धार्मिक स्वतंत्रता विचार की स्वतंत्रता की अभिव्यक्ति है: दलाई लामा

धर्मशाला,16 जुलाई (आईएएनएस)| तिब्बती आध्यात्मिक नेता दलाई लामा ने कहा कि धार्मिक स्वतंत्रता वास्तव में विचार की स्वतंत्रता की अभिव्यक्ति है और उन्होंने लोगों से दयालु, ईमानदार और सच्चे होने का आग्रह किया। गुरुवार को वाशिंगटन में एक अंतर्राष्ट्रीय धार्मिक स्वतंत्रता (आईआरएफ) शिखर सम्मेलन के समापन दिवस पर एक वीडियो संदेश में आध्यात्मिक नेता ने कहा, “आस्तिक परंपराएं एक निर्माता में विश्वास करती हैं, जबकि जैन धर्म, बौद्ध धर्म और अन्य जैसी गैर आस्तिक परंपराएं तर्क की एक अलग पंक्ति का पालन करती हैं। ”

“आजकल हम धार्मिक विश्वास की संरचना और मूल्यों के पालन के बीच अंतर कर सकते हैं जो धर्म का सार है, ईमानदारी और सौहार्दता। गैर-विश्वासियों को भी ईमानदार और सच्चा होना चाहिए। ”

उन्होंने कहा कि ” इन दिनों, मैं इस बात पर जोर देता हूं कि हमें यह समझने की जरूरत है कि पूरे सात अरब मनुष्य (आज जीवित) समान हैं। हमें मानवता की एकता और सम्मान की सराहना करने और एक-दूसरे की मदद करने की जरूरत है। गैर-विश्वासियों को भी ये ²ष्टिकोण प्रासंगिक लगेगा।”

तीन दिवसीय आईआरएफ शिखर सम्मेलन, जो गुरुवार को संपन्न हुआ, उसने दुनिया भर में धार्मिक उत्पीड़न को संबोधित किया, जिसमें चीन के झिंजियांग उइघुर स्वायत्त क्षेत्र में मुस्लिम उइगरों को लक्षित करने पर ध्यान केंद्रित किया गया।

दलाई लामा ने कहा, “हम इंसानों में, जानवरों के विपरीत, बहुत तेज बुद्धि है। हमारे पास भविष्य की कल्पना करने की क्षमता भी है। यही वह संदर्भ है जिसमें हमारी विभिन्न धार्मिक परंपराएं विकसित हुईं। इसलिए, धार्मिक स्वतंत्रता वास्तव में एक अभिव्यक्ति है विचार की स्वतंत्रता की।”

“हमारी विभिन्न धार्मिक परंपराओं में अलग-अलग दर्शन और अलग-अलग प्रथाएं हैं, लेकिन सभी एक ही संदेश देते है, प्रेम, क्षमा, संतोष और आत्म-अनुशासन का संदेश। यहां तक कि विश्वास नहीं करने वालों के लिए भी, ये गुण, संतोष, आत्म अनुशासन और अपने से ज्यादा दूसरों के बारे में सोचना बहुत प्रासंगिक हैं।”

नोबेल शांति पुरस्कार विजेता ने कहा, “अतीत में, और दुर्भाग्य से आज भी, धर्मों को राजनीतिक कारणों से, या सत्ता की चिंता के कारण, उनके कुछ अनुयायियों के बीच लड़ाई के लिए प्रेरित किया गया है। हमें इस तरह के विचारों को अतीत में छोड़ देना चाहिए।”

बौद्ध भिक्षु, जिन्होंने अपने कई समर्थकों के साथ हिमालय की मातृभूमि से भागकर,भारत में तब शरण ली, जब चीनी सैनिकों ने 1949 में ल्हासा में प्रवेश किया और ल्हासा पर नियंत्रण कर लिया था, बौद्ध शिक्षाओं को अंतर्राष्ट्रीय समुदाय में लाने वाला प्रमुख आध्यात्मिक व्यक्ति हैं।

वह निर्वासन में लगभग 1,40,000 तिब्बतियों के साथ रहते हैं, जिनमें से 1,00,000 से अधिक भारत में हैं। तिब्बत में 60 लाख से अधिक तिब्बती रहते हैं।

बंगाल शिक्षक भर्ती घोटाला : सीबीआई ने कोर्ट से कहा, 21 हजार अभ्यर्थियों की अवैध भर्ती हुई

कोलकाता: पश्चिम बंगाल में करोड़ों रुपये के शिक्षक भर्ती घोटाले की जांच कर रहे केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) के उप महानिरीक्षक और विशेष जांच दल (एसआईटी) के नवनियुक्त प्रमुख अश्विन...

