इसरो जासूसी मामला: सीबीआई को केरल हाईकोर्ट से झटका, 2 पूर्व डीजीपी, 4 अन्य को जमानत

कोच्चि: इसरो जासूसी मामले में डीजीपी रैंक के दो पूर्व शीर्ष पुलिस अधिकारियों और चार अन्य ने शुक्रवार को राहत की सांस ली। केरल उच्च न्यायालय ने उन्हें अग्रिम जमानत दे दी। सीबीआई ने जमानत का जोरदार विरोध किया, लेकिन उस समय झटका लगा जब न्यायमूर्ति के. बाबू ने केरल के पूर्व डीजीपी सिबी मैथ्यूज, गुजरात के पूर्व डीजीपी आरबी श्रीकुमार और चार अन्य को अग्रिम जमानत दे दी।

अदालत ने छह अधिकारियों को निर्देश दिया कि वे अगले नोटिस तक विदेश यात्रा नहीं कर सकते हैं और अग्रिम जमानत देने के हिस्से के रूप में एक-एक लाख रुपये का सिक्योरिटी बांड मांगा है।

पिछले साल जुलाई में, सीबीआई ने तिरुवनंतपुरम के मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट की अदालत में 18 लोगों के खिलाफ एफआईआर दर्ज की थी। ये सभी इसरो जासूसी मामले में जांच दल का हिस्सा थे और उन पर सीबीआई ने साजिश रचने और दस्तावेजों को गढ़ने का आरोप लगाया था।

इसरो जासूसी का मामला 1994 में सामने आया था, जब इसरो यूनिट के एक टॉप वैज्ञानिक एस. नंबी नारायणन को इसरो के एक अन्य वरिष्ठ अधिकारी, मालदीव की दो महिलाओं और एक व्यवसायी के साथ जासूसी के आरोप में गिरफ्तार किया गया था, लेकिन उन्हें 1995 में सीबीआई द्वारा बरी कर दिया गया था और वह इसरो में फिर से शामिल हो गए।

मैथ्यूज, जिन्होंने एक दशक पहले पुलिस महानिदेशक के पद से स्वैच्छिक सेवानिवृत्ति ली थी, ने सेवानिवृत्त होने से पहले मुख्य सूचना आयुक्त के रूप में पांच साल का कार्यकाल पूरा किया और राज्य की राजधानी शहर में बस गए।

मामले में श्रीकुमार की भूमिका इंटेलिजेंस ब्यूरो के उप निदेशक के रूप में थी। उनके तत्कालीन सहयोगी पी.एस. जयप्रकाश को भी अग्रिम जमानत मिल गई है।

कई लंबी अदालती लड़ाइयों के बाद नारायणन के लिए चीजें बदल गईं, जब सुप्रीम कोर्ट ने 2020 में सेवानिवृत्त न्यायाधीश न्यायमूर्ति डी.के. जैन की अध्यक्षता में एक तीन सदस्यीय समिति नियुक्त की, जो यह जांच करेगी कि क्या तत्कालीन पुलिस अधिकारियों के बीच नारायणन को झूठा फंसाने की साजिश थी।

सीबीआई की नई टीम पिछले साल जुलाई में आई थी और शीर्ष अदालत के निर्देशों के अनुसार उसे यह पता लगाना था कि क्या नारायणन को फंसाने के लिए केरल पुलिस और आईबी की जांच टीमों की ओर से कोई साजिश थी।

नारायणन को अब केरल सरकार सहित विभिन्न एजेंसियों से 1.9 करोड़ रुपये का मुआवजा मिला है, जिसने 2020 में उन्हें 1.3 करोड़ रुपये का भुगतान किया और बाद में 2018 में सुप्रीम कोर्ट द्वारा निर्देशित 50 लाख रुपये और राष्ट्रीय मानव अधिकार आयोग द्वारा आदेशित 10 लाख रुपये का अन्य मुआवजा दिया।

मुआवजा इसलिए था क्योंकि इसरो के पूर्व वैज्ञानिक को गलत कारावास, द्वेषपूर्ण अभियोजन और अपमान सहना पड़ा था।

हालांकि तत्कालीन जांच अधिकारियों ने राहत पाने में कामयाबी हासिल की है, लेकिन उनकी परेशानी खत्म नहीं हुई है क्योंकि मामला अब 27 जनवरी के लिए स्थगित कर दिया गया है और उन सभी को विशेष रूप से जांच दल के साथ सहयोग करने के लिए कहा गया है, ऐसा न करने पर उनकी अग्रिम जमानत रद्द की जा सकती है।

–आईएएनएस

संपूर्ण विकास का साक्षी बन रहा है पंजाब : भगवंत मान

बठिंडा: पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत मान ने गुरुवार को कहा कि सरकार के प्रयासों से राज्य हर क्षेत्र में संपूर्ण विकास देखकर कीमती 'कोहिनूर' रत्न की तरह चमकेगा। सीएम ने...

