कमलनाथ और सिंधिया के बीच वार-पलटवार,दो महारथियों ने दागे शब्दों के तोप गोले

भोपाल। मध्य प्रदेश में विधानसभा चुनाव को करीब 10 महीने बचे हैं। चुनावी साल में दोनों ही पार्टियों के दिग्गजों में जुबानी जंग छिड़ गई है। सियासी रण में शुक्रवार को कांग्रेस की ओर से कमलनाथ और भाजपा की ओर से सिंधिया ने एकदूसरे पर शब्दों के तोप गोले दागे। सिंधिया ने कमलनाथ के तोप वाले बयान पर पलटवार करते हुए कहा कि अच्छा है मैं आपकी इस “तोप” की परिभाषा में फ़िट नहीं हुआ।

दरअसल, शुक्रवार सुबह प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष कमलनाथ शुक्रवार को एकदिवसीय दौरे पर टीकमगढ़ पहुंचे थे। यहां सर्किट हाउस में प्रेस कांफ्रेंस के दौरान कमलनाथ से पूछा गया की पिछली बार कांग्रेस के पास सिंधिया भी थे। इस बार तो वह भी नहीं हैं। इसपर कमलनाथ ने कहा कि, “कांग्रेस को किसी सिंधिया की जरूरत नहीं है। सिंधिया अगर इतने बड़े तोप थे तो ग्वालियर का महापौर चुनाव क्यों हारे? मुरैना का महापौर चुनाव क्यों हारे?”

अब कमलनाथ के इस बयान पर सिंधिया ने भी पलटवार करते हुए कांग्रेस की 15 महीने की सरकार पर आरोपों की झड़ी लगा दी। सिंधिया ने एक ट्वीट में लिखा, “मध्य प्रदेश कोंग्रेस के 15 महीनों की तोप सरकार का रेकार्ड: तबादला उद्योग, वादाखिलाफ़ी, भ्रष्टाचार, माफ़िया-राज। कमलनाथ जी, अच्छा है आपकी इस “तोप” की परिभाषा में (मैं) फ़िट नहीं हुआ।”

ज्योतिरादित्य सिंधिया के पाला बदलने के कारण 15 साल बाद सत्ता पर काबिज होने वाली कांग्रेस की सरकार 15 महीने में ही गिर गई थी। कांग्रेस सरकार गिरने की वजह भी ज्योतिरादित्य सिंधिया और कमलनाथ के बीच टीकमगढ़ से शुरू हुई वाक्युद्ध को माना गया। दरअसल, प्रदेश में कांग्रेस की सरकार बनने के बाद से ही सिंधिया की महत्वकांक्षाओं के कारण कमलनाथ के साथ कई मुद्दों पर उनकी सहमति नहीं बन रही थी।

इसी बीच सिंधिया टीकमगढ़ दौरे पर पहुंचे। यहां अतिथि शिक्षकों ने सिंधिया से उनकी मांगे पूरी नहीं होने पर सवाल किया तो सिंधिया ने सार्वजनिक मंच से कहा कि अगर अतिथि शिक्षकों की मांगे पूरी नहीं हुई तो वह उनके साथ सड़कों पर उतरेंगे। प्रदेश में कांग्रेस सरकार बनने के बाद यह पहला मौका था जब ज्योतिरादित्य सिंधिया ने अपनी ही सरकार के खिलाफ कोई बयान दिया था।

सिंधिया के इस बयान के बाद प्रदेश की सियासत गरमा गई। इसके बाद राजधानी भोपाल में कमलनाथ से सवाल किया गया कि ज्योतिरादित्य सिंधिया अपनी ही सरकार के खिलाफ सड़क पर उतरने की बात कह रहे हैं, तो उन्होंने अपने चित परिचित अंदाज में कहा कि उतर जाएं। इस बयान के बाद सियासी रस्साकस्सी तेज हो गई और शायद सिंधिया ने इसे अपमान के रूप में लिया। इसके बाद कथित तौर पर विधायकों की खरीद फरोख्त शुरू हो गई और 20 मार्च को आखिरकार सिंधिया की मदद से भाजपा मध्य प्रदेश में चुनी हुई कांग्रेस की सरकार को गिराने में कामयाब रही।

अडानी संकट पर संसद में घिरी मोदी सरकार

नई दिल्ली। विवादित कारोबारी गौतम अडाणी की मुश्किलें लगातार बढ़ती जा रही हैं। हिंडनबर्ग रिसर्च रिपोर्ट के बाद से अडाणी समूह के शेयर औंधे मुंह रहे हैं। शुक्रवार दोपहर बाद शुरू...

