डीयू और जामिया के बाद जेएनयू में दाखिला प्रक्रिया शुरू, प्रवेश परीक्षाएं सितंबर में होंगी

नई दिल्ली: जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय में दाखिला प्रक्रिया शुरू हो गई है। यहां प्रवेश परीक्षा में शामिल होने के लिए फिलहाल ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन शुरू किया गया है। प्रवेश परीक्षा में शामिल होने के इच्छुक छात्र 27 अगस्त तक ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन करवा सकते हैं। आवेदन शुल्क का भुगतान 27 अगस्त की रात 11 बजकर 50 मिनट तक किया जा सकता है। इसके लिए प्रवेश परीक्षाएं सितंबर महीने में आयोजित की जाएंगी। जेएनयू के कुलपति प्रोफेसर एम जगदीश कुमार ने बताया कि जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय प्रवेश परीक्षा 20-23 सितंबर, 2021 के दौरान आयोजित की जाएंगी। वाइवा की आवश्यकता वाले कार्यक्रमों के लिए इसे ऑनलाइन आयोजित किया जाएगा।

छात्र प्रवेश परीक्षा के रजिस्ट्रेशन के लिए जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय की अधिकारिक वेबसाइट पर जा सकते हैं। यह परीक्षाएं नेशनल टेस्टिंग एजेंसी द्वारा आयोजित की जाएंगी।

जेएनयू की प्रवेश परीक्षा कम्प्यूटर आधारित होगी। यह प्रवेश परीक्षा चार चरणों में आयोजित की जाएगी। परीक्षा की अवधि 180 मिनट होगी और इसमें बहुविकल्पीय प्रश्न होगें।

जामिया मिल्लिया इस्लामिया (जेएमआई) परिसर के विभिन्न परीक्षा केंद्रों में दो पालियों में विभिन्न स्नातकोत्तर (पीजी), स्नातक (यूजी), डिप्लोमा और पीजी डिप्लोमा पाठ्यक्रमों में दाखिले के लिए प्रवेश परीक्षा शुरू की जा चुकी है। यह प्रवेश परीक्षाएं 28 अगस्त 2021 तक जारी रहेंगी।

मास्टर ऑफ फाइन आर्ट्स (एमएफए) और ब्रॉडकास्ट टेक्नोलॉजी में पीजी डिप्लोमा के लिए प्रवेश परीक्षा सोमवार सुबह की पाली में आयोजित की गई, जबकि दोपहर की पाली में बैचलर ऑफ फाइन आर्ट्स (बीएफए-एप्लाइड आर्ट्स), एमए कनफ्लिक्ट एनालिसिस एंड पीस बिल्डिंग,एमटेक कम्प्यूटेशनल मैथ्स और उर्दू मास मीडिया में पीजी डिप्लोमा के लिए प्रवेश परीक्षाएं आयोजित की गईं। प्रवेश परीक्षाओं के दौरान कोविड-19 संबंधित सभी दिशा-निदेशरें और प्रोटोकॉल का पालन किया जा रहा है ।

इस बीच, दिल्ली विश्वविद्यालय के कालेजों एवं विभागों में 26 जुलाई से पोस्ट ग्रेजुएट कार्यक्रमों, एमफिल व पीएचडी के लिए दाखिला प्रक्रिया शुरू हो गई। यह प्रक्रिया अगले महीने 21 अगस्त तक जारी रहेगी। इन पाठ्यक्रमों में दाखिला लेने के इच्छुक छात्र 21 अगस्त तक आवेदन फार्म भर सकते हैं। दाखिले के लिए दिल्ली विश्वविद्यालय ने एक पोर्टल लांच किया है।

विश्वविद्यालय की प्रवेश शाखा ने शैक्षणिक वर्ष 2021-22 में दाखिला शुरू करने की यह घोषणा की है। दिल्ली विश्वविद्यालय के कुलपति पीसी जोशी के मुताबिक विश्वविद्यालय ने यह भी निर्णय लिया है कि मेरिट आधारित और प्रवेश आधारित प्रवेश के लिए पंजीकरण शुल्क में कोई बदलाव नहीं होगा। केंद्रीकृत यूजी प्रवेश एक पंजीकरण-सह-आवेदन पत्र के माध्यम से किया जा रहा है।

–आईएएनएस

जम्मू-कश्मीर के आठ लेखकों का यूपी उर्दू अकादमी के वार्षिक सम्मान के लिए चयन

श्रीनगर : उत्तर प्रदेश उर्दू अकादमी ने हाल ही में वर्ष 2019-21 के पुरस्कारों की घोषणा की। इनमें जम्मू-कश्मीर के आठ लेखक शामिल हैं। जम्मू-कश्मीर से सम्मान के लिए चुने...

