तीन साल में तेजी से बढ़े साइबर हमले, पर सुरक्षा निधि का पूरा उपयोग नहीं

नई दिल्ली:देश में साइबर हमलों की संख्या में पिछले कई वर्षो में तीन गुना वृद्धि देखी गई है, दूसरी तरफ साइबर सुरक्षा के लिए दी गई धनराशि का उपयोग कम किया गया है, कुल स्वीकृत 213 करोड़ रुपये में से केवल 98.31 करोड़ रुपये का उपयोग किया गया है।

सरकारी आंकड़ों के अनुसार, 2019 में भारतीय कंप्यूटर आपातकालीन प्रतिक्रिया टीम (सीईआरटी-इन) द्वारा ट्रैक की गई साइबर सुरक्षा घटनाओं की कुल संख्या 3,94,499 थी। वर्ष 2020 में यह संख्या बढ़कर 11,58,208 हो गई और 2021 में बढ़कर 14,02,809 हो गई। इस वर्ष, जून तक 6,74,021 साइबर सुरक्षा घटनाएं दर्ज की गईं।

अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स), दिल्ली के सर्वरों को 23 नवंबर को ठप कर देने वाले साइबर हमले को अभी पूरी तरह से सुलझाया जाना बाकी है। कई एजेंसियां देश के महत्वपूर्ण प्रतिष्ठान पर साइबर हमले की जांच कर रही हैं।

1 दिसंबर को साइबर हमलावरों ने जल शक्ति मंत्रालय के ट्विटर हैंडल को संक्षिप्त रूप से हैक कर लिया, जो सरकारी साइट पर दूसरा बड़ा साइबर हमला था। इंटरनेट के तेजी से विकास के साथ-साथ साइबर सुरक्षा की घटनाओं में वृद्धि एक वैश्विक घटना है। संसदीय स्थायी समिति ने इस वर्ष अपनी रिपोर्ट में कहा कि साइबर घटनाओं और साइबर सुरक्षा उल्लंघनों में उल्लेखनीय वृद्धि हुई है और यह अनिवार्य है कि साइबर स्पेस पर आसन्न खतरों से निपटने के लिए देश की क्षमताओं को आनुपातिक रूप से बढ़ाया जाए।

रिपोर्ट में कहा गया है, “मंत्रालय के एजेंडे/प्राथमिकता वाली मदों में साइबर सुरक्षा को सबसे आगे रहना होगा और जहां तक साइबर दुनिया का संबंध है, एक सुरक्षित पारिस्थितिकी तंत्र सुनिश्चित करने के रास्ते में कोई फंड की कमी नहीं आनी चाहिए। वास्तव में समिति महसूस करती है कि मंत्रालय को विशेष रूप से इस क्षेत्र में नई चुनौतियों के आलोक में एक अधिक सुरक्षित साइबरवल्र्ड हासिल करने के लिए अपने प्रयासों में तालमेल बिठाना चाहिए।”

इसलिए, समिति सिफारिश करती है कि धन की कमी के कारण इस डोमेन में किसी भी विफलता को रोकने के लिए साइबर सुरक्षा के लिए धन को एक वर्ष के आधार पर बढ़ाया जा सकता है। रिपोर्ट में सीईआरटी-इन, नेशनल साइबर कोऑर्डिनेशन सेंटर (एनसीसीसी) और डेटा गवर्नेस के संबंध में कम फंड उपयोग का भी हवाला दिया गया है।

रिपोर्ट में आगे कहा गया है, “जहां तक धन के कम उपयोग का संबंध है, 2021-22 के दौरान बीई (बजट अनुमान) चरण में 216 करोड़ रुपये की राशि आवंटित की गई थी, जिसे संशोधित अनुमान चरण में घटाकर 213 करोड़ रुपये कर दिया गया था, और जनवरी, 2022 तक वास्तविक उपयोग केवल 98.31 करोड़ रहा है।”

सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय के अनुसार, सरकार सक्रिय रूप से एकत्र करने, विश्लेषण करने और उनके द्वारा सक्रिय खतरे शमन कार्यो के लिए क्षेत्रों में संगठनों के साथ अनुरूप अलर्ट साझा करने के लिए एक स्वचालित साइबर थ्रेट एक्सचेंज प्लेटफॉर्म का संचालन कर रही है। सरकार ने मुख्य सूचना सुरक्षा अधिकारियों (सीआईएसओ) के लिए आवेदन/बुनियादी ढांचे और अनुपालन को सुरक्षित करने के लिए उनकी प्रमुख भूमिकाओं और जिम्मेदारियों के बारे में दिशा-निर्देश जारी किए हैं।

इसके अलावा, सभी सरकारी वेबसाइटों और एप्लिकेशन को उनकी मेजबानी से पहले साइबर सुरक्षा के संबंध में ऑडिट किया जाता है। होस्टिंग के बाद भी नियमित आधार पर वेबसाइटों और एप्लिकेशन का ऑडिट किया जाता है। इसके अलावा, सरकार ने सूचना सुरक्षा सर्वोत्तम प्रथाओं के कार्यान्वयन का समर्थन और लेखापरीक्षा करने के लिए 97 सुरक्षा ऑडिटिंग संगठनों को सूचीबद्ध किया है।

–आईएएनएस

अमेठी में अस्पताल और उद्योग के नाम पर गांधी परिवार ने हड़पी जमीनें – स्मृति ईरानी

नई दिल्ली: केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने गांधी परिवार पर अमेठी में अस्पताल और उद्योग के नाम पर जमीनें हड़पने का आरोप लगाते हुए कहा कि संसद के अंदर बड़ी-बड़ी...

