केजरीवाल ने एलजी से पूछा, शनिवार को मिलूं या अपनी सुविधानुसार समय बताएं

नई दिल्ली: दिल्ली के उपराज्यपाल वी.के. सक्सेना ने मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को कई मुद्दों पर पत्र लिखा, जिसमें शिक्षकों को प्रशिक्षण के लिए फिनलैंड भेजने पर चर्चा करने की मांग भी शामिल है। शुक्रवार को राज्यपाल को प्रस्ताव दिया कि वह शनिवार को उनसे मिलें या सुविधानुसार आप ही समय बता दें। मुख्यमंत्री ने एलजी को भेजे पत्र में लिखा, मुझे आपका पत्र मिला। आपने लिखा है कि कुछ दिन पहले जब हम सभी विधायक आपसे मिलने आए थे और आप नहीं मिल सके, क्योंकि हम आपको बिना बताए अचानक आ गए। यदि मुख्यमंत्री, उपमुख्यमंत्री, पूरा मंत्रिमंडल और दिल्ली के सभी विधायक आपके दरवाजे पर खड़े थे, तो जाहिर सी बात है कि वे राज्य के लिए बहुत बड़ी समस्या लेकर आए थे। आप चाहते तो बाहर आकर पांच मिनट के लिए ही, हमसे मिल सकते थे। दिल्ली की जनता को लगा कि दिल्ली के उपराज्यपाल ने दो करोड़ लोगों के प्रतिनिधियों से मिलने से इनकार कर उनका अपमान कर दिया।

पत्र में लिखा है, ‘आपने अपने पत्र में अब हम सभी मंत्रियों और विधायकों को बातचीत के लिए रात्रिभोज पर आमंत्रित किया है, इसके लिए आपका बहुत-बहुत धन्यवाद। अगर आपको सुविधा हुई तो हम शनिवार 21 जनवरी को आपके घर आएंगे’ दोपहर 1 बजे। यदि यह समय आपके लिए सुविधाजनक नहीं है, तो अपनी सुविधा के अनुसार हमें समय बताएं, हम आपसे मिलने आएंगे।

दिल्ली की शिक्षा प्रणाली के बारे में एलजी की टिप्पणियों को रेखांकित करते हुए केजरीवाल ने कहा, कोई भी प्रणाली सही नहीं है। पहले की तुलना में शिक्षा प्रणाली में जबरदस्त सुधार हुए हैं। लेकिन बहुत कुछ किया जाना बाकी है। अगर केंद्र सरकार और सभी एल-जी ने बीते वर्षों में दिल्ली की जनता के काम में बाधा नहीं डाली होती, अब तक बहुत कुछ हासिल हो गया होता।

पत्र में लिखा है,एल-जी साहब एक तरफ तो मोहल्ला क्लीनिकों के वेतन, लैब टेस्ट के भुगतान, क्लीनिकों के किराए और बिजली के बिलों के भुगतान को रोकते हैं, और फिर कहते हैं कि मोहल्ला क्लीनिक ठीक नहीं चल रहे हैं? एक तरफ, एलजी साहब अधिकारियों को दिल्ली जल बोर्ड के सभी फंड बंद करने का आदेश देते हैं और फिर कहते हैं कि दिल्ली के लोगों को पानी नहीं मिल रहा है? महोदय, इस प्रकार की राजनीति अच्छी नहीं है। उपराज्यपाल को ऐसी राजनीति से बचना चाहिए।

दिल्ली के सीएम ने आगे लिखा, ‘संविधान ने आपको तीन जिम्मेदारियां दी हैं- दिल्ली की कानून व्यवस्था, दिल्ली पुलिस और डीडीए। आज पूरे देश में दिल्ली की कानून व्यवस्था सबसे खराब स्थिति में है। जब दुनिया दिल्ली को ‘रेप कैपिटल’ कहती है, हर दिल्लीवासी का सिर शर्म से झुक गया है। शहर में अपराध लगातार बढ़ रहा है। किसी भी महिला का घर से निकलना मुश्किल हो गया है। दिल्ली महिला आयोग की अध्यक्ष स्वाति मालीवाल जी पर अभी-अभी हमला हुआ है। अगर महिला आयोग की अध्यक्ष सुरक्षित नहीं है तो आम महिला की क्या बात करें?

दिल्ली के लोगों ने आज तक आपको शहर की कानून व्यवस्था के लिए कुछ करते हुए नहीं देखा। दिल्ली के लोगों ने आपको केवल अपनी चुनी हुई सरकार के दिन-प्रतिदिन के मामलों में हस्तक्षेप करते देखा है। बहुत गुस्सा है। आप लोगों के बीच में रोज लोगों के काम में अड़ंगा क्यों लगाते हो। दिल्ली के लोग अपने शिक्षकों को ट्रेनिंग के लिए विदेश भेजना चाहते है,ं तो रोकते क्यों हैं? जब आप रोज लोगों का काम रोकते हैं तो लोग पूछते हैं हमारे काम को रोकने के लिए एल-जी साहब कौन होते हैं?

