वरिष्ठ वकील ने अदाणी समूह पर हिंडनबर्ग की रिपोर्ट में ‘चीनी लिंक’ की ओर किया इशारा

नई दिल्ली । वरिष्ठ वकील महेश जेठमलानी ने आरोप लगाया है कि शॉर्ट-सेलर हिंडनबर्ग रिसर्च की रिपोर्ट के पीछे एक एक बड़े बिजनेसमैन का हाथ था, जिसका चीन से लिंक था। इसी रिपोर्ट के बाद अदाणी समूह की कंपनियों के शेयर गिर गए थे।

सोशल मीडिया एक्स पर एक लंबी पोस्ट में, जेठमलानी ने दावा किया कि अमेरिकी कारोबारी मार्क किंगडन ने अदाणी समूह पर एक रिपोर्ट तैयार करने के लिए हिंडनबर्ग को काम पर रखा था।

उन्होंने एक्स पर लिखा, “हिंडनबर्ग द्वारा अदाणी शेयरों की शॉर्ट सेल के घिनौने मामले में यह एक बड़ा खुलासा है।”

जेठमलानी ने आगे कहा, “जो लोग चीनी जासूस अनला चेंग के बारे में जानना चाहते हैं, उनके बारे में बताएं कि उन्होंने अपने पति मार्क किंगडन के साथ मिलकर अदाणी पर एक रिसर्च रिपोर्ट के लिए हिंडनबर्ग को काम पर रखा था, और अदाणी के शेयरों को बेचने के लिए ट्रेडिंग अकाउंट की सुविधा के लिए कोटक की सेवाएं ली थीं।”

वरिष्ठ वकील ने आरोप लगाया, “उन्होंने अपनी शॉर्ट सेलिंग से लाखों डॉलर कमाए; जिसने अदाणी के मार्केट कैप को काफी हद तक नष्ट कर दिया। इन लोगों ने भारतीय खुदरा निवेशकों के बारे में कोई विचार नहीं किया। यह सब कुछ चीनी रणनीतिक हितों को बढ़ावा देने के लिए किया गया। अपने नापाक इरादे से रिटेल इनवेस्टर को तबाह करने की कोशिश की…”।

किंगडन ने कोटक की अंतरराष्ट्रीय निवेश शाखा कोटक महिंद्रा इन्वेस्टमेंट्स लिमिटेड (केएमआईएल) से भी संपर्क किया। इसके बाद एक ऑफशोर फंड के साथ-साथ अदाणी शेयरों में व्यापार के लिए ऑफशोर खाते भी खोले गए। इसके चलते कोटक इंडिया ऑपर्च्युनिटी फंड (केआईओएफ) का निर्माण हुआ।

इससे पहले भारतीय प्रतिभूति एवं विनिमय बोर्ड (सेबी) ने हिंडनबर्ग रिसर्च, नाथन एंडरसन और मॉरीशस स्थित विदेशी पोर्टफोलियो निवेशक (एफपीआई) किंगडन की संस्थाओं को अदाणी एंटरप्राइजेज लिमिटेड के शेयरों में व्यापार उल्लंघन के लिए कारण बताओ नोटिस जारी किया था।

बाजार नियामक की जांच में यह भी पता चला है कि कोटक महिंद्रा और हिंडेनबर्ग ने अदाणी के शेयरों में शॉर्ट पोजीशन लेने के लिए मिलकर साजिश रची।

जेठमलानी ने अपने पोस्ट में जिस “स्मोकिंग गन” का उल्लेख किया है कि वह किंगडन की पत्नी अनला चेंग है, जो एक चीनी-अमेरिकी हैं, जिनकी किंगडन मास्टर फंड में बड़ी हिस्सेदारी है और अमेरिका में चीनी हितों के लिए लॉबिंग करती हैं।

जेठमलानी ने दावा किया है कि अदाणी समूह दुनिया के कई हिस्सों में निवेश कर रहा है जिसमें इजरायल में हाइफा बंदरगाह और श्रीलंका के जाफना के पास कोयला परियोजनाओं में निवेश शामिल है। इसी को रोकने के लिए चेंग और किंगडन ने पूरी साजिश रची।

