ग्वालियर-चंबल को कांग्रेस से छीनने में सिंधिया की होगी महत्‍वपूर्ण भूमिका

भोपाल : अपने 22 वफादार विधायकों के साथ भाजपा में शामिल होकर मार्च 2020 में कमल नाथ के नेतृत्व वाली कांग्रेस सरकार को गिराने वाले केंद्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया को अपने पूर्व पार्टी सहयोगियों के क्रोध का सामना करना पड़ रहा है। राजनीति में टिके रहने की क्षमता को लेकर सिंधिया को अपने पूर्व पार्टी कार्यकर्ताओं की नाराजगी का भी सामना करना पड़ा है।

कांग्रेस के शीर्ष नेतृत्व द्वारा उन्हें ‘गद्दार’, ‘बिकाऊ’ और कुछ अन्य अशोभनीय उपमाओं से नवाजा गया। कुछ लोगों ने यह भी कहा कि सिंधिया भाजपा में “घुटन” महसूस कर रहे हैं क्योंकि वह अपने दम पर निर्णय नहीं ले सकते हैं जैसा कि वह कांग्रेस में करते थे।

कई दशकों तक सत्ता में रहने के बाद पिछले साल उनके गढ़ ग्वालियर में भाजपा के मेयर की सीट हारने के बाद उनके नेतृत्व पर सवाल उठ गया है। एक के बाद एक, उनके वफादार अपने राजनीतिक अस्तित्व के लिए कांग्रेस में वापस जाने लगे और पिछले कुछ महीने में उनमें से एक दर्जन से अधिक लोग सबसे पुरानी पार्टी में वापस चले गए हैं।

सूत्रों ने कहा कि कांग्रेस, जिसने सिंधिया के जाने पर उन पर जोरदार हमला किया था, ने उनके वफादारों का पार्टी में वापस स्वागत किया, यह धारणा बनाने के लिए कि केंद्रीय मंत्री ने ग्वालियर-चंबल क्षेत्र में अपना प्रभुत्व खो दिया है।

हालाँकि, उनसे जुड़े लोगों ने कांग्रेस के आरोप का खंडन करते हुए कहा कि सबसे पुरानी पार्टी ने हमेशा व्यक्तिगत नेतृत्व में विश्वास किया है, जो ाजपा की संस्कृति के बिल्कुल विपरीत है।

भाजपा प्रवक्ता और सिंधिया समर्थक पंकज चतुर्वेदी ने कहा, ”कांग्रेस नेतृत्व ज्योतिरादित्य सिंधिया को लेकर चिंतित है क्योंकि वह उनकी रणनीति जानते हैं और उन्होंने अपनी पुरानी पार्टी को बेनकाब कर दिया है। गुटबाजी और व्यक्तिवाद से कांग्रेस का गहरा नाता है।”

भाजपा ने राज्य विधानसभा चुनाव के लिए कई दिग्गजों, खासकर केंद्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर और प्रह्लाद पटेल के अलावा राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय को मैदान में उतारा है। ऐसी चर्चा है कि सिंधिया भी मध्य प्रदेश में चुनाव लड़ सकते हैं।

हालाँकि, पंकज चतुर्वेदी ने इसे खारिज करते हुए कहा कि भाजपा नेतृत्व ने राज्य पार्टी इकाई में संतुलन बनाने के लिए बड़े लोगों को मैदान में उतारा है, और अगर सिंधिया विधानसभा चुनाव लड़ते हैं, तो यह पार्टी की योजनाओं के खिलाफ हो सकता है।

उन्होंने कहा, ”हालांकि, कोई नहीं जानता कि केंद्रीय नेतृत्व क्या फैसला करता है, लेकिन बहुत कम संभावना है कि सिंधिया विधानसभा चुनाव लड़ेंगे।”

सूत्रों का दावा है कि सिंधिया अपनी पिछली राजनीतिक पार्टी – कांग्रेस, जो आरएसएस-भाजपा की विचारधारा के बिल्कुल विपरीत है, में वर्षों से व्यक्तिवाद की राजनीति के गवाह रहे हैं और वह धीरे-धीरे नई पार्टी की संस्कृति के अनुसार खुद को ढाल रहे हैं।

एक वरिष्ठ पत्रकार ने कहा, “वह पार्टी नेताओं से मिल रहे हैं और केंद्रीय भाजपा नेतृत्व के निर्देश पर सभी कदम उठा रहे हैं। सिंधिया खुद को आम आदमी के तौर पर पेश करने की कोशिश कर रहे हैं। यह कहना कि सिंधिया अपनी राजनीतिक जमीन खो चुके हैं और भाजपा में घुटन महसूस कर रहे हैं, गलत होगा क्योंकि बड़े नेता हर कदम बहुत सोच समझकर ही उठाते हैं। गौरतलब है कि उन्हें मध्य प्रदेश विधानसभा चुनाव में एक विशिष्ट भूमिका सौंपी गई है।”

पंद्रह साल के अंतराल के बाद 2018 में कांग्रेस को सत्ता में वापस लाने में ग्वालियर-चंबल क्षेत्र एक महत्वपूर्ण कारक था। पार्टी ने 34 में से 26 सीटें जीती थीं और इसका काफी श्रेय सिंधिया को जाता है। और अब, भाजपा उनके नेतृत्व का उपयोग इस क्षेत्र में अधिकतम सीटें जीतने के लिए करेगी।

आईएएनएस

चीन-रूस संबंध के विकास का उज्ज्वल भविष्य होगा : शी चिनफिंग

बीजिंग । चीनी राष्ट्रपति शी चिनफिंग ने शुक्रवार को 8वें चीन-रूस मेले को बधाई संदेश भेजा। उन्होंने कहा कि दोनों देशों की समान कोशिशों में चीन-रूस संबंध आगे बढ़ रहे...

