चेन्नई-बेंगलुरु औद्योगिक कॉरिडोर परियोजना पर 1,060 करोड़ रुपये हुए खर्च

चेन्नई: चेन्नई-बेंगलुरु औद्योगिक गलियारा परियोजना के लिए पिछले तीन वित्तीय वर्षों के दौरान कुल 1,060.02 करोड़ रुपये खर्च किए गए हैं। सरकार ने राज्यसभा को यह बात बताया है। एमडीएमके महासचिव वाइको द्वारा उठाए गए एक प्रश्न का उत्तर देते हुए, वाणिज्य और उद्योग राज्य मंत्री सोम प्रकाश ने कहा कि 30 दिसंबर, 2020 को आर्थिक मामलों की मंत्रिमंडलीय समिति (सीसीईए) ने कृष्णापटनम नोड (आंध्र प्रदेश) और तुमकुरु नोड की परियोजना लागत को मंजूरी दी। (कर्नाटक) क्रमश: 2,139.44 करोड़ रुपये और 1,701.81 करोड़ रुपये दिए गए हैं।

सरकार ने कहा कि इन दो नोड्स में ट्रंक इंफ्रास्ट्रक्च र के निर्माण की समयसीमा 36-48 महीने तक है।

सरकार के अनुसार, चेन्नई-बेंगलुरु औद्योगिक गलियारे की परिप्रेक्ष्य योजना पूरी हो चुकी है। और विकास के लिए निम्नलिखित तीन प्राथमिकता वाले नोड्स की पहचान की गई है, (1) आंध्र प्रदेश में कृष्णापट्टनम, (2) कर्नाटक में तुमकुरु और (3) तमिलनाडु में पोन्नेरी है।

कृष्णापट्टनम (आंध्र प्रदेश) और तुमकुरु (कर्नाटक) में नोड्स के लिए मास्टर प्लानिंग और प्रारंभिक इंजीनियरिंग गतिविधियों को पूरा कर लिया गया है।

तीन नोड्स पर किए गए कार्यों के संबंध में सरकार ने कहा कि पहला कृष्णापटनम (आंध्र प्रदेश): प्रोजेक्ट स्पेशल पर्पज व्हीकल (एसपीवी) द्वारा प्रोजेक्ट मैनेजमेंट कंसल्टेंट (पीएमसी) की नियुक्ति की गई है। और 1,814 एकड़ जमीन प्रोजेक्ट एसपीवी को ट्रांसफर की गई है। पर्यावरण, वन और जलवायु परिवर्तन मंत्रालय की विशेषज्ञ मूल्यांकन समिति (ईएसी) ने ‘सैद्धांतिक’ अनुमोदन प्रदान किया है। दूसरा तुमकुरु (कर्नाटक)- पीएमसी को प्रोजेक्ट एसपीवी द्वारा नियुक्त किया गया है। परियोजना एसपीवी को 1,668 एकड़ भूमि हस्तांतरित की गई है। तीसरा पोन्नेरी नोड (तमिलनाडु)- मास्टर प्लानिंग और प्रारंभिक इंजीनियरिंग गतिविधियों के लिए सलाहकार नियुक्त किया गया है।

–आईएएनएस

व्यावसायिक फूलों की खेती को बढ़ावा देने के लिए 39 करोड़ रुपये की परियोजना को मंजूरी

श्रीनगर:जम्मू और कश्मीर सरकार ने फूलों को बढ़ावा देने के लिए केंद्र शासित प्रदेश में विभिन्न कृषि-जलवायु और पारिस्थितिक स्थितियों को ध्यान में रखते हुए फूलों की खेती की विशाल...

पहले कोविड, अब छंटनी : जबरदस्त तनाव, चिंता से गुजर रहे भारतीय पेशेवर

नई दिल्ली : बढ़ती छंटनी के बीच विभिन्न कंपनियों से आने वाले रोगियों की संख्या में वृद्धि हुई है - कार्यालय जाने वाले और घर से काम करने वाले दोनों...

माइक्रोसॉफ्ट छंटनी सबसे अधिक हार्डवेयर वर्टिकल को प्रभावित करेगी

सैन फ्रांसिस्को: माइक्रोसॉफ्ट छंटनी विशेष रूप से एक्सबॉक्स गेमिंग कंसोल, पीसी एक्सेसरीज, सरफेस लैपटॉप, एआर होलोलेन्स हेडसेट और अन्य जैसे हार्डवेयर वर्टिकल को प्रभावित करेगी, क्योंकि यह 'अपने हार्डवेयर पोर्टफोलियो...

