पहले कोविड, अब छंटनी : जबरदस्त तनाव, चिंता से गुजर रहे भारतीय पेशेवर

नई दिल्ली : बढ़ती छंटनी के बीच विभिन्न कंपनियों से आने वाले रोगियों की संख्या में वृद्धि हुई है – कार्यालय जाने वाले और घर से काम करने वाले दोनों – पैनिक एंग्जायटी अटैक और डिप्रेशन से ग्रस्त हैं, क्योंकि उन्हें उनकी भविष्य की योजनाओं पर नियंत्रण खोने का डर है। मानसिक स्वास्थ्य विशेषज्ञों ने सोमवार को यह बात कही। जनवरी में रोजाना औसतन लगभग 3,000 तकनीकी पेशेवर अपनी नौकरी खो रहे हैं, जिनमें भारत में हजारों शामिल हैं।

स्वास्थ्य विशेषज्ञों के अनुसार, पिछले 2-3 वर्षो के कोविड लॉकडाउन, मौतों और पुन: संक्रमण के डर और अब बड़े पैमाने पर छंटनी के कारण भारतीय पेशेवरों के लिए अत्यधिक तनाव पैदा हो गया है।

गुरुग्राम के मैक्स अस्पताल में मनोचिकित्सा की वरिष्ठ सलाहकार डॉ. सौम्या मुद्गल ने आईएएनएस को बताया कि बहुराष्ट्रीय कंपनियों से आने वाले मरीजों की संख्या में भारी वृद्धि हुई है।

डॉ. मुद्गल ने आईएएनएस को बताया, “इन रोगियों को आमतौर पर एगोराफोबिया के साथ पैनिक एंग्जाइटी और पैनिक डिसऑर्डर के मुद्दों के साथ प्रस्तुत किया जाता है और ऐसे रोगियों में काफी वृद्धि हुई है। उनमें से कुछ पहले से ही दवाएं ले रहे हैं और दवा की आवश्यकता बढ़ गई है और लक्षणों की गंभीरता बढ़ गई है।

उनके अनुसार, बहुत सारे लोग चिंता या मिश्रित चिंता से संबंधित चिंता और समायोजन के मुद्दों के ताजा या हाल ही में शुरू होने वाले लक्षणों के साथ आ रहे हैं।

अधिकांश लोगों के लिए छंटनी और रोजगार का नुकसान बहुत तनावपूर्ण अनुभव हैं। यह अनिश्चितताओं, आर्थिक चुनौतियों और आपके भविष्य पर नियंत्रण खोने का समय है।

वाशिंगटन, डीसी में जीडब्ल्यू स्कूल ऑफ मेडिसिन एंड हेल्थ साइंसेज के मनोचिकित्सा के सहायक प्रोफेसर डॉ. ऋषि गौतम के अनुसार, यह एक पेशेवर के मानसिक स्वास्थ्य पर महत्वपूर्ण प्रभाव डाल सकता है और चिंता, उदास मनोदशा, सदमा और शोक का कारण बन सकता है।

डॉ. गौतम ने आईएएनएस को बताया, “यह नींद और भूख को प्रभावित करता है, दवाओं और शराब के अस्वास्थ्यकर सेवन के जोखिम को बढ़ाता है, चिड़चिड़ापन, आत्मसम्मान की हानि, पारिवारिक कलह आदि का कारण बनता है।”

दिल्ली के सर गंगा राम अस्पताल की वरिष्ठ नैदानिक मनोवैज्ञानिक डॉ. आरती आनंद ने कहा कि महामारी और बिना किसी चेतावनी के बड़े पैमाने पर छंटनी, दोनों ने श्रमिक वर्ग को शहरों से खदेड़ दिया है।

उन्होंने सलाह दी, “यह स्थिति डर और तनाव की ओर ले जाती है। इससे निपटने का तरीका यह है कि आप अपने उपलब्ध संसाधनों का उपयोग करने में सक्षम हों, घबराएं नहीं और भविष्य के बारे में नकारात्मक सोचना बंद कर दें।”

स्वास्थ्य विशेषज्ञों ने कहा कि इस अनिश्चित समय से निपटने के लिए दोस्तों और परिवार के साथ सहायक संबंध बनाए रखना, नियमित रूप से व्यायाम करना और माइंडफुलनेस का अभ्यास करना है। सकारात्मक दृष्टिकोण रखें।

डॉ. गौतम ने कहा, “मुझे फिर कभी नौकरी नहीं मिलेगी या मैं फिर कभी अपने काम का आनंद नहीं लूंगा, जैसे सामान्य नकारात्मक विचारों से दूर रहें।”

एंब्रेस इम्पेरफेक्शन की संस्थापक और परामर्श मनोवैज्ञानिक दिव्या महेंद्रू ने आईएएनएस को बताया कि मौजूदा छंटनी से प्रभावित लोगों को इससे भावनात्मक रूप से नहीं, बल्कि व्यावहारिक रूप से निपटने की जरूरत है।

उन्होंने सलाह दी, “संभावित नियोक्ताओं की सूची बनाना शुरू करें, उपलब्ध अवसरों और कंपनियों के बारे में शोध करें, अपस्किल के लिए रास्ते तलाशें और यदि आवश्यक हो तो अन्य क्षेत्रों में भी अवसर तलाशें।”

उन्होंने कहा, “उम्मीदवारी के दौरान नियोक्ताओं से अपनी स्थिति का वर्णन करने के लिए मानसिक रूप से तैयार रहें। दोस्तों, पूर्व मालिकों और सहयोगियों के साथ संपर्क बनाएं, यह नेटवर्क के लिए भी महत्वपूर्ण है।”

मोहिंद्रू ने कहा, सभी पेशेवरों को अपने काम की जिम्मेदारियों को सहयोगियों और घर पर परिवार के सदस्यों के साथ साझा करना चाहिए, जिससे उन्हें न केवल जवाबदेह होने में मदद मिलेगी, बल्कि अपने जीवन और कार्यो के बारे में सोचते समय हल्कापन महसूस होगा।

–आईएएनएस

प्रधानमंत्री मोदी ने साझा की भारत की उपलब्धियां, बताया – ‘2075 तक अर्थव्यवस्था में अमेरिका को पछाड़ देंगे’

नई दिल्ली । प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार को कहा कि देश आर्थिक उन्नति और बुनियादी ढांचे के प्रोजेक्ट्स के साथ तेजी से आगे बढ़ रहा है। उन्होंने यह भी...