जेठमलानी ने तीन प्रमुख सवाल भी उठाए। उन्होंने पूछा, “किंगडन को केएमआईएल से किसने परिचित कराया, किंगडन के संबंध में केएमआईएल ने क्या जांच-पड़ताल की और क्या उसने प्रमुख के रूप में शॉर्ट सेल में भाग लिया था।”

दूसरा सवाल यह कि क्या हिंडनबर्ग की मदद करने वाले सभी भारतीय लोगों, संगठनों और संस्थाओं को शॉर्ट-सेलिंग के बारे में पता था और क्या उन्हें इससे कोई फायदा हुआ। जेठमलानी ने विपक्ष पर कटाक्ष करते हुए विशेष रूप से राजनेताओं का उल्लेख किया, जिन्होंने कई मौकों पर अदाणी-हिंडनबर्ग मुद्दे का इस्तेमाल समूह और सरकार को निशाना बनाने के लिए किया है।

जेठमलानी ने यह भी पूछा कि क्या इन लोगों और संस्थाओं को चीनी लिंक के बारे में पता था।

हिंडनबर्ग ने आरोप लगाया था कि बाजार नियामक सेबी ने “हम पर अधिकार क्षेत्र का दावा करने के लिए खुद को उलझा लिया है, लेकिन इसके नोटिस में स्पष्ट रूप से उस पार्टी का नाम नहीं बताया गया है जिसका भारत से वास्तविक संबंध है: कोटक बैंक — भारत के सबसे बड़े बैंकों और ब्रोकरेज फर्मों में से एक, जिसकी स्थापना उदय कोटक ने की थी, जिसने हमारे निवेशक साझेदार द्वारा अदाणी के खिलाफ दांव लगाने के लिए इस्तेमाल किए गए ऑफशोर फंड ढांचे का निर्माण और देखरेख की थी”।

हिंडनबर्ग ने दावा किया कि समूह ने “केवल के-इंडिया ऑपर्च्युनिटीज फंड का नाम रखा और ‘कोटक’ नाम को ‘केएमआईएल’ के संक्षिप्त नाम से छुपा दिया”।

कोटक महिंद्रा बैंक की एक इकाई कोटक महिंद्रा (इंटरनेशनल) लिमिटेड ने जवाब दिया है कि हिंडनबर्ग कभी भी समूह के के-इंडिया ऑपर्च्युनिटीज फंड (केआईओएफ) और कोटक महिंद्रा इंटरनेशनल लिमिटेड (केएमआईएल) का क्लाएंट नहीं था।

–आईएएनएस

बजट: ग्रामीण इंफ्रास्ट्रक्चर में निवेश से अर्थव्यवस्था होगी मजबूत : विशेषज्ञ

नई दिल्ली | ग्रामीण क्षेत्रों में अर्थव्यवस्था को उभारने के लिए पारंपरिक और नए सेक्टर दोनों में निवेश करने की आवश्यकता है। यह बात विशेषज्ञों ने कही। विशेषज्ञों का मानना...

कैपिटल गुड्स, डिफेंस, इलेक्ट्रॉनिक व टूरिज्म सेक्टर पर दिख सकता है बजट का असर

नई दिल्ली । केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण की ओर से आम बजट 23 जुलाई को पेश किया जाएगा। स्टॉक मार्केट एक्सपर्ट्स का मानना है कि बजट में चार सेक्टरों...

दक्षिण कोरिया: सरकार को मेडिकल प्रोफेसरों की चेतावनी, जूनियर डॉक्टरों के प्रशिक्षण का करेंगे बहिष्कार

सोल । दक्षिण कोरिया में पिछले कुछ समय से चिकित्सा-व्यवस्था को लेकर उठा विवाद बढ़ता ही जा रहा है। इस विवाद के बीच दक्षिण कोरियाई मेडिकल प्रोफेसरों ने जूनियर डॉक्टरों...

साइबर एक्सपर्ट ने बताई माइक्रोसॉफ्ट के विकल्प की जरूरत, ग्लोबल स्तर पर जांच की मांग

नई दिल्ली । माइक्रोसॉफ्ट की ग्लोबल क्लाउड सर्विस में आई खराबी के कारण हवाई अड्डों पर उड़ानों में देरी हो रही है। इस खराबी के कारण भारत भी प्रभावित हुआ...

