यूपी के उपचुनाव में भी होगी कांग्रेस-सपा गठबंधन की परीक्षा

लखनऊ । लोकसभा चुनाव के बाद यूपी में होने वाले उपचुनाव में सपा-कांग्रेस के गठबधन की परीक्षा होगी, क्योंकि जिन सीटों पर चुनाव होने हैं, उनमें से ज्यादातर सीटों पर भाजपा और सपा के उम्मीदवार ही जीते हैं। हालांकि, इनमें से कितनी सीटों पर दोनों दलों की सहमति बनेगी, इस पर भी सबकी नजर टिकी हुई है।

लोकसभा चुनाव के बाद फूलपुर, खैर, गाजियाबाद, मझावन, मीरापुर, अयोध्या, करहल, कटेहरी, कुंदरकी विधानसभा क्षेत्रों पर उपचुनाव होना तय हो गया है। इसके साथ अभी हाल में कानपुर के विधायक को हुई सजा के बाद वहां भी उपचुनाव की संभावना बन रही है। भाजपा व सहयोगी दलों ने लोकसभा चुनाव के मैदान में सबसे ज्यादा आठ विधायकों को चुनावी मैदान में उतारा था। वहीं, समाजवादी पार्टी ने छह विधायकों को चुनावी रण में उतारा था।

राजनीतिक जानकार बताते हैं कि कांग्रेस को लोकसभा में छह सीटों पर सफलता मिली है। इस कारण पार्टी को संजीवनी मिल गई है। ऐसे में वह उपचुनाव में कुछ सीटों की डिमांड कर सकती है। हालांकि, इसमें ज्यादातर सीटें सपा के पाले की हैं। ऐसे में यह लोग सपा से कितना मोलभाव कर सकते हैं। यह समय बताएगा। लोकसभा चुनाव में हर कदम मिलाकर सपा के साथ चलने वाली कांग्रेस क्या सपा के प्रत्याशियों के जिताने के लिए उसी तरह अपने कार्यकर्ताओं को सक्रिय करेगी। यह भी देखना होगा।

सियासी जानकार बताते हैं कि ताजा चुनाव परिणाम से उत्साहित कांग्रेस व सपा दोनों की नजर अभी से अगले विधानसभा चुनाव पर है। इससे पूर्व नौ सीटों पर उपचुनाव दोनों दलों के लिए आपसी रिश्तों व प्रदर्शन के लिहाज से महत्वपूर्ण होगा। खासकर कांग्रेस के सामने अपने जनाधार को बचाए रखने की भी बड़ी चुनौती है।

कांग्रेस संगठन के महासचिव अनिल यादव का कहना है कि सपा के साथ हमारा गठबंधन है। उपचुनाव पर हमारे बड़े नेता इस पर बात करेंगे। उसके लिए एक कमेटी बनी है। अभी यूपी उपचुनाव की कोई तिथि भी नहीं आई है।

सपा प्रवक्ता सुनील साजन कहते हैं कि हमारा कांग्रेस के साथ गठबंधन है। उपचुनाव मिलकर लड़ेंगे या अकेले, इस पर फैसला राष्ट्रीय अध्यक्ष तय करेंगे। जहां हमारी सीट है, वहां कांग्रेस क्यों लड़ेगी। जो भी होगा हमारे नेता आपस में बैठकर तय कर लेंगे। उपचुनाव की सारी सीटें सपा ने जीतने का लक्ष्य रखा है। हम यूपी में कांग्रेस के साथ गठबंधन में हैं और रहेंगे।

वरिष्ठ पत्रकार सुनीता ऐरन का कहना है कि 2017 के चुनाव में सपा और कांग्रेस का गठबंधन ज्यादा कामयाब नहीं हुआ था। लेकिन, 2024 के लोकसभा चुनाव में गठबंधन दोनों के लिए काफी मुफीद साबित हुआ। दोनों दलों ने काफी बढ़त बनाई है। कांग्रेस का चुनाव प्रतिशत गिरा था। वह भी ठीक हुआ। अखिलेश की पार्टी राष्ट्रीय स्तर पर तीसरे नंबर की पार्टी बन गई है। सबसे बड़ी खासियत उनके मतदाताओं ने एक दूसरे के गठबंधन को स्वीकार किया है। अभी फिलहाल 2027 तक दोनों का गठबंधन चलना चाहिए। लेकिन, एक-दूसरे के लिए काफी गिव एंड टेक करना पड़ेगा।

–आईएएनएस

उत्तराखंड में भाजपा सरकार की गलत नीतियों से लोग दुखी : मायावती

लखनऊ । बहुजन समाज पार्टी (बसपा) की राष्ट्रीय अध्यक्ष मायावती ने उत्तराखंड उपचुनाव के नतीजों को लेकर कहा कि राज्य में भाजपा सरकार की गलत नीतियों और द्वेषपूर्ण कार्यशैली से...

