अमेरिका व यूरोप की तर्ज पर फूड ट्रक पॉलिसी वाला पहला राज्य बनेगा दिल्ली

नई दिल्ली: दिल्ली सरकार द्वारा 28 जनवरी से 26 फरवरी 2023 तक विश्वस्तरीय दिल्ली शॉपिंग फेस्टिवल आयोजित किया जाएगा। इसके तहत दिल्ली के लोगों और दिल्ली की संस्कृति का अनुभव करने के साथ-साथ शॉपिंग करने के लिए देश और दुनिया भर के लोगों को निमंत्रित किया जाएगा। पूरे फेस्टिवल के दौरान लोगों को शॉपिंग के लिए आकर्षक ऑफर व डिस्काउंट दिया जाएगा। शॉपिंग फेस्टिवल से घरेलू और विदेशी सहित भारी संख्या में पर्यटकों आकर्षित होंगे। जिससे होटल, रेस्तरां और अन्य व्यवसायों को बड़े पैमाने पर लाभ होगा। इससे इन क्षेत्रों में कार्यरत 10 लाख से अधिक लोगों के जीवन पर प्रभाव पड़ेगा और दिल्ली की अर्थव्यवस्था को एक बड़ा बढ़ावा मिलेगा। सरकार द्वारा दिल्ली शॉपिंग फेस्टिवल की स्पेशल ओपनिंग और क्लोजिंग सेरेमनी भी आयोजित की जाएगी। एक महीने के इस फेस्टिवल के दौरान युवाओं और परिवार के लिए अनलिमिटेड इंटरटेनमेंट होगा। इसमें कई सारी प्रदर्शनियां लगाई जाएंगी। मसलन, अध्यात्मिक के ऊपर प्रदर्शनी होगी। गेमिंग, खासकर कंप्यूटर गेम को लेकर प्रदर्शन होगी। टेक्नोलॉजी, हेल्थ के ऊपर प्रदर्शनी होगी। इसके अलावा, मनोरंजन के बहुत सारे कार्यक्रम आयोजित किए जाएंगे। इसमें दुनिया भर से टॉप के आर्टिस्ट को निमंत्रित किया जाएगा। इस एक महीने के अंदर मनोरंजन के 200 से अधिक कार्यक्रम आयोजित किए जाएंगे।

दिल्ली की रात्रि की अर्थव्यवस्था को बेहतर बनाने और नागरिकों को बेहतर नाईटलाइफ देने के लिए दिल्ली सरकार ने रोजगार बजट के तहत दिल्ली की पहली फूड ट्रक पॉलिसी लाने की घोषणा की है। सरकार की एजेंसीज द्वारा इस पॉलिसी को मूर्त रूप देने की दिशा में काम किया जा रहा है। मंगलवार को इस विषय की समीक्षा बैठक में अधिकारियों ने वित्तमंत्री मनीष सिसोदिया को जानकारी दी कि स्टेकहोल्डर्स से बातें करने व अन्य देशों के फूड-ट्रक मॉडलों को स्टडी करने के बाद फूड सेफ्टी व हाइजीन का ध्यान रखते हुए दिल्ली के लिए पहली फूड-ट्रक पॉलिसी बनाई जा रही है। यह लगभग बनकर तैयार है और जल्द ही इस पॉलिसी की घोषणा की जाएगी।

इस मौके पर वित्त मंत्री मनीष सिसोदिया ने कहा कि इन सभी प्रोजेक्ट्स के माध्यम से दिल्ली सरकार का उद्देश्य दिल्ली की अर्थव्यवस्था को गति देनी है और बड़ी संख्या में रोजगार के अवसर तैयार करने है। उन्होंने कहा कि सरकार के इन प्रोजेक्ट्स से न केवल व्यापारियों का व्यापार बढ़ेगा, बल्कि दिल्ली के बाजारों को वैश्विक पहचान मिलेगी, देश विदेश से लोग फेस्टिवल में शामिल होने के लिए दिल्ली में आयेंगे जिससे पर्यटन को बढ़ावा, नागरिकों को खरीददारी करने का शानदार अनुभव मिलेगा।

फूड ट्रक पॉलिसी पर सिसोदिया ने कहा कि इस पॉलिसी से दिल्ली का नाईट-कल्चर वाइब्रेंट बनेगा। उन्होंने आगे कहा कि फूड ट्रक से जुड़ा व्यवसाय भारत के लिए नया नहीं है, लेकिन देश के किसी भी राज्य ने इस व्यवसाय को सुव्यवस्थित करने और इस क्षेत्र में रोजगार के अवसरों को बढ़ाने के लिए कोई पॉलिसी नहीं बनाई है। इस दिशा में दिल्ली फूड ट्रक पॉलिसी लाने वाला देश का पहला राज्य बनेगा।

उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने मंगलवार को अधिकारियों के साथ बैठक कर दिल्ली शॉपिंग फेस्टिवल, रिटेल मार्केट के पुनर्विकास व फूड ट्रक पॉलिसी आदि से संबंधी चल रहे विभिन्न प्रोजेक्ट्स के प्रगति की भी समीक्षा की।

बहुप्रतीक्षित व बहुउद्देशीय दिल्ली शॉपिंग के प्रगति के विषय में वित्तमंत्री को अवगत करवाते हुए अधिकारियों ने बताया कि दिल्ली शॉपिंग फेस्टिवल को लेकर संबंधित एजेंसीज ने विभिन्न मार्केट के प्रतिनिधियों, व्यापार मंडलों से कई स्तर पर बातचीत की है। सिसोदिया ने बताया कि मार्केट एसोसिएशनों तथा व्यापारियों में दिल्ली शॉपिंग फेस्टिवल को लेकर बहुत उत्साह है और वे बेसब्री से दिल्ली के पहले शॉपिंग फेस्टिवल का इंतजार कर रहे हैं व इसके क्रियान्वयन के हर स्तर पर सरकार के साथ मिलकर काम करने को तैयार है।

–आईएएनएस

editors

Read Previous

कश्मीरी पंडितों की लक्षित हत्याओं पर ओवैसी ने केंद्र की आलोचना की

Read Next

बंगाल में बिना पैसे दिए भर्ती नहीं होती : कलकत्ता हाई कोर्ट

Leave a Reply

Your email address will not be published.

WP2Social Auto Publish Powered By : XYZScripts.com