सुप्रीम कोर्ट ने आगरा जेल में बंद 13 किशोरों पर यूपी सरकार से मांगा जवाब

नई दिल्ली:| सुप्रीम कोर्ट ने गुरुवार को उत्तर प्रदेश सरकार से राज्य की दयनीय स्थिति को उजागर करने वाली एक याचिका पर जवाब मांगा, जहां 13 अपराधी किशोर घोषित किए जाने के बावजूद आगरा की जेल में बंद हैं। दोषियों का प्रतिनिधित्व करने वाले अधिवक्ता ऋषि मल्होत्रा ने कहा कि किशोर न्याय बोर्ड (जेजेबी) के अनछुए फैसले कहते हैं कि वे 18 वर्ष की आयु सीमा से कम थे, फिर भी उनकी तत्काल रिहाई के लिए कोई कदम नहीं उठाया गया है।

न्यायमूर्ति इंदिरा बनर्जी और न्यायमूर्ति वी. रामसुब्रमण्यम की पीठ ने राज्य सरकार को नोटिस जारी किया और मामले पर विचार करने के लिए आठ जुलाई की तिथि निर्धारित की।

याचिका में दोषियों की तत्काल रिहाई की मांग की गई है, जिन्हें 14 से 22 साल की अवधि के लिए कैद किया गया है। अधिकांश मामलों में, विभिन्न आईपीसी अपराधों के तहत उनकी सजा के खिलाफ उनकी वैधानिक आपराधिक अपील उच्च न्यायालय के समक्ष लंबित है।

याचिका में कहा गया है कि जेजेबी ने फरवरी 2017 और मार्च 2021 के बीच अपने आदेशों के माध्यम से स्पष्ट रूप से कहा कि कथित घटना की तारीख को ये सभी याचिकाकर्ता 18 साल से कम उम्र के थे। इसमें कहा गया है कि उन्हें संबंधित अदालत ने किशोर घोषित किया था।

याचिका में यह भी कहा गया है कि किशोर न्याय (बच्चों की देखभाल और संरक्षण) (संशोधन) अधिनियम, 2006 के अनुसार, किशोर की याचिका मुकदमे के किसी भी चरण में और मामले के अंतिम निपटान के बाद भी उठाई जा सकती।

याचिका में इस कानून का हवाला देते हुए तर्क दिया गया है कि याचिकाकर्ता खूंखार अपराधियों के बीच जेलों में बंद हैं, जो जेजे अधिनियम के उद्देश्य के विपरीत है।

याचिका में कहा गया है कि समय की आवश्यकता है कि इन याचिकाकर्ताओं की तत्काल प्रत्यक्ष रिहाई हो, इस तथ्य को ध्यान में रखते हुए कि न केवल उन्हें किशोर घोषित किया गया है, बल्कि वे पहले से ही जेजे अधिनियम, 2000 के तहत प्रदान की गई हिरासत की अधिकतम अवधि तीन साल ये गुजार चुके हैं।

याचिकाकर्ताओं ने संविधान के अनुच्छेद 21 (जीवन और स्वतंत्रता का अधिकार) का हवाला देते हुए शीर्ष अदालत से उनकी रिहाई के लिए आवश्यक आदेश पारित करने का आग्रह किया है।

–आईएएनएस

बच्चे की हत्या कर उसका खून पीने वाली महिला को उम्रकैद

बरेली (उत्तर प्रदेश) : बरेली की एक अदालत ने 33 वर्षीय नि:संतान महिला को उम्रकैद की सजा सुनाई है, जिसने तांत्रिक के नाम पर अपने पड़ोसी के 10 वर्षीय बेटे...

इलाहाबाद हाईकोर्ट ने पूर्व भाजपा विधायक की याचिका खारिज की

2022-11-24 प्रयागराज: इलाहाबाद हाई कोर्ट ने 2013 के मुजफ्फरनगर दंगा मामले में बीजेपी विधायक विक्रम सैनी की दोषसिद्धि पर रोक लगाने वाली याचिका खारिज कर दी है। न्यायमूर्ति समित गोपाल...

आफताब ने कोर्ट में कहा, ‘मुझे उकसाया गया, मैंने उसे मारा’

नई दिल्ली : अपनी लिव-इन पार्टनर श्रद्धा वाकर की हत्या के आरोपी आफताब अमीन पूनावाला ने मंगलवार को साकेत कोर्ट में एक मेट्रोपोलिटन मजिस्ट्रेट से कहा कि मुझे उकसाया गया,...

