बुद्ध के महाप्रसाद काला नमक चावल की खुशबू से महक रहा यूपी का राजभवन

लखनऊ: उत्तर प्रदेश के राजभवन में करीब आधा एकड़ रकबे में रोपी गई काला नमक धान की फसल पककर तैयार है। बुद्ध के महाप्रसाद के नाम से विख्यात काला नमक चावल की खुशबू से राजभवन सुगंधित हो रहा है। इस माह के अंत में या दिसंबर के शुरू में इसकी कटाई होगी। यहां रोपा गया काला नमक चावल पूरी तरह जैविक है। इसमें खाद एवं कीटनाशक के रूप में किसी भी तरह के रसायन का प्रयोग नहीं किया गया है।

उल्लेखनीय है कि कालानमक धान मूलत: गौतम बुद्ध से जुड़े सिद्धार्थनगर का उत्पाद है। ई योगी आदित्यनाथ की सरकार ने इसकी विशिष्टताओं की वजह से ही इसे जीआई (जियोग्राफिकल इंडीकेशन) दिलाया है। इसका मतलब यह हुआ कि जिन जिलों की कृषि जलवायु सिद्धार्थनगर के समान है, उनमें पैदा होने के लिए काला नमक की खूबियां एक जैसी होंगी। ऐसे समान कृषि जलवायु वाले जिलों में महाराजगंज, गोरखपुर, संतकबीरनगर, बलरामपुर, बहराइच, बस्ती, कुशीनगर, गोंडा, बाराबंकी, देवरिया व गोंडा भी आते हैं। जीआई से कालानमक को विस्तार मिला तो 2018 में योगी सरकार द्वारा इसे सिद्धार्थनगर का ओडीओपी एक जिला, एक उत्पाद घोषित करने से इसकी लोकप्रियता बढ़ गई।

नतीजतन पांच साल पहले जो कालानमक धान विलुप्त होने की कगार पर था, जिसका रकबा घटकर 2200 हेक्टेयर तक सिमट गया था, वह गुजर रहे खरीफ के सीजन में बढ़कर करीब 70 हजार हेक्टेयर तक पहुंच गया। इस तरह कालानमक जीआई और ओडीओपी के पंख पर सवार होकर लगातार समृद्धि का शिखर चूमने की ओर अग्रसर है। सरकार के प्रोत्साहन से कालानमक की खेती से जुड़े किसान मालामाल हो रहे हैं तो इसकी महक व पोषक तत्वों की पूरी दुनिया मुरीद हो रही है। इसी क्रम में यह खरीफ के बीते सीजन में राजभवन को भी रास आ गया।

कालानमक धान की खेती किसानों की आय दोगुनी करने में कारगर साबित हो रही है। यही वजह है कि बड़ी संख्या में किसान इसकी खेती की तरफ आकर्षित हो रहे हैं। हर खरीफ सीजन में खेती के लिए कालानमक धान के बीज की मांग बढ़ती जा रही है। गत खरीफ सीजन से करीब तीन गुना बीज की बिक्री इस सीजन में हुई।

कालानमक धान की खेती बुद्ध काल की मानी जाती है। इसका इतिहास 2600 साल पुराना माना जाता है। मान्यता है कि भगवान बुद्ध ने कपिलवस्तु की तराई में अपने शिष्यों को यह चावल यह कहते हुए सौंपी थी कि इसकी खुश्बू व गुणवत्ता उनकी याद दिलाएगी। इसी कारण कालानमक चावल को बुद्ध का प्रसाद भी कहा जाता है। मुख्यमंत्री बनने के बाद योगी आदित्यनाथ ने कालानमक को ओडीओपी में शामिल कर इसकी ब्रांडिंग पर भी ध्यान दिया। नई प्रजातियों के शोध को बढ़ावा दिया। इसके परिणाम बेहद उत्साहजनक रहे। ब्रांडिंग को और मजबूत करने के लिए योगी सरकार ने मार्च 2021 में कपिलवतु महोत्सव के साथ ही कालानमक महोत्सव का भी आयोजन किया था। सरकार के प्रयासों से इसका निर्यात भी तेजी से बढ़ रहा है और यह चावल ई कामर्स प्लेटफार्म पर भी उपलब्ध है।

कालानमक चावल पर लंबे समय से काम कर रहे कृषि वैज्ञानिक डाक्टर आरसी चौधरी के अनुसार सुगंध और स्वाद के साथ पोषण में भी कालानमक चावल नायाब है। यह कुल मिलाकर इम्युनिटी बूस्टर है। प्रोटीन, जिंक और आयरन के स्रोत के रूप में मान्य कालानमक चावल में बीटा कैरोटीन भी पाया जाता है। इसकी मात्रा प्रति 100 ग्राम चावल में 42 मिलीग्राम बीटा कैरोटीन मिलता है। बीटा कैरोटीन विटामिन ए का मूल तत्व है। यही नहीं, इसमें चावल की अन्य प्रजातियों के मुकाबले प्रोटीन दोगुना, आयरन तीन गुना, और जिंक चार गुना प्रमाणित किया जा चुका है।

–आईएएनएस

मुख्यमंत्री ने मुरादाबाद में प्रबुद्धजन सम्मेलन को सम्बोधित किया

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा है कि विगत साढ़े पांच वर्षां के दौरान नगरीय वन को स्मार्ट वन में बदलने तथा जनता के लिए ईज ऑफ लिविंग...

