अगले लोक सभा चुनाव में भाजपा काट सकती है 65 से ज्यादा वर्तमान सांसदों का टिकट

नई दिल्ली : अगले साल होने वाले लोक सभा चुनाव के मद्देनजर भाजपा ने अपनी तैयारी तेज कर दी है। विपक्षी एकता और एकजुटता की संभावनाओं के बीच भाजपा देशभर में अपने वर्तमान सांसदों का रिपोर्ट कार्ड तैयार कर फिर से चुनाव जीत सकने वाले सांसदों की लिस्ट को अंतिम रूप देने में जुटी है।

दरअसल, 2019 के पिछले लोक सभा चुनाव में भाजपा को 303 सीटों पर जीत हासिल हुई थी। वर्तमान में लोक सभा में भाजपा के पास 301 सांसद हैं लेकिन सूत्रों की मानें तो इनमें से 65 से ज्यादा सांसदों की रिपोर्ट कार्ड बहुत अच्छी नहीं है। ऐसे में एंटी-इनकंबेंसी से बचने के लिए भाजपा इन सीटों पर अपने उम्मीदवार बदलने यानी वर्तमान सांसदों का टिकट काटने पर गंभीरता से विचार कर रही है। इनमें से कुछ सांसदों का संसदीय क्षेत्र भी बदला जा सकता है।

आपको याद दिला दें कि मोदी सरकार के 9 साल पूरे होने पर भाजपा ने इसी वर्ष 30 मई से 30 जून तक देशभर में एक विशेष जनसंपर्क अभियान चलाया था, जिसमें पार्टी के सभी सांसदों को जुट जाने को कहा गया था। पार्टी के कई सांसदों ने इस कार्यक्रम में पूरे मन से भाग नहीं लिया, जिसकी वजह से भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा को वर्चुअली बैठक कर उन सांसदों को फटकार भी लगानी पड़ी थी। यहां तक कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी भाजपा संसदीय दल की बैठक में कई बार सांसदों को फटकार लगाते हुए यह कह चुके हैं कि या तो वो अपना रवैया बदलें या फिर बदले जाने के लिए तैयार रहें।

पिछले कुछ महीनों के दौरान देश भर में पार्टी संगठन द्वारा टिफिन बैठक सहित, कई अन्य महत्वपूर्ण अभियान चलाए गए, उसमें भी कई सांसद पार्टी की उम्मीद के मुताबिक भीड़ नहीं जुटा पाए थे।

उत्तर प्रदेश की बात करें तो, संघ नेताओं से बहुत करीबी रिश्ते रखने वाले पार्टी के एक पूर्व केंद्रीय मंत्री अगर अपना प्रदर्शन नहीं सुधार पाते हैं तो इस बार पार्टी उनका टिकट भी काट सकती है। एक जमाने में काफी चर्चित रह चुके और वर्तमान में केंद्र सरकार में मंत्री एक हाई प्रोफाइल सांसद से उनके संसदीय क्षेत्र के तमाम विधायक, मेयर और संगठन के बड़े नेता नाराज चल रहे हैं। देश के हाई प्रोफाइल परिवार से जुड़े एक भाजपा सांसद को यह फीडबैक दे दिया गया है कि इस बार उन्हें टिकट तभी दिया जाएगा जब वह पार्टी के प्रति अपना रवैया बदलते हुए स्वयं टिकट मांगें।

2019 के लोक सभा चुनाव में विपक्ष के हाई प्रोफाइल नेताओं को हराने वाले कई सांसदों को भी इस बार अपने-अपने संसदीय क्षेत्र में जाकर लोगों से संपर्क करने और स्थानीय संगठन के नेताओं से बेहतर समन्वय स्थापित करने को कहा गया है। संदेश बिल्कुल साफ है कि अगर उनकी रिपोर्ट कार्ड में सुधार नहीं हुआ तो पार्टी उनका टिकट काटने में भी संकोच नहीं करेगी।

