फिर बढ़ने लगा कोरोना का क़हर, कहीं तीसरी तो, कहीं चौथी लहर

दुनिया भर में एक बार फिर कोरोना का क़हर बढ़ने लगा है। डेल्टा वेरिएंट लगभग चिंता का विषय बना हुआ है। जहां भारत में तीसरी लहर से निपटने की तैयारियां की जा रही हैं वहीं दर्जन भर से ज्यादा देश चौथी लहर का सामना कर रहे हैं। ब्रिटेन से लेकर ऑस्ट्रेलिया तक कोरोना फिर से ख़तरनाक रूप लेता जा रहा है। सिर्फ़ दक्षिण अमेरिका में कोरोना का क़हर फिलहाल कम हुआ है। बाक़ी दुनिया में हालात फिर तेज़ी से बिगड़ते जा रहे हैं।

दुनिया में कोराना का क़हर

कोरोन के मामलों पर नज़र रखने वाली वेबसाइट वर्ल्डओमीटर डॉट इंफो (www.worldometers.info) के साप्ताहिक विश्लेषण के मुताबिक़ पिछले सात दिनों में दुनिया भर में कोरोना के नए मामलों में 13% और मौत के आंकड़ों में 2% की बढ़ोतरी हुई है। यानि पिछले सात दिनों में दुनिया में कोरोना के 31,11,257 नए मरीज़ मिले हैं। जबकि उससे पिछले हफ्ते 27,51,541 मरीज़ मिले थे। पिछले सात दिनों में दुनिया में कोरोना से 54,683 लोगों की मौत हुई जबकि उससे पिछले हफ्ते 53,600 लोगों की मौत हुई थी। ये आंकड़े संकेत दे रहे हैं कि एक बार फिर दुनिया में कोरोना से हाहाकार मच सकता है। कुछ दिनों पहले तक ये दोनों ही आंकड़े नकारात्मक थे। यानि कोरोना संक्रमण कम हो रहा था।

कहीं तीसरी, तो कहीं चौथी लहर

भारत समेत दुनिया के कई देश कोरोना की तीसरी लहर का सामना करने की तैयारिय़ों में जुटे हैं। भारत में तीसरी लहर से निपटने के लिए हाल ही में केंद्र सरकार ने 23123 करोड़ रुपए के पैकेज का ऐलान किया है। क़रीब दर्जन भर से ज्यादा देशों में चौथी लहर भी दस्तक दे चुकी है। ऐसे देशों में जापान, दक्षिण कोरिया, पाकिस्तान, ईरान, तुर्की,कोलंबिया, ब्राज़ील, पेरु, अर्जेंटीना, दक्षिण अफ्रीका, इटली, फ्रांस, पोलेंड, और जर्मनी शामिल हैं। यूरोप, उत्तरी अमेरिका, अफ्रीका और एशिया के भारत समेत कई ज्यादातर देश कोरोना की तीसरी लहर के मुहाने पर खड़े हैं।

क्या है भारत की स्थिति

भारत में नए मामलों में तो 6% की कमी आई है लेकिन मौत के आंकड़े में 7% की बढ़त दर्ज की गई है। पिछले सात दिन में भारत में कोरोन के 2,85,795 नए मरीज़ मिले। उससे पिछले हफ्ते 3,02,939 नए मरीज़ मिले थे। पिछले सात दिनों में जहां देश में कोरोना से 6,028 लोगों की मौत हुई। जबकि पिछले हफ्ते मौत का आंकड़ा 5,642 था। सरकार और एक्सपर्ट लगातार तीसरी लहर के जल्द आने की चेतावनी दे रहे हैं। भारत में पर्यटन स्थलों और बाज़ारों से आने वाली भीड़ की तस्वीरे तीसरी लहर के जल्द आने का ख़तरा बढ़ा रहीं हैं। सरकार की तरफ़ से रोज़ाना चेतावनी जारी की जा रही है।

आस्ट्रेलिया और न्यूज़ीलैंड

न्यूज़ीलैंड को छोड़कर ऑस्ट्रेलिया और इसके आसपास के तीन देशों में कोरोना के नए मामलों में 86% और मौत के आंकड़ों में 94% की बढ़ोतरी हुई है। सबसे ज़्यादा पापुआ न्यू गिनी में एक हफ्ते मे नए मामले 24200% और मौत के आंकडे में 600% की बढ़ोतरी दर्ज की गई। न्यूज़ीलैंड में नए मरीज़ों के आंकड़ों में 50% की कमी आई है और एक भी मौत नहीं हुई है। कोरोना सबसे ज्यादा तेज़ी से इसी क्षेत्र में फैसल रहा है। से क्षेत्र के पांच देशों में से चार में कोरोना ने कोहराम मचा रहा है। ऑस्ट्रेलिया में एक हफ्ते में 54% नए मरीज़ बढ़ें हैं और मौत के आंकड़ें में 100% का इज़ाफ़ा हुआ है।