जम्मू-कश्मीर में आतंकवाद पर हो रहा अंतिम प्रहार : एलजी मनोज सिन्हा

जम्मू/श्रीनगर : देश के 74वें गणतंत्र दिवस से जुड़े आधिकारिक परेड और अन्य समारोह गुरुवार को पूरे जम्मू-कश्मीर में शांतिपूर्वक संपन्न हुए और कहीं से भी किसी अप्रिय घटना की...

गणतंत्र दिवस परेड में स्वदेशी हथियारों की झलक, भारतीय तोप से 21 तोपों की सलामी

नई दिल्ली : 26 जनवरी को कर्तव्य पथ पर गणतंत्र दिवस परेड में स्वदेशी व आधुनिक हथियारों की बेहतरीन झलक देखने को मिली। परंपरा के अनुसार सबसे पहले राष्ट्रीय ध्वज...

गणतंत्र दिवस पर दिल्ली में कड़ी सुरक्षा

नई दिल्ली : देश गुरुवार को 74वां गणतंत्र दिवस मना रहा है, ऐसे में किसी भी अप्रिय घटना से बचने के लिए दिल्ली-एनसीआर में सुरक्षा कड़ी कर दी गई है।...

अयोध्या में 4 बुजुर्ग महिलाओं से रेप व मर्डर के आरोप में युवक गिरफ्तार

अयोध्या : अयोध्या में पुलिस ने 50 दिनों में चार बुजुर्ग महिलाओं के साथ बलात्कार और हत्या के मामले में 20 वर्षीय एक युवक को गिरफ्तार किया है। घटनाएं अयोध्या...

अमेरिका व कनाडा के 2 भारतीय गणितज्ञों को पद्म पुरस्कार

नई दिल्ली : गणतंत्र दिवस की पूर्व संध्या पर घोषित पद्म पुरस्कारों के 106 प्राप्तकर्ताओं में भारतीय मूल के अमेरिका व कनाडा निवासी दो गणितज्ञ भी शामिल हैं। भारतीय-अमेरिकी एस.आर....

यूपी के मंत्री दोषी करार, एक साल की सजा

प्रयागराज : प्रयागराज की एक अदालत ने उत्तर प्रदेश के कैबिनेट मंत्री नंद गोपाल गुप्ता नंदी को 2014 के एक मामले में दोषी ठहराया है। अदालत ने मंत्री को एक...

झारखंड-बिहार में 48 जवानों की हत्या के आरोपी नक्सल कमांडर नवीन यादव ने किया सरेंडर !

रांची: झारखंड-बिहार में पुलिस और सुरक्षाबलों के 48 जवानों की हत्या के आरोपी इनामी नक्सली कमांडर नवीन यादव उर्फ सर्वजीत यादव अब पुलिस के कब्जे में है। खबर है कि...

शिक्षक घोटाला: कलकत्ता हाई कोर्ट ने माणिक भट्टाचार्य पर 9 दिनों में दूसरी बार जुर्माना लगाया

कोलकाता:कलकत्ता उच्च न्यायालय की एकल-न्यायाधीश पीठ ने बुधवार को पश्चिम बंगाल में करोड़ों रुपये के शिक्षक भर्ती घोटाले में कथित संलिप्तता के लिए तृणमूल कांग्रेस के विधायक और पश्चिम बंगाल...

भाजपा विधायक का 6 हजार रुपये प्रति वोट देने का वादा : बोम्मई, नड्डा के खिलाफ शिकायत दर्ज

बैंगलुरु:कर्नाटक कांग्रेस ने बुधवार को मुख्यमंत्री बसवराज बोम्मई, भाजपा राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा, प्रदेश भाजपा अध्यक्ष नलिन कुमार कटील और भाजपा विधायक रमेश जरकीहोली के खिलाफ पुलिस में शिकायत दर्ज...

जोशीमठ भू धंसाव: पीपलकोटी और गौचर को वैज्ञानिक नहीं मानते सुरक्षित

श्रीनगर: जोशीमठ में आई भीषण आपदा के बाद सरकार और प्रशासन ने राहत बचाव के साथ ही पुनर्वास योजना पर काम करना शुरू कर दिया है। लोगों को जोशीमठ के...

रामचरितमानस पर विवादित टिप्पणी को लेकर सपा नेता मौर्य के खिलाफ एफआईआर दर्ज

लखनऊ : तुलसीदास द्वारा अवधी भाषा में एक महाकाव्य रामचरितमानस पर अपनी टिप्पणी को लेकर समाजवादी पार्टी के नेता स्वामी प्रसाद मौर्य के खिलाफ एफआईआर दर्ज की गई है। शिवेंद्र...

akash

Read Previous

केजरीवाल ने एलजी से पूछा, शनिवार को मिलूं या अपनी सुविधानुसार समय बताएं

Read Next

बिहार में इस साल बाजारों में देर से आयेगी लीची, अभी तक अधिकांश पेड़ों में नहीं आए हैं मंजर

Leave a Reply

Your email address will not be published.

WP2Social Auto Publish Powered By : XYZScripts.com