केंद्र ने राज्य सरकारों से सजा पूरी कर चुके कैदियों को रिहा करने को कहा: अजय कुमार मिश्रा

नई दिल्ली:केंद्र सरकार ने राज्य सरकारों से उन कैदियों को रिहा करने के लिए कहा है, जिन्होंने अपनी सजा तो पूरी कर ली है, लेकिन जुर्माना अदा न करने के कारण सलाखों के पीछे हैं। केंद्रीय गृह राज्य मंत्री अजय कुमार मिश्रा ने राज्यसभा में यह जानकारी दी है।

केंद्रीय गृह राज्य मंत्री अजय कुमार मिश्रा ने बिलकिस बानो मामले में दोषियों की रिहाई का मुद्दा उठाने वाले कांग्रेस सांसद इमरान प्रतापगढ़ी के एक सवाल का जवाब देते हुए कहा कि हमने 15 अगस्त, 2022, 26 जनवरी, 2023 और 15 अगस्त, 2023 के लिए एक विशेष योजना बनाई है, जिसके तहत राज्यों को ऐसे कैदियों को रिहा करने के लिए कहा गया है, जो जुर्माना अदा न करने के कारण सलाखों के पीछे हैं।

अजय मिश्रा ने बताया की कारागार/उनमें बंद व्यक्ति भारत के संविधान की सातवीं अनुसूची की सूची 1 के तहत राज्य सूची का विषय है। इसलिए कारागारों और कैदियों का प्रशासन एवं प्रबंधन संबंधित राज्य सरकारों का उत्तरदायित्व है, जिनकी यह सुनिश्चित करने की जिम्मेदारी है कि कैदियों को उनकी सजा पूरी होने पर जेल से रिहा कर दिया जाए तथापि, गृह मंत्रालय समय-समय पर कारागार प्रशासन के विभिन्न पहलुओं के संबंध में एडवाइजरी जारी करके राज्य सरकारों के प्रयासों में सहायता प्रदान करता रहता है।

मंत्री ने बताया कि सभी राज्यों और संघ राज्य क्षेत्रों को मॉडल प्रिजन मैनुअल, 2016 परिचालित करना भी इस दिशा में एक ऐसा ही कदम है। इस मैनुअल में सजा के निष्पादन, कारागारों को कंप्यूटरीकृत करना, समय से पूर्व रिहाई आदि के बारे में विशिष्ट अध्याय दिए गए हैं, जो राज्यों/संघ राज्य क्षेत्रों को विस्तृत मार्गदर्शन प्रदान करते हैं। हाल ही में गृह मंत्रालय ने ई- प्रिजन पोर्टल को सु²ढ करने के लिए राज्यों और संघ राज्य क्षेत्रों को 100 करोड़ रुपये की वित्तीय सहायता प्रदान की है।

अजय मिश्रा ने एक लिखित जवाब में जानकारी दी कि ई प्रिजन पोर्टल का उद्देश्य कारागारों के क्रियाकलापों के स्वचालन हेतु आद्योपान्त सूचना प्रौद्योगिकीय (आईटी) समाधान प्रदान करना है, जिसमें नामोदिष्ट प्राधिकारियों के साथ-साथ कैदियों के लिए इलेक्ट्रॉनिक प्लेटफार्म में कारागार संबंधी रिकॉडों को डिजिटल प्रारूप में उपलब्ध करवाना शामिल है, ताकि कैदियों की रिहाई की तारीख, पैरोल, मुलाकात की बुकिंग, माफी, शिकायतों का निराकरण आदि संबंधित सूचना उन्हें सीधे उपलब्ध कराई जा सके।

गृह मंत्रालय, जेलों में सूचना प्रौद्योगिकीय इन्फ्रास्ट्रक्च र को सु²ढ़ करने के साथ-साथ कारागारों में सुरक्षा संबंधी आधारभूत संरचना के आधुनिकीकरण के लिए भी राज्यों और संघ राज्य क्षेत्रों की सहायता करता रहता है, जिसका उद्देश्य प्रभावकारी कारागार प्रशासन में मदद प्रदान करना है। राज्यों और संघ राज्य क्षेत्रों की यह जिम्मेदारी है कि वे प्रभावकारी कारागार प्रशासन के संबंध में उन्हें प्रदान की गई सहायता एवं मार्गदर्शन का सर्वाधिक उपयोग करें।

–आईएएनएस

सुप्रीम कोर्ट में 23 जुलाई को होगी ज्ञानवापी मामले पर सुनवाई

वाराणसी । उच्चतम न्यायालय मंगलवार को वाराणसी के ज्ञानवापी मामले की अगली सुनवाई करेगा। मामले की सुनवाई उच्चतम न्यायालय के मुख्य न्यायाधीश जस्टिस डीवाई. चंद्रचूड़ की अध्यक्षता वाली तीन सदस्यीय...