यूरोप और ब्रिटेन

यूरोप और ब्रिटेन में कोरोना का कहर सबसे ज्याद देखने को मिल रहा है। यूरोप में पिछले सात दिन में नए मामलों में 34% और मौते के आंकड़े में एक प्रतिशत की बढ़ोतरी हुई है। यूरोप के कई देशों में कोरोना की चौथी लहर आ चुकी है। कई देशों में चौथी लहर के जल्द आने की आशंका जताई जा रही है। यूरोप के कुल 47 देशों में से 38 में कोरोना संक्रमण बढ़ रहा हैं। सिर्फ़ 9 देशों में ही नए मामले और मौत के आंकड़ों में कमी दर्ज की गई है। ब्रिटेन, रूस, स्पेन, नीदरलैंड, फ्रांस, पुर्तगाल, यूनान जैसे देशों देशों में कोराना के डेल्टा वेरिएंट ने कहर बरपाया हुआ है।

उत्तरी अमेरिका

उत्तरी अमेरिका में पिछले सात दिनों में कोरोना के नए मामलों में 33% की बढ़ोतरी हुई है जबकि मौत के आंकड़े में 0.2% की कमी आई है। उत्तरी अमेरिका के कुल 35 देशों में से 20 में कोरोना का ग्राफ बढ़ रहा है जबकि 15 में ये ग्राफ नीचे आ रहा है। एक हफ्ते में क्यूबा में नए मरीज़ों के आंकड़ें में 68% और मौत के आंकड़ें में 74% का इज़ाफ़ा हुआ है। ग्वाटेमाल में ये नए मरीज़ 57% बढ़ें हैं लेकिन मौत के आंकड़ें में 45% की कमी आई है। मैक्सिको में ये नए मराज़ों में 47% और मौत के आंकड़ें में 27% की बढ़ोतरी हुई है। अमेरिका में 33% नए मरीज़ बढ़ें हैं जबकि मौते के आंकड़े मं 7% की कमी आई है।

एशिया

भारत समेत एशिया के कई देशों में कोरोना का क़हर कम हो रहा है। लेकिन ज्यादातर एशियाई देशों में इसका क़हर बढ़ता जा रहा है। एशिया के कुल 49 देशों में से 20 में कोरोना के मामले काफी तेज़ी से बढ़ रहे हैं। जबकि 29 देशों में इनमे कमी आ रही है। एक हफ्ते में एशिया में 18% नए मामले बढ़े है जबकि मौत के आंकड़े में 24% की बढ़ोतरी हुई है। इस दौरान इज़्राइल, इंडोनेशिया, ब्रुनेई, जापान, दक्षिण कोरिया, बांगलादेश, पाकिस्तान, म्यांमार में हालात लगातार बेक़ाबू होते जा रहे हैं। जबकि यूएई, अफ़गानिस्तान, सऊदी अरब, नेपाल, श्रीलंका और कज़ाख़िस्तान जैसे देशों में कोरोना का कहर कम हुआ है।

अफ्रीका

अफ्रीका महाद्वीप में एक हफ्ते में 13% नए मरीज़ बढ़ें हैं। मौत के आंकड़े में 12% बढ़ोतरी हुई है। अफ्रीका के कुल 55 देशों में से 29 में कोराना तेज़ी से फैल रहा है जबकि 26 देशों में इसके संक्रमण में कमी आ रही है। लाबिया में एक हफ्ते में नए मरीज़ों के आंकड़े में सबसे ज़्यादा 260% की बढ़ोतरी हुई है। जबकि सी दौरान मौत के आंकड़े में 36% का इज़ाफ़ा हुआ है। मोरक्को, जाम्बिया, मोज़ांम्बिक, जिंबाबवे और ट्यूनीशिया जैसे देशों में भी कोरोना कहर भरपा रहा है। इन देशों में ग़रीबी के कारण टीकाकरण का अभियान कभी काफी सुस्त चाल से चतल रहा है। इन देशों की मदद के लिए विश्व स्वास्थ्य संगठन लगातार अमीर देशों से मदद की अपील कर रह है।

दक्षिण अमेरिका

दक्षिण अमेरिका एक मात्र महाद्वीप है जहां कोरोना का कहर कम हो रहा है। एक हफ्ते में यहां नए मरीज़ो के आंकड़ों में 33% और मौत के आंकड़े में 16% की कमी दर्ज की गई है। इस महाद्वीप के कुल 13 देशों में से सिर्फ़ एक देश गुयाना में नए मरीज़ों का आंकड़ा 23% और मौत का आंकड़ा 58% बढ़ा है। बाक़ी सभी देशों में नए मरीज़ों और मौत का आंकड़ा लगातार कम हो रहा है। सबसे ज्यादा प्रभावित ब्राज़ील में हफ्तेभर में नए मराज़ो के आंकड़ें में 9% और मौते के आंकड़ें में 18% की कमी आई है।

—यूसुफ़ अंसारी

सड़क पर लावारिस मिले 3 वर्षीय अर्जित को मिले अमरिकी माता-पिता, लिया गोद

पटना:कहा जाता है कि व्यक्ति की किस्मत में जो लिखा होता है, वह उसे देर सबेर जरूर मिल जाता है। ऐसा ही कुछ देखने को मिला बिहार की राजधानी पटना...

