मोदी ने 2024 से आगे भाजपा की सफलता के लिए ‘सोशल इंजीनियरिंग’ का मंत्र दिया

नई दिल्ली:जहां सभी राजनीतिक दल 2024 के लोकसभा चुनाव पर लक्ष्य बना रहे हैं, वहीं भारतीय जनता पार्टी 2029 के बाद भी सफलता की तलाश में है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इस सप्ताह की शुरुआत में हुई राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक में न केवल 2024, बल्कि 2029 के बाद भी पार्टी को सफलता मिलते रहने का मंत्र दिया।

भाजपा चुनावी मोड में है और विधानसभा के साथ-साथ लोकसभा चुनावों के लिए भी कमर कस चुकी है, जबकि इसके कार्यकारी सदस्य आगामी चुनावों पर पीएम मोदी के अधिक बोलने का इंतजार कर रहे थे। पीएम ने 2024 पर ज्यादा बात न करके उन्हें चौंका दिया, बल्कि उन्होंने 2029 से आगे भाजपा की सफलता के लिए भी सलाह दी।

सूत्रों के अनुसार, “उनका संदेश लोगों को एक साथ लाने के बारे में अधिक था – जैसे मुसलमानों और उन समुदायों तक पहुंचना, जिन्होंने भगवा पार्टी को वोट नहीं दिया है।” उन्होंने कहा कि काशी-तमिल संगमम जैसे उत्सवों का आयोजन – भारत को सही अर्थो में एकजुट करने के लिए है।

प्रधानमंत्री ने काशी-तमिल संगमम जैसे सांस्कृतिक कार्यक्रमों के बारे में बात की। उन्होंने कहा कि काशी और तमिलनाडु के लोगों के बीच अपने सांस्कृतिक संबंधों और धार्मिक जुड़ाव का जश्न मनाने के लिए एकता हासिल करने में मदद की। यह अंतत: लोगों को भाषा विभाजन को दूर करने में मदद कर सकता है, जो इतना मजबूत रहा है, और उत्तर-दक्षिण विभाजन जो दक्षिणी राज्यों में राजनीति का एक चरित्र बन गया है।

पीएम मोदी ने अन्य राज्यों में इस तरह के और आयोजन करने पर जोर दिया, ताकि भाषा, जाति, धर्म, संस्कृति और परंपरा की बाधाओं से परे देश में और अधिक सद्भाव हो सके।

तेलंगाना में हुई पिछली राष्ट्रीय कार्यकारिणी में पीएम मोदी ने पार्टी नेताओं से कहा था कि वे सोशल इंजीनियरिंग में शामिल हों और अन्य समुदायों में उप-जातियों या पिछड़ों तक पहुंचें। ये वे लोग हैं जो किसी भी मुद्दे पर पार्टी से नाराज होने पर या जब एक निश्चित समुदाय पार्टी से नाराज हो जाते हैं तो इससे फर्क पड़ता है।

साल 2024 में मोदी के तीसरे कार्यकाल की मांग के साथ, भाजपा को पसमांदा और बोहरा मुसलमानों जैसे समुदायों के विस्तार का काम सौंपा गया है।

भाजपा की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक से सभी समुदायों के लोगों को जोड़कर पार्टी की जड़ों का विस्तार करने का स्पष्ट संदेश सामने आया है, भले ही वे भाजपा के मतदाता न हों। साथ ही 2029 और उससे आगे का विजन देते हुए पीएम मोदी ने भाजपा के पक्ष में लोकसभा चुनाव 2024 का नतीजा दिया है।

पार्टी को लगता है कि 2029 तक उसे देश में क्षेत्रीय, जाति और भाषाई विभाजन को समाप्त करने की जरूरत है। यहां तक कि क्षेत्रीय दल भी भाजपा के भारत के सपने में बाधा नहीं बनेंगे। आधार मजबूत होने के बाद पार्टी आसानी से उन वैचारिक एजेंडे को लागू करने में सक्षम होगी, जो इसकी स्थापना के बाद से इसकी सूची में रहे हैं।

भारत को सही अर्थो में एक करने का दृष्टिकोण वही है जो पीएम ने राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक में भाजपा सदस्यों को दिखाया, जो आगामी राज्य चुनावों, लोकसभा चुनाव 2024 और जी20 शिखर सम्मेलन के दृष्टिकोण से भी एक महत्वपूर्ण बैठक थी।

–आईएएनएस

विशाखापत्तनम होगी आंध्र प्रदेश की नई राजधानी

नई दिल्ली। आंध्रप्रदेश की नई राजधानी विशाखापट्टनम होगी। प्रदेश के मुख्यमंत्री वाई एस जगन मोहन रेड्डी ने मंगलवार ये ऐलान किया है। सीएम रेड्डी ने कहा कि मैं भी आने वाले महीनों...