सुप्रीम कोर्ट ने पीएमएलए मामले में समन को चुनौती देने वाली राणा अय्यूब की याचिका खारिज की

नई दिल्ली:सुप्रीम कोर्ट ने मंगलवार को पत्रकार राणा अय्यूब की उस याचिका को खारिज कर दिया, जिसमें धन शोधन निवारण अधिनियम (पीएमएलए) मामले में एक विशेष अदालत द्वारा जारी समन...

मूल्य और आपूर्ति में अस्थिरता : वैश्विक ऊर्जा सुरक्षा के समाधान की जरूरत

बेंगलुरु: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सोमवार को इंडिया एनर्जी वीक (आईईडब्ल्यू) 2023 का उद्घाटन किया, जिसमें सबसे अधिक दबाव वाले ऊर्जा मुद्दों पर चर्चा करने के लिए विभिन्न देशों के...

कैलिफोर्निया के पार्क से छत्रपति शिवाजी की प्रतिमा गायब

न्यूयॉर्क:कैलिफोर्निया के सैन जोस के एक पार्क से मराठा शासक छत्रपति शिवाजी महाराज की एक प्रतिमा गायब होने का मामला सामने आया है। उत्तरी अमेरिका में ग्वाडालूप नदी पार्क में...

माइक बंद करने को लेकर राहुल गांधी और लोक सभा अध्यक्ष बिरला के बीच सदन में हुई बहस

नई दिल्ली:कांग्रेस सांसद राहुल गांधी लगातार सदन के बाहर यह आरोप लगाते रहे हैं कि उन्हें सदन में बोलने नहीं दिया जाता और जब वो बोलना चाहते हैं तो उनका...

मेयर चुनाव में देरी को लेकर आप ने बीजेपी मुख्यालय के बाहर किया प्रदर्शन

नई दिल्ली:आम आदमी पार्टी ने मंगलवार को दिल्ली नगर निकाय एमसीडी के लिए मेयर के चुनाव में देरी को लेकर भाजपा मुख्यालय के बाहर धरना दिया। तख्तियां लिए आप नेता...

मंदिरों के पुजारियों के साथ केजरीवाल दुर्योधन जैसा व्यवहार कर रहे हैं, जिसे बर्दास्त नहीं किया जाएगा : मनोज तिवारी

नई दिल्ली:| दिल्ली भाजपा मंदिर प्रकोष्ठ द्वारा मंदिरो के पुजारियों के साथ केजरीवाल सरकार द्वारा किये जा रहे लगातार भेदभाव और एक विशेष वर्ग को विशेष आश्रय देने के खिलाफ...

तुर्की-सीरिया में भूकंप के बाद इजराइल में पीने का पानी गंदा

यरूशलम : सीरिया और तुर्की के कुछ हिस्सों में आए घातक भूकंप के बाद पूर्वोत्तर इजरायल में पीने का पानी गंदा हो गया है। स्थानीय अधिकारियों ने यह जानकारी दी...

बिहार : सारण में 8 फरवरी तक सोशल मीडिया साइट्स पर प्रतिबंध

पटना:बिहार के सारण जिला में एक युवक की कथित तौर पर पीट-पीटकर हत्या के बाद भड़की हिंसा के बाद पुलिस शांति व्यवस्था कायम करने में जुटी है। इधर, क्षेत्र में...

सुप्रीम कोर्ट ने समलैंगिक जोड़े की अपील पर हाईकोर्ट के काउंसलिंग के आदेश के खिलाफ जारी किया नोटिस

नई दिल्ली:सुप्रीम कोर्ट ने सोमवार को केरल हाईकोर्ट के उस आदेश को चुनौती देने वाली समलैंगिक जोड़े की याचिका पर नोटिस जारी किया, जिसमें उनमें से एक को मनोचिकित्सक के...

एलिवेटेड रोड पर रील बनाने वाले 5 गिरफ्तार, गाड़ी सीज, राइफल का लाइसेंस निरस्त करने के लिए भेजी रिपोर्ट

गाजियाबाद:पुलिस कमिश्नरेट गाजियाबाद के थाना इंदिरापुरम पुलिस टीम ने एलिवेटिड रोड पर गाड़ी खड़ी कर मार्ग अवरुद्ध करते हुए, शराब पीते हुए हथियारों को लहराकर वीडियो बनाने वाले एवं हर्ष...

तेलंगाना के 16 जिलों में लीगल एड डिफेंस काउंसिल सिस्टम कार्यालय खोले गए

हैदराबाद: तेलंगाना के 16 जिलों में सोमवार को लीगल एड डिफेंस काउंसिल सिस्टम (एलएडीसीएस) के कार्यालयों का उद्घाटन किया गया। तेलंगाना उच्च न्यायालय के मुख्य न्यायाधीश और संरक्षक, तेलंगाना राज्य...

editors

Read Previous

मिदनापुर विस्फोट : मृत तृणमूल नेता पर अवैध पटाखा कारोबार में शामिल होने का लगा आरोप

Read Next

कांग्रेस में गुटबाजी नहीं, एकता की जरूरत : थरूर

Leave a Reply

Your email address will not be published.

WP2Social Auto Publish Powered By : XYZScripts.com