धार्मिक स्वतंत्रता विचार की स्वतंत्रता की अभिव्यक्ति है: दलाई लामा

धर्मशाला,16 जुलाई (आईएएनएस)| तिब्बती आध्यात्मिक नेता दलाई लामा ने कहा कि धार्मिक स्वतंत्रता वास्तव में विचार की स्वतंत्रता की अभिव्यक्ति है और उन्होंने लोगों से दयालु, ईमानदार और सच्चे होने का आग्रह किया। गुरुवार को वाशिंगटन में एक अंतर्राष्ट्रीय धार्मिक स्वतंत्रता (आईआरएफ) शिखर सम्मेलन के समापन दिवस पर एक वीडियो संदेश में आध्यात्मिक नेता ने कहा, “आस्तिक परंपराएं एक निर्माता में विश्वास करती हैं, जबकि जैन धर्म, बौद्ध धर्म और अन्य जैसी गैर आस्तिक परंपराएं तर्क की एक अलग पंक्ति का पालन करती हैं। ”

“आजकल हम धार्मिक विश्वास की संरचना और मूल्यों के पालन के बीच अंतर कर सकते हैं जो धर्म का सार है, ईमानदारी और सौहार्दता। गैर-विश्वासियों को भी ईमानदार और सच्चा होना चाहिए। ”

उन्होंने कहा कि ” इन दिनों, मैं इस बात पर जोर देता हूं कि हमें यह समझने की जरूरत है कि पूरे सात अरब मनुष्य (आज जीवित) समान हैं। हमें मानवता की एकता और सम्मान की सराहना करने और एक-दूसरे की मदद करने की जरूरत है। गैर-विश्वासियों को भी ये ²ष्टिकोण प्रासंगिक लगेगा।”

तीन दिवसीय आईआरएफ शिखर सम्मेलन, जो गुरुवार को संपन्न हुआ, उसने दुनिया भर में धार्मिक उत्पीड़न को संबोधित किया, जिसमें चीन के झिंजियांग उइघुर स्वायत्त क्षेत्र में मुस्लिम उइगरों को लक्षित करने पर ध्यान केंद्रित किया गया।

दलाई लामा ने कहा, “हम इंसानों में, जानवरों के विपरीत, बहुत तेज बुद्धि है। हमारे पास भविष्य की कल्पना करने की क्षमता भी है। यही वह संदर्भ है जिसमें हमारी विभिन्न धार्मिक परंपराएं विकसित हुईं। इसलिए, धार्मिक स्वतंत्रता वास्तव में एक अभिव्यक्ति है विचार की स्वतंत्रता की।”

“हमारी विभिन्न धार्मिक परंपराओं में अलग-अलग दर्शन और अलग-अलग प्रथाएं हैं, लेकिन सभी एक ही संदेश देते है, प्रेम, क्षमा, संतोष और आत्म-अनुशासन का संदेश। यहां तक कि विश्वास नहीं करने वालों के लिए भी, ये गुण, संतोष, आत्म अनुशासन और अपने से ज्यादा दूसरों के बारे में सोचना बहुत प्रासंगिक हैं।”

नोबेल शांति पुरस्कार विजेता ने कहा, “अतीत में, और दुर्भाग्य से आज भी, धर्मों को राजनीतिक कारणों से, या सत्ता की चिंता के कारण, उनके कुछ अनुयायियों के बीच लड़ाई के लिए प्रेरित किया गया है। हमें इस तरह के विचारों को अतीत में छोड़ देना चाहिए।”

बौद्ध भिक्षु, जिन्होंने अपने कई समर्थकों के साथ हिमालय की मातृभूमि से भागकर,भारत में तब शरण ली, जब चीनी सैनिकों ने 1949 में ल्हासा में प्रवेश किया और ल्हासा पर नियंत्रण कर लिया था, बौद्ध शिक्षाओं को अंतर्राष्ट्रीय समुदाय में लाने वाला प्रमुख आध्यात्मिक व्यक्ति हैं।

वह निर्वासन में लगभग 1,40,000 तिब्बतियों के साथ रहते हैं, जिनमें से 1,00,000 से अधिक भारत में हैं। तिब्बत में 60 लाख से अधिक तिब्बती रहते हैं।

रांची की रैली में बोलीं सुनीता केजरीवाल, जेल में मेरे पति को मारने की साजिश

रांची । दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल की पत्नी सुनीता केजरीवाल ने रविवार को रांची में इंडिया गठबंधन की रैली को संबोधित करते हुए आरोप लगाया कि उनके पति को...

