अमित शाह पर छाया सत्ता का नशा : ओवैसी

हैदराबाद : एआईएमआईएम प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी ने शनिवार को केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह के इस बयान पर निशाना साधा कि बीजेपी ने 2002 में गुजरात में दंगाइयों को सबक सिखाया। ओवैसी ने कहा, शाह सत्ता के नशे में हैं। हैदराबाद के सांसद ने अमित शाह पर पलटवार करने के लिए ट्विटर का सहारा लिया। ओवैसी ने ट्वीट किया, सत्ता के नशे में चूर, भारत के गृह मंत्री ने कहा कि हमने 2002 में सबक सिखाया।

एआईएमआईएम नेता ने शाह को याद दिलाते हैं कि सत्ता स्थाई नहीं होती। गुजरात विधानसभा चुनाव में ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन (एआईएमआईएम) के उम्मीदवारों के लिए प्रचार कर रहे ओवैसी ने लिखा, सत्ता में आने के बाद कुछ लोग भूल जाते हैं कि सत्ता हमेशा किसी के पास नहीं रहती है।

ओवैसी ने इससे पहले जुहापुरा में चुनावी सभा को संबोधित करते हुए अमित शाह से पूछा था कि उन्होंने 2002 में क्या सबक सिखाया था। नरोदा पाटिया का सबक? गुलबर्ग का सबक? बेस्ट बेकरी का सबक? बिलकिस बानो का सबक? ।

अमित शाह ने शुक्रवार को गुजरात में एक चुनावी सभा में कहा था कि बीजेपी ने 2002 में गुजरात के दंगाइयों को सबक सिखाया और राज्य में स्थायी शांति स्थापित की।

ओवैसी ने कहा, मैं गृह मंत्री को बताना चाहता हूं कि आपने 2002 में जो सबक सिखाया था, वह यह था कि बिलकिस बानो के बलात्कारियों को रिहा कर दिया जाएगा। आपने सिखाया कि आप बिलकिस की तीन साल की बेटी के हत्यारों को छोड़ देंगे। आपने हमें यह भी सिखाया कि अहसान जाफरी को मारा जा सकता है। आपने गुलबर्ग सोसाइटी का पाठ पढ़ाया, आपने बेस्ट बेकरी का पाठ पढ़ाया, आपके कौन से पाठ हम याद रखेंगे, ।

उन्होंने कहा, अमित शाह साहब, आपने दिल्ली के सांप्रदायिक दंगों के दौरान क्या सबक सिखाया?

–आईएएनएस

तुर्की-सीरिया भूकंप में मरने वालों की संख्या पहुंची 3,500 से ऊपर

इस्तांबुल/दमिश्क : तुर्की-सीरिया में आए भूकंप में मरने वालों की संख्या 3,500 से अधिक हो गई है। तुर्की में 2,370 और सीरिया में 1,444 से अधिक लोग मारे गए। हजारों...

शक्तिशाली भूकंप के बाद तुर्की, सीरिया में 1,000 से अधिक लोगों की मौत

अंकारा/दमिश्क : रिक्टर पैमाने पर 7.8 की तीव्रता वाले भूकंप के बाद तुर्की और सीरिया में 1,000 से अधिक लोगों की मौत हो गई और 6,530 से अधिक घायल हो...

तुर्की में 7.8 तीव्रता का भूकंप, 50 की मौत

अंकारा : सीरिया की सीमा के पास दक्षिण-पूर्वी तुर्की में सोमवार को रिक्टर पैमाने पर 7.8 तीव्रता का भूकंप आया। इसमें कम से कम 50 लोगों की मौत हो गई।...

परवेज मुशर्रफ का निधन, शोक में डूबा पाकिस्तान

इस्लामाबाद: पाकिस्तान के पूर्व राष्ट्रपति परवेज मुशर्रफ के निधन की पुष्टि जैसे ही उनके परिवार ने रविवार को की, शोक संवेदना देने वालों का तांता लग गया। डॉन की रिपोर्ट...