उत्तर प्रदेश से जिन सांसदों पर टिकट कटने की तलवार लटक रही है, उसमें कई ऐसे सांसद भी हैं जो वर्तमान में केंद्र सरकार में मंत्री हैं। सूत्रों की मानें तो भाजपा ने चुनाव जीत सकने वाले कई ऐसे नेताओं की भी अलग से एक लिस्ट बनाई है जो वर्तमान में उत्तर प्रदेश में विधायक हैं और उनमें से कई योगी सरकार में मंत्री हैं या योगी सरकार में पहले मंत्री रह चुके हैं। यूपी की कई सीटों पर पार्टी अपने वर्तमान सांसदों का टिकट काटकर इन्हें चुनावी मैदान में उतार सकती है।

बिहार की बात करें तो पार्टी अपने बयानों से चर्चा में रहने वाले एक वर्तमान केंद्रीय मंत्री का टिकट भी 2024 के लोक सभा चुनाव में काट सकती है। हालांकि वह अपना संसदीय क्षेत्र बदलने की गुहार आलाकमान से लगा रहे हैं। बिहार से टिकट कटने वाले सांसदों की लिस्ट में तीन पूर्व केंद्रीय मंत्री भी शामिल हैं। बिहार में लोक सभा की 40 में से सभी 40 सीट जीतने के मिशन में जुटी भाजपा इस बार एक दूसरे प्रदेश से वर्तमान में सांसद और पार्टी के चर्चित चेहरे को बिहार से लोक सभा चुनाव लड़ाने पर गंभीरता से विचार कर रही है।

दिल्ली में पार्टी अपने एक पूर्व दिवंगत केंद्रीय मंत्री के परिवार के सदस्य को लोक सभा चुनाव में उतार सकती है। दिल्ली के एक लोक सभा सांसद को पार्टी दूसरे राज्य से चुनावी मैदान में उतारने की तैयारी कर रही है तो वहीं दो अन्य सांसदों के टिकट काटने की भी तैयारी चल रही है। हरियाणा में पार्टी इस बार 5 सीटों पर उम्मीदवार बदलने की तैयारी कर रही है। तो वहीं इसके साथ ही भाजपा मध्य प्रदेश, कर्नाटक, राजस्थान, असम, झारखंड, छत्तीसगढ़, उत्तराखंड, हिमाचल और यहां तक कि अपने सबसे मजबूत गढ़ गुजरात में भी कई वर्तमान सांसदों का टिकट काटने जा रही है। गुजरात में पार्टी के कई दिग्गज राज्य सभा सांसद इस बार लोक सभा चुनाव लड़ने की तैयारी कर रहे हैं और उन्हें वर्तमान सांसदों का टिकट काट कर ही टिकट दिया जाएगा।

पार्टी सूत्रों के मुताबिक, इनमें से कुछ सांसदों का टिकट उम्र के फैक्टर की वजह से काटा जा रहा है लेकिन ज्यादातर सांसद ऐसे हैं जो अपने-अपने क्षेत्र में सक्रिय नहीं रहे हैं। पार्टी की नजर ऐसे सांसदों पर भी बनी हुई है जो 2014 और 2019 में एक ही सीट से लगातार दो बार चुनाव जीत चुके हैं।

हालांकि इनमें से कई सांसदों ने पार्टी आलाकमान का रुख भांपकर आला नेताओं तक दौड़ लगाना शुरू कर दिया है तो वहीं कई सांसद राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ में अपने संपर्कों का इस्तेमाल कर टिकट बचाने की कोशिश में लग गए हैं।

आईएएनएस

पाकिस्तान में यात्री बस पर आतंकियों ने की अंधाधुंध गोलीबारी, 10 की मौत

रावलपिंडी । पाकिस्तान के गिलगित-बाल्टिस्तान क्षेत्र में काराकोरम राजमार्ग पर आतंकियों ने एक यात्री बस पर गोलीबारी की, जिसमें कम से कम 10 लोगों की मौत हो गई और 25...

प्रेमी के साथ आपत्तिजनक हालत में पकड़ी गई लड़की, नाबालिग बहनों को दी दर्दनाक मौत

लखनऊ । अंजलि पाल अभी 19 साल की हुई थी और अपने उसी उम्र के प्रेमी के साथ परियों जैसी जिंदगी जीना चाहती थी। लड़की के माता-पिता उसकी प्रेम कहानी...