बदजुबानी दुर्गति कराती है, वक्त सबको सुधार देता है: योगी

रामपुर: यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि कहा कि बदजुबानी दुर्गति कराती है, वक्त सबको सुधार देता है। आजम खां शुक्रवार को रामपुर पहुंचे। इस दौरान यहां विधानसभा...

ने राज्य आपदा प्रबन्धन प्राधिकरणों के तृतीय क्षेत्रीय सम्मेलन को सम्बोधित किया

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी ने कहा कि उत्तर प्रदेश आबादी की दृष्टि से देश का सबसे बड़ा राज्य है। यह क्षेत्रफल की दृष्टि से भी एक बड़ा राज्य है। इस...

साइबर ठग ने जज की पत्नी को बनाया निशाना, ठगे 13 लाख रुपये

लखनऊ : एक जज की पत्नी से साइबर ठगों ने 13 लाख रुपये की ठगी कर ली, जब वह अपने क्रेडिट कार्ड की सीमा बढ़ाने की कोशिश कर रही थी।...

झाड़ू मारकर सब झाड़ ले जाएगा दिल्ली का नमूना: मुख्यमंत्री

महीसागर/आणंद/वडोदरा:उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि जब कांग्रेस हर मुद्दे पर नाकाम है तो क्या आप उनके हाथ का साथ चाहेंगे, इस पर जनसभाओं से एक ही...

एनसीआर में ग्रेटर नोएडा की हवा सबसे खराब

नोएडा : प्रदूषण विभाग से मिले आंकड़ों के मुताबिक ग्रेटर नोएडा का एक्यूआई सोमवार को 382 के स्तर पर पहुंच गया था। आज ग्रेटर नोएडा में स्थिति बद से बदतर...

प्रसपा अध्यक्ष शिवपाल की घटी सुरक्षा, अब जेड की जगह मिलेगी वाई श्रेणी की सिक्योरिटी

लखनऊ: प्रगतिशील समाजवादी पार्टी (प्रसपा) के राष्ट्रीय अध्यक्ष व जसवंत नगर से विधायक शिवपाल सिंह यादव की सुरक्षा को सरकार ने घटा दिया है। उनकी सुरक्षा को जेड से वाई...

पति से बहस होने पर पत्नी ने अपनी डेढ़ साल की बेटी को उतारा मौत के घाट

बिजनौर (उत्तर प्रदेश) : डेढ़ साल की बेटी की उसकी मां ने गुस्से में गला दबाकर हत्या कर दी। घटना बिजनौर जिले के औरंगपुर भिक्कू गांव की है। बिजनौर के...

चूहे को पानी में डुबोकर मारने के आरोप में 10 घंटे खानी पड़ी हवालात की हवा

बदायूं (उत्तर प्रदेश) : चूहे को पानी में डुबोकर मारने के आरोप में एक व्यक्ति को 10 घंटे पुलिस हिरासत में बिताना पड़ा। आरोपी की पहचान मनोज कुमार के रूप...

गैंगस्टर मोहित गोयल की 7 करोड़ की संपत्ति कुर्क के आदेश जारी

नोएडा:गौतमबुद्धनगर में अपराधों पर अंकुश लगाने के उद्देश्य से अपराधियों के विरुद्ध निरंतर स्तर पर कड़ी कार्यवाही की जा रही है। इसी कड़ी में गैंगस्टर मोहित कुमार गोयल पुत्र राजेश...

वेल्डिंग मजदूर ने बनाई थी प्लानिंग, गार्ड को बंधक बनाकर लूटा था 42 लाख का माल

गाजियाबाद:गाजियाबाद पुलिस ने 24 घंटे के अंदर मेटल फैक्ट्री की डकैती का खुलासा करते हुए 5 बदमाशों को गिरफ्तार कर लिया है। गाजियाबाद में विजयनगर औद्योगिक क्षेत्र की मेटल फैक्ट्री...

लखनऊ विश्वविद्यालय का 102वां वर्षगांठ आज

लखनऊ : लखनऊ विश्वविद्यालय (एलयू) शुक्रवार को अपना 102वां स्थापना दिवस मना रहा है। इस अवसर पर परिसर को बहुत आकर्षक ढंग से सजाया गया है। विश्वविद्यालय ने अपने समृद्ध...

editors

Read Previous

यूट्यूब ने कम्युनिटी पोस्ट के लिए बीटा टेस्टिंग क्विज फीचर शुरू किया

Read Next

राहुल गांधी का सिंधिया पर हमला, कहा- भाजपा ने विधायकों को करोड़ों में खरीदा

Leave a Reply

Your email address will not be published.

WP2Social Auto Publish Powered By : XYZScripts.com