क्रिप्टोकरेंसी ब्रोकर जेनेसिस दिवालिया घोषित होने के लिए दे सकती है आवेदन

लंदन:पॉपुलर क्रिप्टोकरेंसी ब्रोकर जेनेसिस दिवालिया घोषित होने के आवेदन कर सकती हैं। यह जानकारी अंदरूनी सूत्रों ने दी है। डेली मेल के मुताबिक, सैम बैंकमैन-फ्राइड के एफटीएक्स के बाद यह...

केंद्र ने सुप्रीम कोर्ट से कहा, ”सेवा विवाद मामले को बड़ी बेंच को किया जाए रेफर”

नई दिल्ली: केंद्र ने बुधवार को सुप्रीम कोर्ट से प्रशासनिक सेवाओं पर नियंत्रण के मुद्दे पर जीएनसीटीडी बनाम भारत संघ मामले में 2018 के फैसले को बड़ी बेंच को भेजने...

एफआरएआई ने केंद्र से की दैनिक वस्तुओं पर करों में कटौती की अपील

नई दिल्ली: 'मेक इन इंडिया' उत्पादों पर उच्च कर देश भर में तस्करी और नकली उत्पादों की भारी मांग पैदा कर रहे हैं और लाखों छोटे और गरीब दुकानदारों को...

बाबर आजम के निजी वीडियो सोशल मीडिया पर लीक, यूजर्स ने दी प्रतिक्रिया

नई दिल्ली: पाकिस्तान के कप्तान बाबर आजम खराब फॉर्म के साथ एक विवाद में पड़ गए हैं, क्योंकि उनके कथित निजी वीडियो और फोटो सोशल मीडिया पर वायरल हो गए...

बिहार में रामचरितमानस को लेकर अब सत्ताधारी महागठबंधन में ‘महाभारत’

पटना: हिंदू धर्मावलंबियों के पवित्र ग्रंथ श्रीरामचरित मानस को लेकर बिहार के शिक्षा मंत्री चंद्रशेखर द्वारा दिए गए एक बयान के बाद बिहार की सियासत में जारी सियासी महाभारत समाप्त...

दिल्ली हाईकोर्ट ने कुलदीप सेंगर को अंतरिम जमानत दी

नई दिल्ली:| दिल्ली उच्च न्यायालय ने सोमवार को उत्तर प्रदेश के पूर्व भाजपा विधायक कुलदीप सिंह सेंगर को अंतरिम जमानत दे दी, जिन्हें 2017 में उन्नाव में एक नाबालिग लड़की...

रद्दी से खड़ी कर ली करोड़ों की कंपनी

इंदौर : कागज की रद्दी सुनते ही लोग आंख और भौंहें सिकोड़ लेते हैं क्योंकि इसे बेकार माना गया है, मगर हिंदुस्तान की एक महिला ने इसी कागज की रद्दी...

सालाना बजट की योजनाओं पर नौ महीने में मात्र 44 फीसदी राशि खर्च कर पाई झारखंड सरकार

रांची: झारखंड सरकार आगामी वित्तीय वर्ष 2023-24 के लिए बजट बनाने की तैयारियों में जुटी है, लेकिन चालू वित्त वर्ष में राज्य के सालाना बजट की मात्र 44.19 प्रतिशत राशि...

ग्लोबल साउथ की आवाज को बुलंद करेगा भारत: पीएम

नई दिल्ली : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गुरुवार को कहा कि जी20 अध्यक्ष पद के धारक के रूप में भारत का उद्देश्य वैश्विक दक्षिण की आवाज को बढ़ाना है। दो...

editors

Read Previous

कृषि व्यंवसाय को मिला बड़ा प्रोत्साहन, उत्तराखंड से सब्जियों की पहली खेप संयुक्त अरब अमीरात को निर्यात की गई

Read Next

ग्लोबल टेक इनोवेशन में बेंगलुरु को मिला आठवां स्थान

Leave a Reply

Your email address will not be published.

WP2Social Auto Publish Powered By : XYZScripts.com