राजनाथ सिंह ने सर्वदलीय बैठक में विपक्षी दलों को दी नसीहत, ‘पीएम के भाषण के समय सदन में हंगामा और व्यवधान उचित नहीं’

नई दिल्ली । संसद के बजट सत्र से पहले सरकार द्वारा बुलाई गई सर्वदलीय बैठक में रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने विपक्षी दलों को नसीहत देते हुए कहा कि पिछले...

बजट: ग्रामीण इंफ्रास्ट्रक्चर में निवेश से अर्थव्यवस्था होगी मजबूत : विशेषज्ञ

नई दिल्ली | ग्रामीण क्षेत्रों में अर्थव्यवस्था को उभारने के लिए पारंपरिक और नए सेक्टर दोनों में निवेश करने की आवश्यकता है। यह बात विशेषज्ञों ने कही। विशेषज्ञों का मानना...

जयराम रमेश पर भड़की भाजपा, कांग्रेस पार्टी को भी दे डाली बड़ी नसीहत

नई दिल्ली । कांग्रेस महासचिव जयराम रमेश ने रविवार को सर्वदलीय बैठक में हुई चर्चा को लेकर सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर जानकारी शेयर की। इस पर भाजपा ने कांग्रेस नेता...

नीट यूजी 2024 : गुमनाम शहरों से भी निकले टॉपर्स, कोटा या कोट्टायम ही नहीं लखनऊ वालों ने भी किया कमाल

नई दिल्ली । नेशनल टेस्टिंग एजेंसी (एनटीए) ने 20 जुलाई को सभी छात्रों के लिए सिटी और सेंटर के हिसाब से नीट यूजी 2024 का रिजल्ट जारी कर दिया। इसमें...

कैपिटल गुड्स, डिफेंस, इलेक्ट्रॉनिक व टूरिज्म सेक्टर पर दिख सकता है बजट का असर

नई दिल्ली । केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण की ओर से आम बजट 23 जुलाई को पेश किया जाएगा। स्टॉक मार्केट एक्सपर्ट्स का मानना है कि बजट में चार सेक्टरों...

दक्षिण कोरिया: सरकार को मेडिकल प्रोफेसरों की चेतावनी, जूनियर डॉक्टरों के प्रशिक्षण का करेंगे बहिष्कार

सोल । दक्षिण कोरिया में पिछले कुछ समय से चिकित्सा-व्यवस्था को लेकर उठा विवाद बढ़ता ही जा रहा है। इस विवाद के बीच दक्षिण कोरियाई मेडिकल प्रोफेसरों ने जूनियर डॉक्टरों...

ऑल इंडिया स्टूडेंट एसोसिएशन ने दिल्ली में बांग्लादेश सरकार के खिलाफ किया प्रदर्शन

नई दिल्ली । बांग्लादेश के छात्र आंदोलन के साथ एकजुटता दिखाते हुए ऑल इंडिया स्टूडेंट एसोसिएशन (एआईएसए) ने शनिवार को दिल्ली में प्रदर्शन किया। एआईएसए ने पड़ोसी देश में प्रदर्शनकारी...

एलजी के प्रधान सचिव ने लिखा पत्र, जेल में डाइट चार्ट का पालन नहीं कर रहे केजरीवाल, इसलिए हो रहा वजन कम

नई दिल्ली । आम आम आदमी पार्टी ने आरोप लगाया था कि जेल में मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल का वजन लगातार कम हो रहा है। अब 'आप' के इसी आरोप के...

सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद नीट यूजी परीक्षा परिणाम दोबारा जारी

नई दिल्ली । सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद नेशनल टेस्टिंग एजेंसी ने दोबारा यूजी मेडिकल प्रवेश परीक्षा का रिजल्ट जारी कर दिया है। एनटीए ने अपनी आधिकारिक वेबसाइट पर...

माइक्रोसॉफ्ट आउटेज के बाद विमानों का संचालन हुआ सामान्य, नागर विमानन मंत्रालय ने दी जानकारी

नई दिल्ली । माइक्रोसॉफ्ट के सर्वर में शुक्रवार को वैश्विक स्तर पर आई गड़बड़ी के कारण विमानन सेवा में आई बाधा अब ठीक हो गई है। नागर विमानन मंत्रालय की...

सभी प्रदेशों में मतदाता सूची से हिन्दू मतदाताओं के हटाए गए नाम : गिरिराज सिंह

पटना । केंद्रीय कपड़ा उद्योग मंत्री और बेगूसराय के सांसद गिरिराज सिंह ने देश के करीब सभी प्रदेशों में मतदाता सूची में बड़े पैमाने में योजनाबद्ध तरीके से गड़बड़ी का...

editors

Read Previous

गणतंत्र दिवस परेड में स्वदेशी हथियारों की झलक, भारतीय तोप से 21 तोपों की सलामी

Read Next

अडानी गेट कांड को लेकर 16 विपक्षी दलों का मार्च, पुलिस ने विजय चौक पर सांसदों रोका

Leave a Reply

Your email address will not be published.

WP2Social Auto Publish Powered By : XYZScripts.com