।”

–आईएएनएस

भारी बहुमत के साथ फिर पीएम बनेंगे मोदी, जल्द शुरू होगा पूर्ण बजट का काम : वित्त मंत्री सीतारमण

नई दिल्ली । वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने शुक्रवार को कहा कि भाजपा को विश्वास है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी "भारी बहुमत के साथ वापस आयेंगे" और सरकार गठन के...

प्रज्वल रेवन्ना को भारत वापस लाने का प्रयास जारी : कर्नाटक के गृह मंत्री

बेंगलुरु । कर्नाटक के गृह मंत्री जी. परमेश्वर ने शुक्रवार को कहा कि सेक्स वीडियाेे मामले में जद (एस) के वर्तमान सांसद और हासन सीट से लोकसभा उम्मीदवार प्रज्वल रेवन्ना...

मुझे जनता का जो प्यार मिल रहा है, वह हेमंत सोरेन की कमाई है : कल्पना सोरेन

रांची । कल्पना मुर्मू सोरेन झारखंड के सीएम रहे हेमंत सोरेन की पत्नी हैं और राजनीति में उनकी औपचारिक एंट्री बीते 4 मार्च को हो चुकी है। इन ढाई महीनों...

ईएनपीओ शहरी स्थानीय निकायों के चुनाव के बहिष्कार के फैसले पर कायम

कोहिमा । ईस्टर्न नागालैंड पीपुल्स ऑर्गनाइजेशन (ईएनपीओ) ने शुक्रवार को नागालैंड सरकार की अपील को खारिज करते हुए 26 जून को होने वाले शहरी स्थानीय निकाय (यूएलबी) चुनावों के बहिष्कार...

देश की जनता पीएम मोदी के साथ : अनुराग ठाकुर

बिलासपुर (हिमाचल प्रदेश) । केंद्रीय मंत्री एवं हमीरपुर सेे भारतीय जनता पार्टी के लोकसभा उम्मीदवार अनुराग ठाकुर ने कहा है कि देश में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नाम की गूंज...

स्वाति मालीवाल मामला : राष्ट्रीय महिला आयोग ने केजरीवाल के पीएस को किया तलब

नई दिल्ली । राज्यसभा सांसद स्वाति मालीवाल द्वारा लगाए गए आरोपों के संबंध में राष्ट्रीय महिला आयोग (एनसीडब्ल्यू) ने स्वत: संज्ञान लिया है। एनसीडब्ल्यू ने दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल...

लोकसभा चुनाव के चार चरणों में भाजपा चारों खाने चित हो गई : अखिलेश यादव

बांदा । समाजवादी पार्टी (सपा) के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने गुरुवार को बांदा में एक चुनावी जनसभा को संबोधित किया। इस दौरान उन्होंने कहा कि चार चरणों के वोट...

बंगाल में रामनवमी प्रतिबंधित करने वालों की जमानत जब्त कर दें : पीएम मोदी

भदोही । प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भदोही की जनसभा में तृणमूल कांग्रेस पर निशाना साधते हुए कहा कि बंगाल में रामनवमी प्रतिबंधित करने वालों की जमानत जब्त कर दीजिए। भदोही...

कर्नाटक कांग्रेस में जल्द ही भगदड़ देखने को मिलेगी : विजयेंद्र

बेंगलुरु, 15 मई (आईएएनएस)। कर्नाटक भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष बी.वाई. विजयेंद्र ने बुधवार को कहा कि लोकसभा चुनाव खत्म होने के बाद कांग्रेस में भगदड़ देखने को मिलेगी। मुख्यमंत्री सिद्दारमैया...

झारखंड में ‘फर्स्ट फेज’ की वोटिंग का इशारा, नक्सलियों की मांद में लोकतंत्र का जश्न-ए-बहारा

रांची । झारखंड की चार लोकसभा सीटों पर जंगल-पहाड़ों से घिरे दुरूह इलाकों में 13 मई को हुई वोटिंग का एक इशारा बिल्कुल साफ है। वह यह कि जिन इलाकों...

राहुल गांधी भारत के पीएम नहीं बन सकते, पाकिस्तान जाकर पूरा कर लें शौक : हिमंता बिस्वा सरमा

गिरिडीह/रामगढ़ । असम के मुख्यमंत्री हिमंता बिस्वा सरमा ने बुधवार को कोडरमा लोकसभा सीट के देवरी में चुनावी जनसभा को संबोधित करते हुए कांग्रेस नेता राहुल गांधी पर तीखे वार...

शेयर बाजार की तेजी पर लगा ब्रेक, 117 अंक फिसला सेंसेक्स

मुंबई । भारतीय शेयर बाजार के लिए बुधवार का कारोबारी सत्र नुकसान वाला रहा। बाजार के बड़े सूचकांक लाल निशान में बंद हुए हैं। सेंसेक्स 117 अंक या 0.16 प्रतिशत...

editors

Read Previous

‘सत्यमेव जयते 2’ राजनेता के रूप में नजर आएंगी दिव्या खोसला कुमार

Read Next

नासा ने रूस के उपग्रह टेस्ट से जमा हुए मलबे को लेकर जताई नाराजगी

Leave a Reply

Your email address will not be published.

WP2Social Auto Publish Powered By : XYZScripts.com