फेफड़ों के कैंसर के उच्च जोखिम की पहचान करेगा आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस उपकरण : रिसर्च

न्यूयॉर्क । भारतीय मूल के एक शोधकर्ता सहित अन्‍य शोधकर्ताओं द्वारा किए गए शोध में यह बात सामने आई है कि आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस उपकरण चेस्‍ट के एक्स-रे से बिना धूम्रपान करने वालों में कैंसर की पहचान कर सकता है।

फेफड़ों का कैंसर, कैंसर से होने वाली मौतों का सबसे आम कारण है। लगभग 10-20 प्रतिशत फेफड़े के कैंसर धूम्रपान न करने वाले उन लोगों में होते हैं, जिन्होंने कभी सिगरेट नहीं पी है या अपने जीवनकाल में 100 से कम सिगरेट पी हैं।

अध्ययन में शोधकर्ताओं ने यह परीक्षण करके धूम्रपान न करने वालों में फेफड़ों के कैंसर के जोखिम की भविष्यवाणी में सुधार करने का लक्ष्य रखा है कि क्या एक गहन शिक्षण मॉडल इलेक्ट्रॉनिक मेडिकल रिकॉर्ड से उनके सीने के एक्स-रे के आधार पर कभी धूम्रपान न करने वालों को फेफड़ों के कैंसर के उच्च जोखिम की पहचान कर सकता है।

डीप लर्निंग एक उन्नत प्रकार का एआई है, जिसे बीमारी से जुड़े पैटर्न खोजने के लिए एक्स-रे छवियों को खोजने के लिए प्रशिक्षित किया जा सकता है।

बोस्टन यूनिवर्सिटी स्कूल ऑफ मेडिसिन में मेडिकल छात्रा, मुख्य लेखिका अनिका एस. वालिया ने कहा, ”हमारे दृष्टिकोण का एक बड़ा लाभ यह है कि इसके लिए केवल एक चेस्‍ट एक्स रे छवि की आवश्यकता होती है जो चिकित्सा में सबसे आम परीक्षणों में से एक है और इलेक्ट्रॉनिक मेडिकल रिकॉर्ड में व्यापक रूप से उपलब्ध है।”

“सीएक्सआर-लंग-रिस्क” मॉडल इनपुट के रूप में एकल चेेेस्‍ट एक्स-रे छवि के आधार पर फेफड़ों से संबंधित मृत्यु दर जोखिम की भविष्यवाणी करने के लिए 40,643 धूम्रपान करने वालों और कभी धूम्रपान न करने वालों के 1,47,497 चेस्‍ट एक्स-रे का उपयोग करके विकसित किया गया था।

शोधकर्ताओं ने 2013 से 2014 तक नियमित बाह्य रोगी चेस्‍ट एक्स-रे कराने वाले धूम्रपान न करने वालों के एक अलग समूह में मॉडल को बाहरी रूप से मान्य किया।

प्राथमिक परिणाम फेफड़ों के कैंसर की छह साल की घटना थी। अध्ययन में शामिल 17,407 रोगियों (औसत आयु 63 वर्ष) में से 28 प्रतिशत को गहन शिक्षण मॉडल द्वारा उच्च जोखिम माना गया था, और इनमें से 2.9 प्रतिशत रोगियों में बाद में फेफड़ों के कैंसर की पहचान की गई।

उच्च जोखिम वाला समूह 1.3 प्रतिशत छह-वर्षीय जोखिम सीमा को पार कर गया है, जहां राष्ट्रीय व्यापक कैंसर नेटवर्क दिशानिर्देशों द्वारा फेफड़ों के कैंसर स्क्रीनिंग सीटी की सिफारिश की जाती है।

कम जोखिम वाले समूह की तुलना में उच्च जोखिम वाले समूह में फेफड़ों का कैंसर विकसित होने का जोखिम अभी भी 2.1 गुना अधिक था।

मैसाचुसेट्स जनरल अस्पताल (एमजीएच) में आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस के निदेशक और कार्डियोवास्कुलर के सह-निदेशक माइकल टी. लू ने कहा, “यह एआई उपकरण इलेक्ट्रॉनिक मेडिकल रिकॉर्ड में मौजूदा चेस्‍ट एक्स-रे का उपयोग करके कभी भी धूम्रपान न करने वालों के लिए फेफड़ों के कैंसर के उच्च जोखिम वाले अवसरवादी स्क्रीनिंग का द्वार खोलता है।”

उन्‍होंने कहा, “चूंकि सिगरेट पीने की दर में गिरावट आ रही है, इसलिए धूम्रपान न करने वालों में फेफड़ों के कैंसर का जल्द पता लगाने के तरीके तेजी से महत्वपूर्ण होते जा रहे हैं।”

–आईएएनएस

जम्मू-कश्मीर के उपराज्यपाल ने नई जम्मू-कश्मीर स्टार्ट-अप नीति 2024-27 लॉन्च की

जम्मू । जम्मू-कश्मीर के उपराज्यपाल मनोज सिन्हा ने रविवार को अविन्या स्टार्टअप शिखर सम्मेलन में बहुप्रतीक्षित 'नई जम्मू-कश्मीर स्टार्ट-अप नीति- 2024-27' लॉन्च की। उन्होंने इस अवसर पर युवा उद्यमियों और...