एलआईसी के शेयर में बंपर तेजी, एक साल में दिया करीब 80 प्रतिशत का रिटर्न

मुंबई । देश की सबसे बड़ी बीमा कंपनी लाइफ इंश्योरेंस कॉरपोरेशन (एलआईसी) के शेयर में बीते एक वर्ष में बंपर 78 प्रतिशत की तेजी देखने को मिली है। शेयर में...

जम्मू-कश्मीर के कुपवाड़ा में घुसपैठ की कोशिश नाकाम, दो आतंकी ढेर

श्रीनगर । जम्मू-कश्मीर के कुपवाड़ा जिले के केरन सेक्टर में नियंत्रण रेखा (एलओसी) के पास गुरुवार को सुरक्षा बलों ने घुसपैठ की कोशिश नाकाम कर दी और दो आतंकवादियों को...

ओएनजीसी के शेयर में आई तेजी पर हरदीप सिंह पुरी ने दी बधाई

नई दिल्ली । दस साल बाद ओएनजीसी के शेयर में आई तेजी पर केंद्रीय मंत्री हरदीप सिंह पुरी ने अपने सोशल मीडिया एक्स हैंडल पर अपनी प्रतिक्रिया दी। उन्होंने कहा,...

आम बजट : इंफ्रास्ट्रक्चर विकास जारी रखे सरकार, ढांचागत सुधारों पर हो जोर, इंडस्ट्रीज की मांग

नई दिल्ली । भारत सरकार चालू वित्त वर्ष के लिए आम बजट 23 जुलाई को संसद में पेश करेगी। इस बजट से इंडस्ट्री को काफी उम्मीदें हैं। इंडस्ट्री लीडर्स का...

सेंसेक्स पहली बार 80,000 के पार बंद, निफ्टी 24,300 के ऊपर

मुंबई । भारतीय शेयर बाजार के लिए गुरुवार का कारोबारी सत्र काफी उतार-चढ़ाव वाला रहा। बाजार के मुख्य सूचकांक हल्की बढ़त के साथ बंद हुए हैं। दिन के दौरान सेंसेक्स...

गठबंधन सरकार में भी जारी रहेगी भारतीय अर्थव्यवस्था में तेजी : रिधम देसाई

नई दिल्ली । मॉर्गन स्टेनली इंडिया के प्रबंधक निदेशक (एमडी) रिधम देसाई ने कहा है कि गठबंधन सरकार बनने के बाद भी भारतीय अर्थव्यवस्था की तेज वृद्धि दर जारी रहने...

लंदन से 100 टन सोना वापस लाने से अर्थव्यवस्था पर नहीं पड़ेगा कोई फर्क : पी चिदंबरम

नई दिल्ली । कांग्रेस के वरिष्ठ नेता पी. चिदंबरम ने शुक्रवार को कहा कि भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) द्वारा ब्रिटेन के बैंक में रखे अपने करीब 100 टन सोने को...

पीएम मोदी के मजबूत और निर्णायक नेतृत्व के कारण बैंकिंग क्षेत्र में हुआ सुधार : निर्मला सीतारमण

नई दिल्ली । वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने लोकसभा चुनाव के आखिरी चरण के मतदान से एक दिन पहले शुक्रवार को पूर्ववर्ती यूपीए सरकार पर बैंकिंग सेक्टर को "भ्रष्टाचार और...

शेयर बाजार की तेजी पर लगा ब्रेक, 117 अंक फिसला सेंसेक्स

मुंबई । भारतीय शेयर बाजार के लिए बुधवार का कारोबारी सत्र नुकसान वाला रहा। बाजार के बड़े सूचकांक लाल निशान में बंद हुए हैं। सेंसेक्स 117 अंक या 0.16 प्रतिशत...

वॉलेट सेवाओं के लिए अब यूपीआई लाइट पर ध्यान केंद्रित करेगा पेटीएम

नई दिल्ली । पेटीएम का संचालन करने वाली कंपनी वन97 कम्युनिकेशंस लिमिटेड (ओसीएल) ने सोमवार को कहा कि वे अब उन उपयोगकर्ताओं को स्थानांतरित करने के लिए यूपीआई लाइट वॉलेट...

सीमित दायरे में बाजार; निफ्टी 22,000 के करीब

मुंबई । भारतीय शेयर बाजार में शुक्रवार को करीब सपाट खुला है और एक सीमित दायरे में कारोबार कर रहा है। बाजार के बड़े सूचकांक हल्की बढ़त के साथ हरे...

admin

Read Previous

दिल्ली: कुत्ते के हमले में मारे गए बच्चों की मां ने कहा, मेरे बच्चे मासूम थे

Read Next

कश्मीरी पंडितों का इस्तेमाल राजनीतिक लाभ के लिए किया जा रहा है : राहुल गांधी

Leave a Reply

Your email address will not be published.

WP2Social Auto Publish Powered By : XYZScripts.com