यूपी : तेल की कीमतों में वृद्धि की अपवाहों के बीच पेट्रोल पंपों पर लगी लंबी कतारें

मेरठ, 9 मार्च (आईएएनएस)| उत्तर प्रदेश के मेरठ में सोमवार व मंगलवार को तेल की कीमतों की वृद्धि की अपवाहों पर पेट्रोल पंपों पर लगी लोगों की भीड़ दिखाई दी। जिले में कुल 142 पेट्रोल पंप हैं। जिन पर मंगलवार को डीजल व पेट्रोल भरवाने के लिए वाहन मालिकों काफी भीड़ दिखाई दी। यूक्रेन संकट के कारण अंतर्राष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल की कीमतों में वृद्धि 139 डॉलर प्रति बैरल पर पहुंच गई है। ऐसे में लोगों को लग रहा है कि कभी भी पेट्रोल-डीजल के दाम बढ़ सकते हैं। सोशल मीडिया पर तेल कीमतों की वृद्धि की अपवाहों को ट्विटर, व्हाट्सएप, फेसबुक पर हुई पोस्ट ने पूरी कर दी। बड़ी संख्या में लोग अपने वाहनों की टंकी भरवाने पेट्रोल पंप पहुंच रहे हैं। मवाना नगर क्षेत्र में आठ पेट्रोल पंप हैं सभी पर तेल लेने वाले वाहनों की लाइन लगी हुई है। भीड़ के कारण हाईवे स्थित एक पम्प पर भीड़ इतनी बढ़ गई कि इसे नियंत्रित करने के लिए पुलिस बुलानी पड़ी। पुलिस ने लाइन लगाकर व्यवस्था बनाई।

पेट्रोल पंप पर डीजल लेने पहुंचे वाहन स्वामियों का कहना है कि सातवें चरण का चुनाव संपन्न हो गया है और यूक्रेन-रूस के बीच युद्ध होने से कच्चे तेलों के दाम बढ़ गए हैं। आशंका है कि डीजल-पेट्रोल के दामों में भारी वृद्धि होगी। यह सूचना मिलने के बाद जमकर डीजल की खरीदारी की जा रही है।

वहीं किसानों का कहना है कि प्रदेश में अंतिम चरण के चुनाव के बाद तेल वृद्धि की आशंका जताई जा रही है। पहले ही डीजल महंगा होने से कृषि लागत बढ़ रही है। यदि डीजल के दाम और बढ़ते हैं तो अतिरिक्त भार पड़ेगा।

कार केयर सेंटर, दिल्ली रोड मेरठ के पेट्रोल पंप मालिक अजय शर्मा ने बताया कि हमारे पंप पर आम दिनों में प्रतिदिन 2800 से तीन हजार लीटर पेट्रोल की बिक्री होती थी, लेकिन सोमवार व मंगलवार को पेट्रोल की बिक्री चार हजार लीटर पर पहुंच गई।

पेट्रोल पंप एसो. मेरठ अध्यक्ष राकेश जैन बताया कि दो दिनों में सभी पंपों पर पेट्रोल और डीजल बिक्री दस प्रतिशत बढ़ गई है।

–आईएएनएस

editors

Read Previous

यूपी : बिकरू शहीदों के लिए स्मारक बनाने का प्रस्ताव जारी

Read Next

यूपी : वाराणसी में गंगा में विसर्जित लता मंगेशकर की अस्थियां

Leave a Reply

Your email address will not be published.

WP2Social Auto Publish Powered By : XYZScripts.com