केदारनाथ गर्भगृह से बद्री केदार मंदिर समिति के अध्यक्ष अजेंद्र अजय की फोटो वायरल

देहरादून : केदारनाथ धाम के गर्भगृह में फोटो खींचना वर्जित है। लेकिन इन दिनों बद्री केदार मंदिर समिति के अध्यक्ष अजेंद्र अजय की मंदिर के गर्भगृह में निरीक्षण करने की एक फोटो वायरल हो रही है। जिस पर कांग्रेस ने सवाल खड़े किए है। कांग्रेस के अनुसार केदारनाथ धाम के गर्भगृह में किसी भी प्रकार की फोटो खींचना प्रबंधित है। वहीं बद्री केदार मंदिर समिति के अध्यक्ष द्वारा स्वयं को मंदिर व परंपराओं से ऊपर दिखाने की कोशिश करते हुए खुलेआम गर्भ गृह में सोने की परत चढ़ी फोटो को वायरल किया जा रहा है। जो सरासर केदारनाथ की परंपराओं के विपरीत है।

वही ये भी कहा जा रहा है कि केदारनाथ मंदिर समिति अध्यक्ष की केदारनाथ गर्भगृह फोटो वायरल होने का असली कारण सामने आ रहा है। बाबा केदारनाथ धाम में पहली बार लंबे समय से जमे कर्मियों अफसरों को ट्रांसफर के जरिए हिलाने वाले समिति अध्यक्ष विवादों में बनाए गए हैं। कुछ लोगों की मठाधीशी को अजेंद्र अजय ने चलता कर दिया है। जिसका परिणाम सोशल मीडिया पर वायरल हो रही बीकेटीसी अध्यक्ष की फोटो के रूप में सामने है।

मंदिर में निरीक्षण के समय किसी कर्मी के चुपके से फोटो ली है। क्योंकि कपाट बंद होने के बाद ये फोटो वायरल की गई है। जबकि फोटो में साफ देखा जा सकता है कि बीकेटीसी अध्यक्ष गर्भगृह का निरीक्षण कर रहे हैं। सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार बीकेटीसी अध्यक्ष अजेंद्र अजय लगातार बेहतर चारधाम यात्रा पर राज्य के मुखिया पुष्कर सिंह धामी के दिशा निर्देश पर काम कर रहे हैं। चारधाम यात्रा पर श्रद्धालुओं की संख्या में भी इस साल रिकॉर्ड तोड़ बढ़ोतरी हुई है और यात्रा मार्गो पर काम करने वाले स्वयं सहायता समूह से लेकर स्थानीय लोगों को भी रोजगार के बेहतर साधन उपलब्ध हो पाए हैं और उनकी इनकम में भी बढ़ोतरी हुई है। जो आत्मनिर्भरता के रूप में एक बड़ी मिसाल है।

–आईएएनएस

इस बार पीएम से अलग से मिलने की कोई संभावना नहीं : ममता

कोलकाता:पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने कहा है कि वह अपनी दिल्ली यात्रा के दौरान प्रधानमंत्री से अलग से नहीं मिलेंगी। मुख्यमंत्री ने सोमवार दोपहर राष्ट्रीय राजधानी के लिए...

‘पेसा एक्ट आदिवासियों की जिंदगी में बदलाव लाएगा

इंदौर: यहां के नेहरू स्टेडियम में क्रांति सूर्य टंट्या मामा भील बलिदान दिवस पर राज्य स्तरीय कार्यक्रम का आयोजन किया गया, जिसमें राज्यपाल मंगुभाई पटेल, मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान और...

लिंगायत मठ कांड: पीड़ितों की मां ने राष्ट्रपति को लिखा पत्र, मांगी न्याय या इच्छामृत्यु

मैसूर (कर्नाटक): लिंगायत मठ सेक्स स्कैंडल में दो पीड़ितों की मां ने सोमवार को राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू को एक पत्र लिखा, जिसमें कहा गया है कि उन्हें या तो न्याय...