भारत जोड़ो यात्रा में बढ़ते हुजूम से कांग्रेसी उत्साहित

भोपाल :भारत जोड़ो यात्रा का काफिला धीरे-धीरे मध्य प्रदेश से बढ़ते हुए राजस्थान की तरफ जा रहा है। इस यात्रा में शुरूआती तौर पर मिली निराशा के बाद इंदौर से...

भोपाल गैस त्रासदी: वारेन एंडरसन कैसे देश छोड़कर भागा, राजीव गांधी पर लगे थे मदद के आरोप

नई दिल्ली:मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल में 2-3 दिसंबर 1984 यानी आज से 38 साल पहले एक दर्दनाक हादसा हुआ था। इतिहास में जिसे भोपाल गैस त्रासदी का नाम दिया गया।...

जेएनयू में ब्राह्मणों के खिलाफ लिखी गई अभद्र टिप्पणी मामले की होगी जांच : वीसी

नई दिल्ली : जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय (जेएनयू) की कुलपति प्रोफेसर शांतीश्री डी. पंडित ने जेएनयू में अज्ञात तत्वों द्वारा दीवारों और संकाय कक्षों को विकृत करने की घटना को गंभीरता...

सुअर और बंदर के बाद, न्यूरालिंक मानव परीक्षण से 6 महीने दूर: मस्क

सैन फ्रांसिस्को: एलन मस्क ने गुरुवार को कहा कि उनका ब्रेन-कंप्यूटर न्यूरालिंक की डिवाइस मानव परीक्षण के लिए तैयार है और वह अब से लगभग छह महीने में ऐसा करने...

तेलंगाना में दो ट्रांसजेंडर डॉक्टरों को सरकारी नौकरी मिली

हैदराबाद:दो ट्रांसजेंडर डॉक्टरों ने सरकार द्वारा संचालित उस्मानिया जनरल अस्पताल में चिकित्सा अधिकारी के रूप में नौकरी पाकर तेलंगाना में इतिहास रच दिया है। प्राची राठौड़ और रूथ जॉन पॉल...

झारखंड में हर रोज मिल रहे हैं तीन एचआईवी संक्रमित, दस महीने में 1042 मरीजों की पहचान रांची, )| झारखंड में एचआईवी संक्रमितों की संख्या हर रोज बढ़ रही है।...

किसानों को 25,186 करोड़ के प्रीमियम के मुकाबले अब तक 1,25,662 करोड़ रुपये मिले : मंत्रालय

नई दिल्ली: कृषि मंत्रालय ने गुरुवार को प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना (पीएमएफबीवाई) को दुनिया की तीसरी सबसे बड़ी फसल बीमा योजना करार दिया और बताया कि योजना के तहत किसानों...

मुस्लिम कॉलेज विवाद: भाजपा ने लिया यू-टर्न, कहा कि मामले पर चर्चा ही नहीं हुई

बेंगलुरू : कर्नाटक में सत्तारूढ़ भाजपा ने मुस्लिम लड़कियों के लिए 10 नए कॉलेज बनाने के फैसले के बाद गुरुवार को यू-टर्न ले लिया। इस बारे में पूछे जाने पर...

भारतीय मूल के ब्रिटिश पुलिस अधिकारी ने की प्रवासियों पर गृह सचिव के विचार की आलोचना

लंदन : भारतीय मूल के एक वरिष्ठ ब्रिटिश पुलिस अधिकारी नील बसु ने प्रवासियों पर गृह सचिव सुएला ब्रेवरमैन की टिप्पणियों की आलोचना करते हुए कहा कि यह अविश्वसनीय और...

बेंगलुरु में स्कूल बैग में मिले कंडोम और गर्भनिरोधक गोलियां

बेंगलुरू: बेंगलुरू के स्कूलों में स्कूल बैग की नियमित जांच के दौरान छात्रों के पास से कंडोम, गर्भनिरोधक गोलियां, सिगरेट और व्हाइटनर जैसी सामग्री मिलने के मामले ने सभी को...

मास्टर प्लान 2041 में बढ़ी हुई एफएआर के प्रावधान के साथ मौजूदा कॉलोनियों के पुनर्जनन के लिए बनेंगी नीतियां

नई दिल्ली : मास्टर प्लान 2041 में मौजूदा कॉलोनियों के पुनर्जनन के लिए नीतियां, लैंड पूलिंग के जरिए ग्रीनफील्ड विकास और फ्लोर एरिया रेशियो (एफएआर) के प्रावधान के साथ हरित...

editors

Read Previous

पंजाब में 2.85 लाख खेत कामगारों और भूमि रहित काश्तकारों का 590 करोड़ रुपए का कर्ज़ माफ

Read Next

गुलाबी टाई-डाई ड्रैस में कटरीना कैफ बनी बार्बी

Leave a Reply

Your email address will not be published.

WP2Social Auto Publish Powered By : XYZScripts.com