छत्तीसगढ़ में मछली पालन को खेती का दर्जा मिलने से बढ़ी आमदनी

सरगुजा, 18 जनवरी (आईएएनएस)| छत्तीसगढ़ में मछली पालन को खेती का दर्जा मिलने से जहां मछली पालन के लिए सुविधाओं में वृद्धि हुई हैं, वहीं इस व्यवसाय से राज्य में कई महिला स्व-सहायता समूह जुड़ रही हैं। सरगुजा जिले की ऐसा ही एक महिला समूह है जिन्होंने कुंवरपुर डैम में केज कल्चर विधि से मछली पालन कर केवल 10 महीनों में 13 लाख रूपए की आमदनी अर्जित की है।

सरगुजा जिले के ग्राम पंचायत कुंवरपुर में एकता स्व सहायता समूह की अध्यक्ष मानकुंवर पैकरा ने बताया कि केज कल्चर विधि से मछली पालन के लिए मत्स्य विभाग से तकनीकी मार्गदर्शन मिला और समूह में तिलापिया और पंगास मछली का पालन शुरू किया। उनके समूह ने लगभग 10 माह पहले मछली पालन करना शुरू किया था। अब तक लगभग 13 लाख रुपये की मछली बेची है। इसके साथ ही लगभग चार लाख की मछली बिक्री के लिए तैयार हो गई हैं। मछली पालन से सभी महिलाओं की आर्थिक स्थिति मजबूत हुई है।

पैकरा बताया कि मत्स्य संपदा योजना के अंतर्गत उन्हें 18 लाख का अनुदान दिया गया था। इसके पश्चात कलेक्टर कुंदन कुमार ने डीएमएफ से 12 लाख का अनुदान प्रदान किया। समूह के द्वारा प्राप्त अनुदान से कुंवरपुर जलाशय में केज कल्चर मछली पालन का कार्य किया गया। उन्होंने बताया कि मछली पालन के साथ ही समूह की महिलाएं गौठान में विभिन्न प्रकार के रोजगारमूलक कार्य भी करती हैं।

गौरतलब है कि छत्तीसगढ़ मत्स्य बीज उत्पादन में पांचवें और मत्स्य उत्पादन में देश के छठवें स्थान पर हैं। प्रदेश में पिछले चार सालों में मत्स्य बीज उत्पादन में 20 प्रतिशत की वृद्धि हुई है। साथ ही मछली पालन करने वाले किसानों को 40 से 60 प्रतिशत तक सब्सिडी दी जा रही है। राज्य में नील क्रांति और प्रधानमंत्री मत्स्य सम्पदा योजना के माध्यम से नौ चायनीज हेचरी और 364.92 हेक्टेयर संवर्धन क्षेत्र नया निर्मित हुआ है। इससे राज्य में मत्स्य उत्पादन में 29 प्रतिशत की वृद्धि हुई है और यह अब बढ़कर 5.91 लाख टन हो गया है।

राज्य में पिछले चार वर्षों में 2400 से ज्यादा तालाब बनाए जा चुके हैं। इसी के साथ जलाशयों और बंद पड़ी खदानों में अतिरिक्त और सघन मछली उत्पादन के लिए छह बाय, चार बाय चार मीटर के केज स्थापित करवाए गए है। चार वर्षों में 3637 केज स्थापित हुए हैं। इस केज से प्रत्येक हितग्राही को 80 हजार से 1.20 लाख रूपए तक आय होती है। प्रदेश में चार सालों में छह फीड भी निजी क्षेत्रों में स्थापित हो चुके हैं।

–आईएएनएस

झारखंड में मंडी शुल्क के खिलाफ अनाज व्यापारियों का आंदोलन

रांची: झारखंड में मंडी शुल्क के नए कानून के खिलाफ राज्य भर के कारोबारियों ने आंदोलन की राह पकड़ ली है। 8 फरवरी को राज्य के खाद्यान्न दुकानदारों और राइस-फ्लोर...

वकील ने एससी से आग्रह किया- अडानी फर्मों पर मीडिया रिपोटरें को सेबी द्वारा सत्यापित किए जाने तक रोकें

नई दिल्ली:सर्वोच्च न्यायालय में एक याचिका दायर की गई है, जिसमें मांग की गई है कि मीडिया को अडानी समूह की फर्मों के संबंध में आरोपों को तब तक प्रकाशित...