शादी की बेकरारी में मंगेतर को ही भगा ले गया युवक

छपरा: आपने अब तक प्रेम संबंध में युवक-युवती के भागने की घटना देखी और सुनी होगी, लेकिन कोई युवक अपनी मंगेतर को ही शादी की नीयत से भगा ले जाए,...

छत्तीसगढ़ में बुजुर्ग, दिव्यांग और ट्रांसजेंडर के लिए हेल्प लाईन सुविधा जारी

रायपुर: छत्तीसगढ़ में बुजुर्गों, दिव्यांगजन और तृतीय लिंग समुदाय (ट्रांसजेंडर) के लिए हेल्पलाईन सुविधा शुरू की गई है। इससे इन वर्ग के लोगों को तत्काल जरुरी सुविधाएं आसानी से मिल...

एमसीडी चुनाव : दिल्ली की जनता के फैसले का होगा दूरगामी असर

नई दिल्ली: देश की राजधानी होने की वजह से दिल्ली नगर निगम का चुनाव वैसे तो हमेशा से ही हाई प्रोफाइल चुनाव माना जाता रहा है लेकिन इस बार का...

लाखों का मकान, लिफ्ट में फंस जाती है जान, कौन है जिम्मेदार

नोएडा: ग्रेटर नोएडा वेस्ट की निराला एस्पायर सोसायटी में ट्यूशन से घर लौट रहा एक 8 साल का मासूम बच्चा लिफ्ट में फंस गया। लिफ्ट में सवार होने के बाद...

छत्तीसगढ़ में बच्चों ने जाना ड्रोन उड़ाने का हुनर

रायपुर: वर्तमान दौर में ड्रोन उड़ाने और उसकी तकनीक को जानना जरुरी हो गया है। यही कारण है कि छत्तीसगढ़ में स्कूली बच्चों को इससे अवगत कराने के लिए रीजनल...

मप्र के प्रगतिशील किसान कर रहे स्ट्रॉबेरी की खेती

शिवपुरी: मध्य प्रदेश में किसान अब परंपरागत खेती की बजाय नए प्रयोग करने से हिचकते नहीं है। शिवपुरी के किसान तो अब स्ट्रॉबेरी की खेती भी करने लगे हैं। ऐसा...

कई नेता असम में ‘भारत जोड़ो यात्रा’ से नदारद, कांगेस के लिए परेशानी का सबब

गुवाहाटी: कांग्रेस के 'भारत जोड़ो यात्रा' के असम संस्करण ने एक महीना पूरा कर लिया है। यह धूबरी जिले से शुरू हुई और दिसंबर के मध्य में समाप्त होने से...

सिर्फ कॉलेजियम ही नहीं, एससी ने अरुण गोयल की चुनाव आयोग में पदोन्नति पर भी पूछे कड़े सवाल

नई दिल्ली : सुप्रीम कोर्ट के केंद्र से सवाल करने या सरकार की खिंचाई करने में कोई आश्चर्य की बात नहीं है, लेकिन हाल ही में जिस तरह से शीर्ष...

भोपाल गैस त्रासदी : जिन डॉक्टर ने सबकुछ देखा, उनसे जानिए उस भयानक रात की कहानी

भोपाल: एच.एच. त्रिवेदी, जो अब अपने 80 के दशक में हैं और अभी भी भोपाल की अरेरा कॉलोनी में एक क्लिनिक चलाते हैं, 2-3 दिसंबर, 1984 की भयावह रात को...

admin

Read Previous

केएल राहुल दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ पारी की शुरूआत करेंगे: विक्रम राठौड़

Read Next

अक्षय की ‘राम सेतु’ ने 35 करोड़ रुपये कमाए, अजय की ‘थैंक गॉड’ ने तीसरे दिन 18 करोड़ रुपये कमाए

Leave a Reply

Your email address will not be published.

WP2Social Auto Publish Powered By : XYZScripts.com