त्रिपुरा की आदिवासी पार्टी सत्ता में आने के 150 दिनों के भीतर सीएए के खिलाफ प्रस्ताव लाएगी

अगरतला : त्रिपुरा जनजातीय क्षेत्र स्वायत्त जिला परिषद (टीटीएएडीसी) को पूर्ण राज्य का दर्जा देने की मांग कर रही टिपरा मोथा पार्टी (टीएमपी) ने कहा है कि 16 फरवरी को...

आरएसएस से जुड़ी ऑर्गेनाइजर पत्रिका ने लगाया आरोप – गौतम अडानी को टारगेट कर सुनियोजित साजिश के तहत किया जा रहा है बदनाम

नई दिल्ली:| अडानी समूह को लेकर आई हिंडनबर्ग की रिपोर्ट ने शेयर बाजार से लेकर पूरे देश की राजनीति में तहलका मचा रखा है। अडानी समूह के मसले ने संसद...

2019 जामिया हिंसा मामले में शरजील इमाम बरी

नई दिल्ली : 2019 में जामिया मिल्लिया इस्लामिया विश्वविद्यालय में हुई हिंसा की घटनाओं से संबंधित एक मामले में दिल्ली की एक अदालत ने शनिवार को जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय (जेएनयू)...

ट्विटर अब ब्लू उपयोगकर्ताओं के साथ विज्ञापन राजस्व करेगा साझा : मस्क

सैन फ्रांसिस्को : ट्विटर के सीईओ एलोन मस्क ने घोषणा की कि माइक्रो-ब्लॉगिंग प्लेटफॉर्म अब उन क्रिएटर्स के साथ विज्ञापन राजस्व साझा करेगा, जिन्होंने अपने रिप्लाई थ्रेड्स में दिखाई देने...

अडानी संकट पर संसद में घिरी मोदी सरकार

नई दिल्ली। विवादित कारोबारी गौतम अडाणी की मुश्किलें लगातार बढ़ती जा रही हैं। हिंडनबर्ग रिसर्च रिपोर्ट के बाद से अडाणी समूह के शेयर औंधे मुंह रहे हैं। शुक्रवार दोपहर बाद शुरू...

आरोपी की मौत होने पर उत्तराधिकारी से वसूला जा सकता है जुर्माना: कर्नाटक हाईकोर्ट

बेंगलुरू : कर्नाटक उच्च न्यायालय ने एक महत्वपूर्ण फैसले में कहा है कि आरोपी की मौत होने पर उसकी संपत्ति या उसके उत्तराधिकारियों से जुर्माना वसूला जा सकता है। न्यायमूर्ति...

नई कर व्यवस्था में 7 लाख रुपये तक की आय पर कोई टैक्स नहीं : वित्त मंत्री

नई दिल्ली : वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने बुधवार को 2023-24 के लिए नए टैक्स स्लैब की घोषणा की, जिसके तहत नई आयकर व्यवस्था के तहत सालाना 7 लाख रुपये...

‘सार्वजनिक पूंजीगत खर्च बढ़ने पर बजट ने निराश नहीं किया’

चेन्नई : एक्यूट रेटिंग्स एंड रिसर्च के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि बजट 2023-24 सरकार द्वारा सार्वजनिक पूंजीगत व्यय की प्रतिबद्धता के संबंध में निराशाजनक नहीं है। "बाजार सरकार...

admin

Read Previous

26/11 आतंकी हमला : नर्ही सामने आई उच्चाधिकार प्राप्त जांच समिति की रिपोर्ट

Read Next

दिल्ली विश्वस्तरीय राजधानी बनेगी या हिंदू-मुस्लिम इलाकों में बांट दी जाएगी, भाजपा ने आप से पूछा सवाल

Leave a Reply

Your email address will not be published.

WP2Social Auto Publish Powered By : XYZScripts.com