गुजरात विधानसभा चुनाव के दूसरे चरण में 58 प्रतिशत से अधिक मतदान

गांधीनगर: गुजरात विधानसभा के दूसरे चरण में शाम पांच बजे तक 58 प्रतिशत से अधिक मतदान हुआ है। अधिकारियों ने चुनाव आयोग के आंकड़ों के हवाले से कहा कि गुजरात...

ओडिशा हनीट्रैप मामला : ईडी को मिली मुख्य आरोपी अर्चना नाग की 7 दिन की रिमांड

भुवनेश्वर: ओडिशा में हाई-प्रोफाइल हनीट्रैप मामले में मनी लॉन्ड्रिंग एंगल की जांच कर रहे प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) को मुख्य आरोपी अर्चना नाग को सात दिन की रिमांड पर लेने के...

सुप्रीम कोर्ट ने नकली शराब की बिक्री पर पंजाब सरकार को लगाई फटकार

नई दिल्ली: उच्चतम न्यायालय ने सोमवार को राज्य में नकली शराब की बिक्री के मुद्दे पर पंजाब सरकार की खिंचाई करते हुए कहा, "पंजाब एक सीमावर्ती राज्य है और यह...

सुप्रीम कोर्ट ने केंद्र से कहा, मृत शरीर से अंग लेकर प्रत्यारोपण के नियमों में एकरूपता रखें

नई दिल्ली: सुप्रीम कोर्ट ने सोमवार को केंद्र सरकार से कहा कि वह सभी राज्यों में मृत शरीर से अंग लेकर किसी और के शरीर में प्रत्यारोपण को नियंत्रित करने...

वीआईपी का नाम पूछ रही कांग्रेस, युवा कांग्रेस ने किया जमकर विरोध

देहरादून: प्रदेश युवा कांग्रेस अध्यक्ष सुमित्तर भुल्लर के आह्वान पर जनपद देहरादून में युवा कांग्रेस पदाधिकारियों नें प्रदेश की बेटी अंकिता भंडारी हत्याकांड में संलिप्त वीआईपी के नाम उजागर ना...

डिब्रूगढ़ यूनिवर्सिटी रैगिंग मामले के मुख्य आरोपी ने किया सरेंडर

डिब्रूगढ़ (असम):डिब्रूगढ़ विश्वविद्यालय रैगिंग मामले के मुख्य आरोपी राहुल छेत्री ने सोमवार को तिनसुकिया जिले के लेखापानी थाने में आत्मसमर्पण कर दिया। अधिकारियों ने यह जानकारी दी। रैगिंग की घटना...

सीमा विवाद: महाराष्ट्र के मंत्रियों ने कर्नाटक में प्रवेश की कोशिश की, तो होगी कार्रवाई: सीएम बोम्मई

हुबली (कर्नाटक) : मुख्यमंत्री बसवराज बोम्मई ने सोमवार को चेतावनी दी कि अगर महाराष्ट्र के मंत्री मौजूदा परिस्थितियों में कर्नाटक में प्रवेश करने की कोशिश करते हैं तो उनकी सरकार...

असामान्य भ्रूण के टर्मिनेशन में देरी पर हाई कोर्ट ने लगाई एलएनजेपी अस्पताल को फटकार

नई दिल्ली : दिल्ली उच्च न्यायालय ने सोमवार को मस्तिष्क संबंधी असामान्यताओं से पीड़ित अपने 33 सप्ताह के भ्रूण को समाप्त करने की महिला की मांग पर चिकित्सकीय जांच में...

गुजरात चुनाव चरण -2: पीएम मोदी ने अहमदाबाद में डाला वोट

गांधीनगर : गुजरात विधानसभा चुनाव के दूसरे और अंतिम चरण के लिए सोमवार को 93 सीटों पर मतदान हो रहा है। सबसे पहले मतदान करने वालों में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी...

एनसीआर की हवा फिर जहरीली, निर्माण कार्यों पर रोक

नोएडा : दिल्ली-एनसीआर की हवा एक बार फिर जहरीली हो गई है। इसीलिए निर्माण कार्यों पर रोक लगा दी गई है और ग्रेप 3 के नियमों को लागू कर दिया...

ऑस्ट्रेलिया में भारतीय मूल की विज्ञान शिक्षिका को मिला पीएम पुरस्कार

मेलबर्न : ऑस्ट्रेलिया में भारतीय मूल की एक शिक्षका को माध्यमिक विद्यालयों में विज्ञान शिक्षण में उत्कृष्टता के लिए 2022 का प्रधानमंत्री पुरस्कार मिला है। मेलबर्न स्थित वीना नायर, जो...

editors

Read Previous

गुरुग्राम में किराए के फ्लैट में मां-बेटी ने की आत्महत्या

Read Next

लिव इन रिलेशनशिप में रहने के 20 साल बाद आखिरकार शादी कर ली

Leave a Reply

Your email address will not be published.

WP2Social Auto Publish Powered By : XYZScripts.com