नाबालिगों ने कंप्यूटर के लिए किया अपहरण, रसगुल्ले व कोल्ड ड्रिंक पिलाकर बच्चे की हत्या

कोलकाता । पश्चिम बंगाल में अगस्त में एक चौंकाने वाली घटना देखी गई, जब तीन नाबालिगों ने कंप्यूटर खरीदने के लिए फिरौती को एक नाबालिग का अपहरण किया और बाद...

असम में नौकरी के बदले नकद घोटाला मामले में 21 सरकारी अधिकारी निलंबित

गुवाहाटी । असम लोक सेवा आयोग (एपीएससी) द्वारा आयोजित भर्ती परीक्षाओं में नौकरी के बदले नकद घोटाले में कथित संलिप्तता के लिए असम के राज्यपाल गुलाब चंद कटारिया ने वरिष्ठ...

केरल में मृत पाई गई इजरायली महिला, साथी अस्पताल में भर्ती

तिरुवनंतपुरम । केरल में 36 वर्षीय एक इजरायली महिला चाकू से घावों के साथ मृत पाई गई, जबकि उसका 70 वर्षीय केरलवासी साथी कृष्णप्रसाद अस्पताल में भर्ती है। पुलिस ने...

जीका वायरस से बचाव के लिए ‘निडिल फ्री वैक्सीन पैच’

सिडनी । लोगों को घातक मच्छर जनित जीका वायरस से बचाने के लिए 'निडिल फ्री वैक्सीन पैच' विकसित किया जा रहा है। जो लगाने में भी आसान होगा। जीका वायरस...

ओडिशा में सड़क हादसे में आठ की मौत, सीएम ने तीन लाख रुपये मुआवजे का किया ऐलान

भुवनेश्वर । ओडिशा के क्योंझर जिले के घाटगांव के पास राष्ट्रीय राजमार्ग 20 पर शुक्रवार को एक दुखद सड़क दुर्घटना में तीन महिलाओं सहित आठ लोगों की मौत हो गई,...

केरल हाईकोर्ट ने महिला मजिस्ट्रेट के साथ दुर्व्यवहार करने पर 29 वकीलों के खिलाफ अवमानना का मामला किया शुरू

कोच्चि । केरल हाईकोर्ट ने कड़ा रुख अपनाते हुए हाल ही में कोट्टायम में एक महिला मजिस्ट्रेट की अदालत के समक्ष कार्यवाही रोकने वाले विरोध प्रदर्शन में कथित रूप से...

क्या ‘गुप्त एआई प्रोजेक्ट’ ने ऑल्टमैन की बढ़ाई थी मुश्किल…?

नई दिल्ली । ओपनएआई की 'पराजय' ने एक बात साबित कर दी है, एआई उद्योग को विनियमित और तेज करने की जरूरत है। सैम ऑल्टमैन द्वारा संचालित चैटजीपीटी निर्माता में...

7 साल बाद पिता से मिले एलन मस्क, रो पड़ा परिवार

सैन फ्रांसिस्को । स्पेसएक्स और टेस्ला के सीईओ एलन मस्क ने स्टारशिप रॉकेट के लॉन्च के दौरान सात साल बाद अपने पिता एरोल मस्क से मुलाकात की। एरोल और परिवार...

फेफड़ों के कैंसर के उच्च जोखिम की पहचान करेगा आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस उपकरण : रिसर्च

न्यूयॉर्क । भारतीय मूल के एक शोधकर्ता सहित अन्‍य शोधकर्ताओं द्वारा किए गए शोध में यह बात सामने आई है कि आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस उपकरण चेस्‍ट के एक्स-रे से बिना धूम्रपान...

ईडी ने फेमा उल्लंघन मामले में बायजू रवींद्रन को कारण बताओ नोटिस जारी किया

नई दिल्ली । प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) के निर्णायक प्राधिकरण ने एडटेक फर्म थिंक एंड लर्न प्राइवेट लिमिटेड और बायजू रवींद्रन को 9362.35 करोड़ रुपये की कथित हेराफेरी के मामले में...

admin

Read Previous

आलिया संग रणबीर को खामोश देख फैंस ने लगाए कयास, बोले- ‘एक्टर है बेहद परेशान’

Read Next

राज्यों के विधासभा चुनाव तय करेंगे बसपा के आनंद का भविष्य

Leave a Reply

Your email address will not be published.

WP2Social Auto Publish Powered By : XYZScripts.com