यूपी में लखनऊ-आगरा एक्सप्रेसवे पर भीषण हादसा, 18 लोगों की मौत, सीएम योगी ने दुख जताया

उन्नाव । उत्तर प्रदेश के उन्नाव में लखनऊ-आगरा एक्सप्रेसवे पर बुधवार को एक भीषण हादसा हो गया, जिसमें 18 लोगों की मौत हो गई और 19 लोग घायल बताए जा...

उत्तर प्रदेश के 948 विरासत वृक्षों को संवारेगी योगी सरकार

लखनऊ । उत्तर प्रदेश सरकार 'विरासत वृक्ष अंगीकरण योजना' के तहत सूबे के 948 विरासत वृक्षों को संवारेगी। 100 वर्ष से अधिक आयु के 28 प्रजाति के वृक्षों को 'विरासत...

उत्तराखंड में मानसून के दौरान ग्राम प्रहरियों को एक्टिव करने के निर्देश

देहरादून । उत्तराखंड के कई इलाकों में मानसून के कारण भारी बारिश हो रही है। मौसम विभाग के बारिश को लेकर जारी किए गए पूर्वानुमान को देखते हुए आपदा प्रबंधन...

हाथरस हादसे पर सीएम योगी ने जताया दुख, टीम गठित कर जांच के दिए निर्देश

लखनऊ । उत्तर प्रदेश के हाथरस में मंगलवार को सत्संग में भगदड़ मचने से 50 से ज्यादा लोगों की मौत हो गई। हादसे में कई महिलाएं और बच्चे भी घायल...

संविधान का गला घोंटने के लिए देश की जनता से माफी मांगे कांग्रेस : सीएम योगी

लखनऊ । आपातकाल की 50वीं बरसी के मौके पर उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कांग्रेस पर जमकर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि कांग्रेस पार्टी को संविधान का गला...

मायावती ने भतीजे आकाश आनंद को फिर से बनाया अपना उत्तराधिकारी

लखनऊ । बहुजन समाज पार्टी (बसपा) की राष्ट्रीय अध्यक्ष मायावती ने अपने भतीजे आकाश आनंद एक बार फिर से उत्तराधिकारी घोषित कर दिया है। आकाश आनंद को फिर से पार्टी...

यूपी कैबिनेट में तबादला नीति को मिली मंजूरी

लखनऊ । उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की अध्यक्षता में मंगलवार को हुई कैबिनेट बैठक में तबादला नीति 2024-25 को मंजूरी दे दी गई है। लोकसभा चुनाव के बाद...

नोएडा : पब-बार में नाइट विजन कैमरा लगाने के निर्देश, शराब मिक्सिंग पर होगी कार्रवाई

नोएडा । उत्तर प्रदेश के शो विंडो गौतमबुद्ध नगर के मॉल और मिनी कनॉट प्लेस कहे जाने वाले सेक्टर-18 में बड़ी संख्या में पब-बार हैं। इनमें अक्सर मारपीट, लड़ाई-झगड़ा जैसी...

हरियाणा में दो ट्रकों की भीषण टक्कर में दो जिंदा जले

रायपुर रानी (हरियाणा) । हरियाणा में रायपुर रानी के गांव गोलपुरा के पास नेशनल हाईवे पर देर रात एक बड़ा सड़क हादसा हो गया। मिली जानकारी के अनुसार, आमने-सामने दो...

मैट्रिज एग्जिट पोल : यूपी-उत्तराखंड में कौन होगा विजेता, किसकी होगी हार

नई दिल्ली । लोकसभा चुनाव आखिरकार खत्म हो गया है। लोकसभा चुनाव सात चरणों में कराए गए। 19 अप्रैल को पहले चरण के लिए और एक जून सातवें और आखिरी...

कंगना रनौत में मीरा की भक्ति, महारानी पद्मिनी का तेज और लक्ष्मी बाई का शौर्य : सीएम योगी

कुल्लू । उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने हिमाचल प्रदेश के डालपुर में मंडी लोकसभा सीट से पार्टी प्रत्याशी कंगना रनौत के पक्ष में चुनावी जनसभा को संबोधित किया।...

admin

Read Previous

नीट विवाद पर धर्मेंद्र प्रधान का बड़ा बयान – ‘बच्चों के भविष्य के साथ खिलवाड़ नहीं होगा’

Read Next

शिक्षा मंत्री धर्मेंद्र प्रधान से मिले नीट के छात्र, कहा न्याय का मिला भरोसा

Leave a Reply

Your email address will not be published.

WP2Social Auto Publish Powered By : XYZScripts.com