छत्तीसगढ़ में ग्रामीण उद्योग नीति लाने की तैयारी

रायपुर: छत्तीसगढ़ देश के उन राज्यों में शुमार है जहां नवाचारों का दौर जारी है, अब राज्य में उद्योग नीति की तर्ज पर जल्द ही ग्रामीण उद्योग नीति बनाने की...

अनुसूचित वाणिज्यिक बैंकों के शीर्ष 10 उधारकर्ताओं का एक्सपोजर 12,71,604 करोड़ रुपये

नई दिल्ली: केंद्रीय वित्त मंत्रालय ने सोमवार को लोकसभा में एक लिखित उत्तर में बताया कि अनुसूचित वाणिज्यिक बैंकों के शीर्ष 10 कर्जदारों के लिए कुल एक्सपोजर 12,71,604 करोड़ रुपये...

ट्रेन में सफर के दौरान अब व्हाट्सऐप से ऑनलाइन खाना ऑर्डर कर सकेंगे यात्री

नई दिल्ली:भारतीय रेलवे ने ट्रेन में सफर के दौरान अब व्हाट्सऐप से ऑनलाइन खाना ऑर्डर करने की नई सेवा शुरू की है। भारतीय रेलवे के पीएसयू, आईआरसीटीसी (भारतीय रेलवे खानपान...

छत्तीसगढ़ में गौठान बने आर्थिक गतिविधियों के केंद्र

रायपुर:छत्तीसगढ़ में गौठान आर्थिक गतिविधियों के केंद्र में बदल रहे हैं। यह ऐसे केंद्र हैं जहां गोबर और गौमूत्र से विविध उत्पाद बनाने बनाए जा रहे हैं तो वहीं आमजन...

कांग्रेस ने बजट को गरीब विरोधी बताया

नई दिल्ली:केंद्र सरकार जहां बजट को जनहितैषी बता रही है, वहीं कांग्रेस ने इसकी आलोचना की है। कांग्रेस के नेताओं ने बेरोजगारी, महंगाई आदि के मामले में केंद्र सरकार पर...

अगले एक साल रेलवे करेगा आधुनिकीकरण, देशभर में सबसे ज्यादा फंड यूपी को

नई दिल्ली:अगले एक साल रेलवे आधुनिकीकरण, हरित ट्रेन, हरित ऊर्जा, पर्यटन, हाई स्पीड ट्रेन, महत्वपूर्ण कॉरीडोर, रेलवे के आधुनिकीकरण और ट्रेक के विस्तार पर काम करेगा। रेलवे ने देशभर में...

बिहार का यह ‘बुनकरों का गांव’ अब अस्तित्व बचाने के लिए कर रहा संघर्ष

गया (बिहार): बिहार का 'मैनचेस्टर' कहे जाने वाले गया जिले में मानपुर के पटवा टोली में अब वह स्थिति नहीं है जब इसकी पहचान बुनकरों के गांव के रूप में...

बीएमसी : पहली बार नगर निकाय का बजट 50,000 करोड़ रुपये के पार

मुंबई:देश की सबसे अमीर बृहन्मुंबई नगर निगम (बीएमसी) का 2023-2024 के लिए बजट पहली बार 50,000 करोड़ रुपये के स्तर को पार कर गया है, जो देश के कई छोटे...

बजट में ग्रामीण अर्थव्यवस्था पर कम ध्यान, पुनरुद्धार में समय लगेगा

नई दिल्ली:बजट में ग्रामीण अर्थव्यवस्था पर ध्यान वर्षों से कम होता जा रहा है और ऐसे में ग्रामीण अर्थव्यवस्था के पुनरुद्धार में समय लगेगा, जेएम फाइनेंशियल ने एक रिपोर्ट में...

ट्विटर अब ब्लू उपयोगकर्ताओं के साथ विज्ञापन राजस्व करेगा साझा : मस्क

सैन फ्रांसिस्को : ट्विटर के सीईओ एलोन मस्क ने घोषणा की कि माइक्रो-ब्लॉगिंग प्लेटफॉर्म अब उन क्रिएटर्स के साथ विज्ञापन राजस्व साझा करेगा, जिन्होंने अपने रिप्लाई थ्रेड्स में दिखाई देने...

akash

Read Previous

पाकिस्तान की ऑस्कर प्रविष्टि फिल्म ‘जॉयलैंड’ जरुर देखना चाहिए : प्रियंका चोपड़ा

Read Next

दुती चंद का डोप टेस्ट आया पॉजिटिव : रिपोर्ट

Leave a Reply

Your email address will not be published.

WP2Social Auto Publish Powered By : XYZScripts.com