सीरिया में यात्रियों से भरी बस पलटी, छह की मौत, दर्जनों घायल

दमिश्क । सीरिया के हामा प्रांत में रविवार को एक बस पलट गई। इस हादसे में छह लोगों की मौत हो गई और दर्जनों लोग घायल बताए जा रहे हैं।...

छात्रों के सपनों को पंख देंगे स्कूल ऑफ एमिनेंस: पंजाब सीएम

लुधियाना । छात्रों तक गुणवत्तापूर्ण शिक्षा की पहुंच सुनिश्चित करने के लिए पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत सिंह मान और उनके दिल्ली के समकक्ष अरविंद केजरीवाल ने रविवार को 13 नए...

संयुक्त राष्ट्र की टीम ने गाजा में अल-शिफा अस्पताल का दौरा किया

संयुक्त राष्ट्र । संयुक्त राष्ट्र ने कहा है कि संयुक्त राष्ट्र की एक टीम ने गाजा शहर में अल-शिफा अस्पताल का दौरा किया और सहायता सुनिश्चित की। पहली बार विश्व...

शनचो-17 के अंतरिक्ष यात्रियों ने दूसरी बार अंतरिक्ष यान से बाहर निकलकर काम किए

बीजिंग । चीनी मानवयुक्त अंतरिक्ष इंजीनियरिंग कार्यालय से शनिवार को मिली खबर के अनुसार, दोपहर बाद 1 बजकर 32 मिनट पर, अंतरिक्ष केबिन से बाहर निकलकर 8 घंटे की गतिविधि...

‘इंडिया’ ब्लॉक का कोई असर नहीं, गोवा की दोनों लोक सभा सीटें जीतेगी भाजपा: श्रीपद नाइक

पणजी । केंद्रीय पर्यटन राज्य मंत्री श्रीपद नाइक ने शनिवार को दावा किया कि भाजपा के लिए स्थिति अनुकूल है और आगामी लोक सभा चुनाव में गोवा में 'इंडिया' गुट...

सेंट्रल फैक्ट फाइंडिंग टीम रविवार को संदेशखाली जाएगी

कोलकाता । पटना हाईकोर्ट के पूर्व मुख्य न्यायाधीश, सेवानिवृत्त न्यायमूर्ति एल. नरसिम्हा रेड्डी की अध्यक्षता में मानवाधिकार उल्लंघन पर एक केंद्रीय तथ्य-खोज समिति 3 मार्च को पश्चिम बंगाल के उत्तर...

आरबीआई ने भारत बिल भुगतान प्रणाली को किया सुव्यवस्थित, ग्राहकों को मिली अधिक सुरक्षा

मुंबई । आरबीआई ने एक संशोधित नियामक ढांचा - भारत बिल भुगतान प्रणाली दिशानिर्देश, 2024 लागू किया है। यह एनपीसीआई भारत बिल पे लिमिटेड (एनबीबीएल-भारतीय राष्ट्रीय भुगतान निगम की पूर्ण...

ईरान में मतदान जारी, सर्वोच्च नेता खामेनेई ने डाला वोट

तेहरान । ईरान की 12वीं संसदीय और असेंबली ऑफ एक्सपर्ट चुनाव के लिए शुक्रवार को मतदान हो रहा है। सर्वोच्च नेता अयातुल्ला खामेनेई ने अपना वोट डाला। इस्लामिक रिपब्लिक न्यूज...

भारतीय राजदूत ने इशिकावा गवर्नर से मुलाकात की, भारतीयों की मदद के लिए धन्यवाद दिया

टोक्यो । जापान में भारतीय राजदूत सिबी जॉर्ज ने शुक्रवार को भूकंप प्रभावित इशिकावा के गवर्नर हिरोशी हासे से मुलाकात की। राजदूत ने वहां भारतीयों को दी गई मदद के...

ग्रीक आर्थिक विशेषज्ञ ने चीनी शैली के आधुनिकीकरण की प्रशंसा की

बीजिंग । ग्रीस में यूरोपीय और विदेश नीति कोष के वरिष्ठ शोधकर्ता जॉर्ज त्ज़ोगोपोलोस ने चाइना मीडिया ग्रुप के एक रिपोर्टर के साथ एक विशेष साक्षात्कार में कहा कि जल्द...

मध्य प्रदेश में ऊर्जा और इंफ्रास्ट्रक्चर के विकास की अनंत संभावनाएं : प्रणव अदाणी

नई दिल्ली । अदाणी समूह मध्य प्रदेश में लगभग 75 हजार करोड़ रुपये का निवेश करेगा। इसकी घोषणा उज्जैन में आयोजित 'रीजनल इंडस्ट्री कॉन्क्लेव 2024' में अदाणी इंटरप्राइजेज के डायरेक्टर...

admin

Read Previous

बिहार में भाजपा की जाति आधारित रैलियों के जवाब में जदयू का ‘भीम संसद’

Read Next

जोकोविच की नोरी पर जीत के साथ सर्बिया सेमीफाइनल में

Leave a Reply

Your email address will not be published.

WP2Social Auto Publish Powered By : XYZScripts.com