संविधान ने आपको दिल्ली में कानून व्यवस्था की स्थिति को ठीक करने का काम दिया है। संविधान ने हमें बाकी काम दिया है, हमें अपना काम करने दें। यहां तक कि अगर आपको हमारा काम पसंद नहीं है, तो आपको कोई अधिकार नहीं है हमारे काम में बाधा डालें, क्योंकि हम आपके काम में बाधा नहीं डालते हैं।

–आईएएनएस

केरल की ‘रोल मॉडल’ कार्तियानी अम्मा गुजारे के लिए कर रहीं संघर्ष

तिरुवनंतपुरम : भारत में गुरुवार को 74वां गणतंत्र दिवस मनाया गया। नारी शक्ति पुरस्कार की विजेता कार्तियानी अम्मा की केरल की झांकी ने नई दिल्ली में गणतंत्र दिवस परेड में...

निजी स्कूल में पढ़ रही दो बहनों में से एक की फीस देगी राज्य सरकार

लखनऊ: उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा है कि यदि दो बहनें किसी निजी स्कूल में पढ़ती हैं तो एक की फीस राज्य सरकार भरेगी। इसके लिए अगले...

सुखोई, राफेल सहित 45 लड़ाकू विमानों ने किया कर्तव्य पथ पर ‘फ्लाई पास्ट’

नई दिल्ली : गणतंत्र दिवस परेड का एक बड़ा रोमांच वायु सेना के जहाजों का फ्लाई पास्ट रहा। सुखोई और राफेल जैसे आधुनिकतम लड़ाकू विमान कर्तव्य पथ पर बेहतरीन फॉरमेशन...

479 कलाकारों ने भरा गणतंत्र दिवस परेड में रंग, अधिकांश झांकियों का शीर्षक ‘नारी शक्ति’

नई दिल्ली : दिल्ली में कर्तव्य पथ पर आई विभिन्न झांकियों में से अधिकांश का शीर्षक इस वर्ष 'नारी शक्ति' रहा। वंदे भारतम नृत्य प्रतियोगिता के माध्यम से चुने गए...

आरएसएस नेताओं की मुस्लिम बुद्धिजीवियों, उलेमाओं संग हुई बैठक; काशी-मथुरा, गौ-हत्या और काफिर शब्द पर हुई चर्चा

नई दिल्ली : देश के हिंदुओं और मुस्लिमों को एक मंच पर लाने की कवायद के तहत राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ द्वारा देश के मुस्लिम बुद्धिजीवियों के साथ संपर्क और संवाद...

इमारत गिरने के दौरान ‘डोरेमोन’ पाठ ने इस लड़के को बचाया

लखनऊ : छह साल का मुस्तफा लखनऊ में इमारत गिरने के हादसे में बाल-बाल बच गया, लेकिन उसने अपनी मां उजमा और दादी बेगम हैदर को खो दिया। बचे 14...

गणतंत्र दिवस पर बिजली कटौती मुक्त होगा उत्तर प्रदेश

लखनऊ:उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने गुरुवार को 26 जनवरी (गणतंत्र दिवस) के अवसर पर प्रदेश को विद्युत कटौती से मुक्त रखने का निर्देश दिया है। निर्देश के अनुसार...

बाबा बैद्यनाथ को न्योता देने उनकी ससुराल से देवघर पहुंचे डेढ़ लाख श्रद्धालु

देवघर:26 जनवरी को वसंत पंचमी पर जब पूरे देश में हर जगह देवी सरस्वती की पूजा-अर्चना होगी, तब झारखंड के देवघर में बाबा बैद्यनाथ का तिलक-अभिषेक करने के बाद लाखों...

महाराष्ट्र : पहली महिला दलित आत्मकथाकार शांताबाई के. कांबले का 99 की उम्र में निधन

पुणे:प्रख्यात लेखिका शांताबाई कृष्णाजी कांबले, जिन्हें पहली महिला दलित आत्मकथाकार के रूप में जाना जाता है, का यहां बुधवार सुबह 99 साल की उम्र में निधन हो गया। उनके एक...

अमेरिका भविष्य के मंगल अभियानों के लिए परमाणु इंजन का परीक्षण करेगा

लॉस एंजिलिस : नासा और यूएस डिफेंस एडवांस्ड रिसर्च प्रोजेक्ट्स एजेंसी (डीएआरपीए) ने अंतरिक्ष में एक परमाणु थर्मल रॉकेट इंजन का परीक्षण करने के लिए एक सहयोग की घोषणा की...

मेट्रो में मंजुलिका और मनी हाइस्ट के कॉस्ट्यूम पहने वीडियो आया सामने

नोएडा: नोएडा मेट्रो के अंदर का एक वीडियो सामने आया है। इसमें एक लड़की भूलभुलैया फिल्म की मंजुलिका जैसा कास्ट्यूम पहने हुए है और मेट्रो में सफर कर रहे मुसाफिरों...

जम्मू-कश्मीर में दूसरों के लिए प्रेरणा बन रही गांदरबल जिले की दो महिलाएं

श्रीनगर: जम्मू एवं कश्मीर के युवा, खासकर महिलाएं अब स्वरोजगार में विश्वास करने लगी हैं। पिछले कुछ वर्षों में कई ऐसी महिलाएं सामने आई हैं जिन्होंने रूढ़ियों को तोड़कर अपने...

akash

Read Previous

जोशीमठ भू धंसाव: धंसता चला जा रहा मंदिर परिसर का एक हिस्सा

Read Next

इसरो जासूसी मामला: सीबीआई को केरल हाईकोर्ट से झटका, 2 पूर्व डीजीपी, 4 अन्य को जमानत

Leave a Reply

Your email address will not be published.

WP2Social Auto Publish Powered By : XYZScripts.com