आर्थिक सर्वेक्षण : वित्त वर्ष 2023-24 के लिए जीडीपी 6.5 फीसदी रहने का अनुमान

नई दिल्ली : राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू के अभिभाषण के बाद मंगलवार को आर्थिक सर्वेक्षण 2022-23 जारी कर दिया गया। आर्थिक सर्वे में वित्त वर्ष 2023-24 के लिए रियल जीडीपी ग्रोथ...

पेशावर की मस्जिद में हुए आत्मघाती हमले में मरने वालों की संख्या 72 पहुंची

इस्लामाबाद : पाकिस्तान के पेशावर के पुलिस लाइन इलाके में एक मस्जिद में सोमवार को हुए जोरदार बम धमाका में मरने वालों की संख्या बढ़कर 72 हो गई है। मंगलवार...

पेशावर मस्जिद विस्फोट में 17 लोगों की मौत, 83 घायल

पेशावर : पाकिस्तान के पेशावर शहर में सोमवार को एक मस्जिद में हुए विस्फोट में कम से कम 17 लोगों की मौत हो गई और 83 अन्य घायल हो गए।...

एनआईए ने बीजापुर मुठभेड़ मामले में वांछित महिला नक्सली को किया गिरफ्तार

नई दिल्ली : छत्तीसगढ़ के बीजापुर मुठभेड़ मामले में राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) ने एक महिला माओवादी कैडर को गिरफ्तार किया है। 2021 में हुई मुठभेड़ में 22 पुलिसकर्मियों की...

     मुगल गार्डन का नाम अब अमृत उद्यान होगा 

 नई दिल्ली:  देशभर में ऐतिहासिक धरोहरों, स्थलों और शहरों के नाम बदलने का सिलसिला निरंतर जारी है। इसी क्रम में केंद्र सरकार ने अब फूलों की विभिन्‍न किस्‍मों के लिए...

धनबाद के निजी अस्पताल में आग से दो डॉक्टरों सहित छह की मौत

धनबाद : धनबाद शहर के एक प्राइवेट हॉस्पिटल में आग लगने से दो डॉक्टरों सहित छह लोगों की मौत हो गई है। शहर के बैंक मोड़ थाना क्षेत्र के टेलीफोन...

मोरबी त्रासदी : 1,262 पन्नों की चार्जशीट दाखिल, जयसुख पटेल मुख्य आरोपी

मोरबी : गुजरात पुलिस ने शुक्रवार को मोरबी पुल ढहने के मामले में 1,262 पन्नों की चार्जशीट पेश की और ओरेवा समूह के निदेशक जयसुख पटेल को मुख्य आरोपी बनाया।...

गणतंत्र दिवस परेड में स्वदेशी हथियारों की झलक, भारतीय तोप से 21 तोपों की सलामी

नई दिल्ली : 26 जनवरी को कर्तव्य पथ पर गणतंत्र दिवस परेड में स्वदेशी व आधुनिक हथियारों की बेहतरीन झलक देखने को मिली। परंपरा के अनुसार सबसे पहले राष्ट्रीय ध्वज...

बीबीसी डॉक्यूमेंट्री स्क्रीनिंग : जामिया विवि के 4 छात्र हिरासत में लिए गए 

नई दिल्ली:| जामिया मिलिया इस्लामिया विश्वविद्यालय के छात्र संगठन स्टूडेंट्स फेडरेशन ऑफ इंडिया (एसएफआई) से जुड़े चार छात्रों को हिरासत में लिया गया है। बुधवार शाम जनसंचार विभाग में प्रधानमंत्री...

लखनऊ में जमींदोज हुई बिल्डिंग से जिंदगी बचाने की जंग जारी, जांच के लिए कमेटी गठित

लखनऊ : उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में मंगलवार को अलाया अपार्टमेंट की बिल्डिंग अचानक जमींदोज हो गई। देखते ही देखते कई परिवार मलबे में दब गए हैं। बीते 16...

घमासान दर घमासान, नीतीश कब करेंगे समाधान

नई दिल्ली, फ़ज़ल इमाम मल्लिक: बिहार में सियासी तापमान फान पर है। नीतीश कुमार समाधान यात्रा पर हैं लेकिन उनकी सरकार, दल और गठबंधन दोनों संकट में है। आम लोगों...

akash

Read Previous

भाजपा के लिए ‘संजीवनी’ साबित होंगे नेताओं के विवादास्पद बयान

Read Next

सिद्दारमैया ने ‘वोट बांटने’ के लिए एसडीपीआई पर प्रतिबंध नहीं लगाने के लिए भाजपा की आलोचना की

Leave a Reply

Your email address will not be published.

WP2Social Auto Publish Powered By : XYZScripts.com