चीन ने गओफेन 11-05 उपग्रह का सफलतापूर्वक प्रक्षेपण किया

बीजिंग । थाईयुआन उपग्रह प्रक्षेपण केंद्र से शुक्रवार को 11 बजकर 03 मिनट पर, गओफेन 11-05 उपग्रह लॉन्ग मार्च 4बी वाहक रॉकेट द्वारा प्रक्षेपित किया गया और सुचारू रूप से...

सेंसेक्स करीब एक प्रतिशत फिसलकर बंद, निवेशकों के डूबे 8 लाख करोड़ रुपये

मुंबई । भारतीय शेयर बाजार में शुक्रवार को चौतरफा बिकवाली देखने को मिली। कारोबार के अंत में सेंसेक्स 738 अंक या 0.91 प्रतिशत गिरकर 80,604 और निफ्टी 270 अंक या...

भारत को पांच ट्रिलियन डॉलर की अर्थव्यवस्था बनाने में महत्वपूर्ण होगी फिन टेक की भूमिका : दिलीप चिनॉय

नई दिल्ली । दिल्ली में गुरुवार को दूसरे अंतर्राष्ट्रीय फिनटेक महोत्सव का आयोजन किया गया। कार्यक्रम में इंडस्ट्री से जुड़े लोगों को सम्मानित भी किया गया। भारत को पांच ट्रिलियन...

अदाणी ग्रीन की नवाचारी परियोजनाओं की मदद से शून्य-उत्सर्जन की तरफ बढ़ रहा भारत : अमेरिकी राजदूत गार्सेटी

अहमदाबाद । भारत में अमेरिका के राजदूत एरिक गार्सेटी ने मंगलवार को कहा कि गुजरात के खावड़ा में अदाणी समूह के नवीकरणीय ऊर्जा संयंत्र का उनका दौरा एक सीखने वाला...

शेयर बाजार में तेजी, अदाणी एंटरप्राइजेज को सबसे ज्यादा लाभ

मुंबई । अगले सप्ताह पेश होने वाले बजट से पहले मंगलवार को भारतीय बेंचमार्क सूचकांक एक बार फिर पॉजिटिव नोट पर खुले। शुरुआती कारोबार में निफ्टी पर अदाणी एंटरप्राइजेज, कोल...

ओपी जिंदल ग्लोबल यूनिवर्सिटी ने संयुक्त राष्ट्र विश्वविद्यालय के साथ समझौता ज्ञापन पर किए हस्ताक्षर

सोनीपत । ओपी जिंदल ग्लोबल यूनिवर्सिटी (जेजीयू) और जापान के संयुक्त राष्ट्र विश्वविद्यालय ने उच्च शिक्षा व अनुसंधान के क्षेत्र में दोस्ती और सहयोग को स्थापित करने के लिए एक...

एसबीआई से कर्ज लेना हुआ महंगा

मुंबई । देश के सबसे बड़े ऋणदाता भारतीय स्टेट बैंक (एसबीआई) ने सोमवार से अपनी बेंचमार्क सीमांत लागत ऋण दर (एमसीएलआर) में 0.05 प्रतिशत से 0.10 प्रतिशत तक की वृद्धि...

आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस है उद्योग जगत का भविष्य: विशेषज्ञ

पेरिस | विशेषज्ञों ने शनिवार को कहा कि मानव केंद्रित मोबाइल आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस (एआई) ही उद्योग जगत का भविष्य है और यूजर्स के लिए हाइब्रिड एआई सर्वश्रेष्ठ संभावित मोबाइल एआई...

admin

Read Previous

2047 तक विकसित राष्ट्र बनने की ओर भारत : एनके सिंह

Read Next

लेबर पार्टी के स्टार्मर ने दी विक्ट्री स्पीच, कहा- आपने हमारे देश को बदल दिया

Leave a Reply

Your email address will not be published.

WP2Social Auto Publish Powered By : XYZScripts.com