आईएफएफआई के ज्यूरी हेड ने ‘द कश्मीर फाइल्स’ को ‘अश्लील’, ‘प्रचार’ वाली फिल्म करार दिया

पणजी : आईएफएफआई के ज्यूरी प्रमुख नादव लापिड ने महोत्सव के समापन समारोह के दौरान फिल्म 'द कश्मीर फाइल्स' को 'अश्लील' और 'अनुचित' करार दिया और कहा कि महोत्सव की...

कथक केवल देह की भाषा नहीं वह विचार का भी माध्यम है

नई दिल्ली : कथक सिर्फ देह की भाषा औरअभिव्यक्ति का माध्यम नहीं है बल्कि वह विचार का भी माध्यम है ।यह बात कल हिंदी के प्रख्यात कवि संस्कृति कर्मी अशोक...

अयोध्या दीपोत्सव : रेत पर उकेर जीवंत किये जा रहे रामायण कालीन प्रसंग

अयोध्या : अयोध्या में इस बार दीपोत्सव को ऐतिहासिक बनाने की कवायद जोरों पर है। रामायणकालीन 15 स्वागत द्वार दीपोत्सव की आभा बढ़ा रहे हैं। राम परिवार, निषादराज व अहिल्या...

सांसारिक और महाकाव्य के बीच की रेखा पतली है : गीतांजलि श्री

कसौली : 'रेत समाधि' के लिए अंतर्राष्ट्रीय बुकर पुरस्कार प्राप्त करने वाली लेखिका गीतांजलि श्री ने साफ किया है कि उनका वास्तव में 'प्रमुख विषय' (विभाजन) के बारे में एक...

लता मंगेशकर की याद में इंदौर में बनेगा संग्रहालय : शिवराज

इंदौर : मध्य प्रदेश की प्रमुख नगरी इंदौर में बुधवार की रात को आयोजित राष्ट्रीय लता मंगेशकर अलंकरण समारोह में कला जगत की हस्तियों को यह सम्मान प्रदान किया गया।...

जानिए हिन्दी प्रकाशन जगत की युवा महिला प्रकाशक के संघर्ष की कहानी

मात्र 14 साल की उम्र में अपने दादा द्वारा शुरू किए गए प्रकाशन समूह में छोटी से छोटी- छोटी ज़िम्मेदारियों को पूरी ईमानदारी से निभाने वाली अदिति माहेश्वरी को भला...

कितना सार्थक है हिंदी दिवस ?

सितंबर का महीना आते ही हवा में हिंदी की खुशबू बिखरने लगती है और हर साल 14 सितंबर को पूरे देश में हिंदी दिवस धूम धाम से मनाया जाता है...

अज्ञेय हिंदुत्व के समर्थक नहीं थे संघ के आलोचक थे

नई दिल्ली: हिंदी के यशस्वी साहित्यकार सच्चिदानंद हीरानंद वात्सायन अज्ञेय हिंदुत्व के समर्थक नहीं थे बल्कि उन्होंने दिनमान में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ की कड़ी आलोचना की थी । यह जानकारी...

उर्दू के मशहूर स्कॉलर गोपीचंद नारंग नहीं रहे

नई दिल्ली। उर्दू में मशहूर नक़्क़ाद और स्कॉलर गोपीचंद नारंग नहीं रहे। कल उनका इंतकाल अमरीका के न्यूयार्क में हो गया। वह 92 वर्ष के थे। परिवार में पत्नी के...

यशस्वी लेखक अज्ञेय की जीवनी अंग्रेजी में

नई दिल्ली। अंग्रेजी के प्रसिद्ध पत्रकार अक्षय मुकुल ने हिंदी के यशस्वी लेखक एवं प्रसिद्ध स्वतंत्रता सेनानी सच्चिदानंद हीरानंद वात्सायन "अज्ञेय" की पहली प्रमाणिक जीवनी अंग्रेजी में लिखी है। टाइम्स...

सोनल मान सिंह, जाकिर हुसैन, जतिन गोस्वामी रत्न सदस्यता ग्रहण करने नहीं आये, 43 कलाकारों को मिला संगीत नाटक एकेडमी पुरस्कार

नई दिल्ली। प्रख्यात ग़ज़ल गायिका शांति हीरानंद ,मधुप मुदगल और मालिनी अवस्थीतथा संजय उपाध्यय समेत 43 कलाकारों को संगीत नाटक अकादेमी पुरस्कार से सम्मानित किया गया। जबकि प्रख्यात नृत्यांगना सोनल...

editors

Read Previous

बाराबंकी हादसे पर राष्ट्रपति, प्रधानमंत्री, गृहमंत्री, योगी, केशव, नड्डा ने जताया दु:ख

Read Next

यूपी : चुनावी तैयारियों पर चर्चा के लिए पार्टी के सांसदों से मिलेंगे नड्डा

Leave a Reply

Your email address will not be published.

WP2Social Auto Publish Powered By : XYZScripts.com