नेता, न्यायाधीश और सरकारी कर्मचारियों को ऑनलाइन लेनी होगी विदेशी आतिथ्य की अनुमति

नई दिल्ली : केंद्रीय गृह मंत्रालय ने विधायिकाओं के सदस्यों, राजनीतिक दलों के पदाधिकारियों, न्यायाधीशों, सरकारी अधिकारियों और निगमों के कर्मचारियों द्वारा विदेशी आतिथ्य की स्वीकृति से जुड़े अपने दिशानिर्देशों...

अगर मुस्लिम विवाह में एक पक्ष नाबालिग है, तो वह पॉक्सो एक्ट के तहत अपराध होगा : हाईकोर्ट

कोच्चि : केरल उच्च न्यायालय ने कहा है कि यदि मुस्लिम विवाह में एक पक्ष नाबालिग है, तो यह पॉक्सो अधिनियम के तहत अपराध होगा। एक मामले से जुड़े अपने...

मोरबी पुल हादसा ‘भारी त्रासदी’, हाईकोर्ट समय-समय पर ले मामले का संज्ञान : सुप्रीम कोर्ट

नई दिल्ली : मोरबी पुल के ढहने को भारी त्रासदी करार देते हुए सुप्रीम कोर्ट ने सोमवार को गुजरात उच्च न्यायालय से कहा कि जांच के विभिन्न पहलुओं को सुनिश्चित...

अवैध शिक्षकों को बर्खास्त नहीं कर सकते तो आयोग को बंद कर दिया जाए : कलकत्ता हाईकोर्ट

कोलकाता : कलकत्ता हाई कोर्ट के एक न्यायाधीश ने गुरुवार को कहा कि अगर अनुचित तरीकों से नियुक्त शिक्षकों को बर्खास्त नहीं किया जा सकता, तो बेहतर होगा कि पश्चिम...

मनी लॉन्ड्रिंग मामले में सत्येंद्र जैन को जमानत देने से कोर्ट का इनकार

नई दिल्ली : दिल्ली की एक अदालत ने धन शोधन के एक मामले में आम आदमी पार्टी (आप) के नेता सत्येंद्र जैन और दो अन्य को जमानत देने से गुरुवार...

हेमंत सोरेन ने अवैध खनन मामले में ईडी के स्टेटमेंट का 12 बिंदुओं में दिया जवाब

रांची : झारखंड के साहिबगंज जिले में अवैध खनन और ट्रांसपोटिर्ंग के जरिए एक हजार करोड़ रुपए से अधिक की मनी लॉन्ड्रिंग मामले में ईडी झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन...

गुजरात हाईकोर्ट ने मोरबी नगर निकाय को दी चेतावनी, शाम तक जवाब दें या फिर 1 लाख रुपये जुर्माना भरें

अहमदाबाद : गुजरात हाई कोर्ट ने बुधवार को मोरबी नगर पालिका को पुल हादसे के संबंध में दायर जनहित याचिका पर 'कैजुअल' रुख बरतने को लेकर फटकार लगाई। 30 अक्टूबर...

सुप्रीम कोर्ट ने की नेताजी की जयंती पर छुट्टी घोषित करने की याचिका खारिज

नई दिल्ली : सुप्रीम कोर्ट ने सोमवार को केंद्र को 23 जनवरी को नेताजी सुभाष चंद्र बोस की जयंती पर राष्ट्रीय अवकाश घोषित करने और स्मारक हॉल व संग्रहालय बनाने...

शामली में पॉक्सो कोर्ट ने रेप के आरोपी को उम्रकैद की सजा सुनाई

शामली (उत्तर प्रदेश) : उत्तर प्रदेश में शामली की पॉक्सो अदालत ने एक नाबालिग से दुष्कर्म के आरोपी को उम्रकैद की सजा सुनाई है। अतिरिक्त जिला सत्र न्यायाधीश (पॉक्सो) मुमताज...

admin

Read Previous

वेस्ट यूपी को नई उड़ान देगी मेट्रो से तीन गुना तेज रैपिड रेल

Read Next

जुलाई में सामान्य रहेगी मासिक बारिश : आईएमडी

Leave a Reply

Your email address will not be published.

WP2Social Auto Publish Powered By : XYZScripts.com