बंधकों की रिहाई और चुनावों की मांग को लेकर हजारों इजरायलियों ने विरोध प्रदर्शन किया

तेल अवीव । इजरायल में हजारों लोग गाजा में बंधक बनाए गए सभी बंधकों की तत्काल रिहाई और नए चुनावों की मांग को लेकर सड़कों पर उतर आए हैं। तेल...

भाजपा जनमत सर्वेक्षणों को करती है प्रायोजित, इन पर न करें विश्वास : ममता बनर्जी

कोलकाता । पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने शनिवार को कहा कि जनमत सर्वेक्षण भाजपा द्वारा प्रायोजित होते हैं। उन्होंने लोगों से इन सर्वेक्षणों पर विश्वास न करने को...

आरक्षण खत्म कर देंगे पीएम मोदी : ओवैसी

हैदराबाद । एआईएमआईएम सुप्रीमो असदुद्दीन ओवैसी ने शनिवार को हैदराबाद में कहा कि चुनाव जीतने के बाद केंद्र सरकार अल्पसंख्यकों के आरक्षण छीन लेगी। एक चुनावी सभा को संबोधित करते...

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज राजस्थान में करेंगे प्रचार

नई दिल्ली । प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी रविवार को राजस्थान के जालोर और बांसवाड़ा जिलों में एक-एक जनसभा को संबोधित करेंगे। पीएम मोदी दोपहर 1:30 बजे जालोर और शाम 4 बजे...

तिहाड़ अधिकारियों ने एलजी को बताया, सीएम केजरीवाल ने गिरफ्तारी से कई महीने पहले बंद कर दिया था इंसुलिन

नई दिल्ली । तिहाड़ जेल प्रशासन ने दिल्ली के उपराज्यपाल वी.के. सक्सेना को सौंपी एक रिपोर्ट में दावा किया है कि जेल में बंद मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल पिछले कुछ वर्षों...

राहुल गांधी की तबीयत बिगड़ी, सतना दौरा रद्द

भोपाल । कांग्रेस के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष और सांसद राहुल गांधी की तबीयत बिगड़ने के कारण उनका मध्य प्रदेश का सतना दौरा रद्द हो गया है। उनके स्थान पर पार्टी...

जीवनभर हिंदुओं से लड़ाई लड़ने वाले अंसारी रामलला की प्राण प्रतिष्ठा में हुए शामिल, कांग्रेस ने न्योता ठुकराया : पीएम मोदी

नई दिल्ली । लोकसभा चुनाव के दूसरे चरण के चुनाव प्रचार के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी शुक्रवार को मध्य प्रदेश के दमोह पहुंचे। यहां उन्होंने चुनावी जनसभा को संबोधित करते...

सिर्फ जमानत के लिए “लकवे” का जोखिम नहीं उठा सकते : सीएम केजरीवाल

नई दिल्ली । दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने शुक्रवार को ईडी पर उनके डॉक्टर द्वारा तैयार आहार चार्ट को गलत तरीके से पेश करने का आरोप लगाया। जानबूझकर शुगर...

रांची-जमशेदपुर में कैंडिडेट तय नहीं कर पा रहा ‘इंडिया’ गठबंधन, भाजपा प्रत्याशियों ने 50 दिन में नाप डाला चप्पा-चप्पा

रांची । झारखंड की रांची और जमशेदपुर लोकसभा सीटों पर 'इंडिया' गठबंधन प्रत्याशी तय नहीं कर पा रहा है। इन दोनों क्षेत्रों में गठबंधन के नेता-कार्यकर्ता असमंजस में हैं। चुनाव...

देश में ‘राम राज्य’ स्थापित होने जा रहा है : राजनाथ सिंह

हैदराबाद । रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने शुक्रवार को कहा कि अब इस बात के संकेत मिल चुके हैं कि देश में राम राज्य स्थापित होेने जा रहा है। सिकंदराबाद...

लोकसभा चुनाव 2024 : जिन 102 सीटों पर हो रही है वोटिंग, जाने कैसा रहा था 2019 में उनका नतीजा

नई दिल्ली । लोकसभा चुनाव के पहले चरण के लिए मतदान जारी है। इस चरण में 21 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों की 102 सीटों पर लगभग 16 करोड़ मतदाता...

editors

Read Previous

कोविड नियमों का उल्लंघन तीसरी लहर के लिए जिम्मेदार होगा : आईएएनएस सी वोटर ट्रेकर

Read Next

कठिन सवाल पूछें, लेकिन सरकार को जवाब देने दें: मोदी

Leave a Reply

Your email address will not be published.

WP2Social Auto Publish Powered By : XYZScripts.com