आरोपी की मौत होने पर उत्तराधिकारी से वसूला जा सकता है जुर्माना: कर्नाटक हाईकोर्ट

बेंगलुरू : कर्नाटक उच्च न्यायालय ने एक महत्वपूर्ण फैसले में कहा है कि आरोपी की मौत होने पर उसकी संपत्ति या उसके उत्तराधिकारियों से जुर्माना वसूला जा सकता है। न्यायमूर्ति...

नई कर व्यवस्था में 7 लाख रुपये तक की आय पर कोई टैक्स नहीं : वित्त मंत्री

नई दिल्ली : वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने बुधवार को 2023-24 के लिए नए टैक्स स्लैब की घोषणा की, जिसके तहत नई आयकर व्यवस्था के तहत सालाना 7 लाख रुपये...

‘सार्वजनिक पूंजीगत खर्च बढ़ने पर बजट ने निराश नहीं किया’

चेन्नई : एक्यूट रेटिंग्स एंड रिसर्च के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि बजट 2023-24 सरकार द्वारा सार्वजनिक पूंजीगत व्यय की प्रतिबद्धता के संबंध में निराशाजनक नहीं है। "बाजार सरकार...

धनबाद में आग से मरने वाले सभी 14 एक ही परिवार के, 30 जख्मी

धनबाद: धनबाद के अपॉर्टमेंट में मंगलवार की रात आग लगने से जिन 14 लोगों की मौत हुई, वे सभी एक ही परिवार के हैं। परिवार की लोग एक शादी समारोह...

विशाखापत्तनम होगी आंध्र प्रदेश की नई राजधानी

नई दिल्ली। आंध्रप्रदेश की नई राजधानी विशाखापट्टनम होगी। प्रदेश के मुख्यमंत्री वाई एस जगन मोहन रेड्डी ने मंगलवार ये ऐलान किया है। सीएम रेड्डी ने कहा कि मैं भी आने वाले महीनों...

आर्थिक सर्वेक्षण : वित्त वर्ष 2023-24 के लिए जीडीपी 6.5 फीसदी रहने का अनुमान

नई दिल्ली : राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू के अभिभाषण के बाद मंगलवार को आर्थिक सर्वेक्षण 2022-23 जारी कर दिया गया। आर्थिक सर्वे में वित्त वर्ष 2023-24 के लिए रियल जीडीपी ग्रोथ...

पेशावर की मस्जिद में हुए आत्मघाती हमले में मरने वालों की संख्या 72 पहुंची

इस्लामाबाद : पाकिस्तान के पेशावर के पुलिस लाइन इलाके में एक मस्जिद में सोमवार को हुए जोरदार बम धमाका में मरने वालों की संख्या बढ़कर 72 हो गई है। मंगलवार...

पेशावर मस्जिद विस्फोट में 17 लोगों की मौत, 83 घायल

पेशावर : पाकिस्तान के पेशावर शहर में सोमवार को एक मस्जिद में हुए विस्फोट में कम से कम 17 लोगों की मौत हो गई और 83 अन्य घायल हो गए।...

एनआईए ने बीजापुर मुठभेड़ मामले में वांछित महिला नक्सली को किया गिरफ्तार

नई दिल्ली : छत्तीसगढ़ के बीजापुर मुठभेड़ मामले में राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) ने एक महिला माओवादी कैडर को गिरफ्तार किया है। 2021 में हुई मुठभेड़ में 22 पुलिसकर्मियों की...

     मुगल गार्डन का नाम अब अमृत उद्यान होगा 

 नई दिल्ली:  देशभर में ऐतिहासिक धरोहरों, स्थलों और शहरों के नाम बदलने का सिलसिला निरंतर जारी है। इसी क्रम में केंद्र सरकार ने अब फूलों की विभिन्‍न किस्‍मों के लिए...

धनबाद के निजी अस्पताल में आग से दो डॉक्टरों सहित छह की मौत

धनबाद : धनबाद शहर के एक प्राइवेट हॉस्पिटल में आग लगने से दो डॉक्टरों सहित छह लोगों की मौत हो गई है। शहर के बैंक मोड़ थाना क्षेत्र के टेलीफोन...

akash

Read Previous

पटना में 1.8 किलो यूरेनियम जब्त, नौ गिरफ्तार

Read Next

स्वाति मालीवाल से छेड़छाड़ करने वाला व्यक्ति है आम आदमी पार्टी का कार्यकर्ता – भाजपा का दावा

Leave a Reply

Your email address will not be published.

WP2Social Auto Publish Powered By : XYZScripts.com