विदेश मंत्री जयशंकर ने साधा कनाडा पर निशाना, बोले-अभिव्यक्ति की आजादी का नहीं किया जा सकता दुरुपयोग

नई दिल्ली । खालिस्तानी समर्थकों को शरण देने के लिए कनाडा के प्रधानमंत्री जस्टिन ट्रूडो सरकार पर निशाना साधते हुए विदेश मंत्री एस. जयशंकर ने गुरुवार को कहा कि दोनों...

गाजा में हमास आतंकवादियों पर घातक हमले की तैयारी में आईडीएफ

तेल अवीव । इजरायल डिफेंस फोर्सेज (आईडीएफ) गाजा पट्टी में हमास आतंकवादियों के खिलाफ घातक हमले के लिए तैयारी कर रहा है। मंगलवार को इजरायली सेना की 99 डिवीजन ने...

गाजा में मारे गए संयुक्त राष्ट्र कर्मी की पहचान भारतीय नागरिक के रूप में हुई

तेल अवीव । दक्षिणी गाजा के रफा शहर में गोलीबारी में संयुक्त राष्ट्र के एक कर्मचारी की मौत हो गई और एक अन्य कर्मचारी घायल हो गया। मृतक कर्मचारी की...

भारत को ईरान के चाबहार बंदरगाह के संचालन की जिम्मेदारी मिलने की उम्मीद

मुंबई । विदेश मंत्री एस. जयशंकर ने सोमवार को कहा कि भारत को ईरान के चाबहार बंदरगाह के संचालन की जिम्मेदारी मिलने की उम्मीद है। इससे दोनों देशों के बीच...

प्रख्यात अंग्रेजी लेखक रस्किन बॉन्ड को साहित्य अकादेमी की महत्तर सदस्यता

नई दिल्ली । साहित्य अकादेमी का सर्वोच्च सम्मान "महत्तर सदस्यता "आज अंग्रेजी के प्रख्यात लेखक और विद्वान रस्किन बॉन्ड को प्रदान की गई।उनकी अस्वस्थताके कारण यह सम्मान उनके मसूरी स्थित...

40 दिन की न्यायिक हिरासत के बाद तिहाड़ जेल से रिहा हुए केजरीवाल

नई दिल्ली । दिल्ली शराब घोटाले में 40 दिनों तक जेल में रहे दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को शुक्रवार को सुप्रीम कोर्ट द्वारा 1 जून तक अंतरिम जमानत दिए...

रफा हमले से पहले हमास युद्धविराम के मसौदे पर सहमत नहीं था : अमेरिका

वाशिंगटन । अमेरिकी सरकार ने उन रिपोर्टों का खंडन किया, जिसमें कहा गया कि इजरायली सेना के रफा शहर में सैन्य अभियान शुरू करने से कुछ समय पहले हमास ने...

भरोसेमंद है भारत सरकार, हासिल है औसतन 69.36 फीसदी जनता का विश्‍वास

नई दिल्ली । हाल ही में भारतीय प्रबंधन संस्थान की इकाई- अहमदाबाद, कलकत्ता, लखनऊ, इंदौर और रोहतक के प्रोफेसरों द्वारा एक संयुक्त अध्ययन किया गया, जिसमें पिछले पांच वर्षों में...

गाजा से हटने की हमास की मांग मंजूर नहीं कर सकते : नेतन्याहू

तेल अवीव । बंधकों की रिहाई के लिए चल रही बातचीत और बढ़ती मांगों के बीच इजरायल के प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू ने रविवार को कहा कि उनका देश गाजा में...

हमास और मिस्र के मध्यस्थों के बीच गाजा युद्धविराम पर बनी सहमति : मिस्र मीडिया

काहिरा । मिस्र के मध्यस्थों और हमास के बीच गाजा पट्टी में संभावित युद्धविराम के संबंध में कई मुद्दों पर आम सहमति बन गई है। इसकी जानकारी मिस्र मीडिया ने...

पाकिस्तान में विस्फोट में तीन की मौत, आठ घायल

इस्लामाबाद । पाकिस्तान में बलूचिस्तान प्रांत के खुजदार जिले में शुक्रवार को एक विस्फोट में कम से कम तीन लोगों की मौत हो गई और आठ लोग घायल हो गए।...

admin

Read Previous

मालदीव के विदेश मंत्री ने मोहम्मद मुइज्जू को राष्ट्रपति चुनाव जीतने पर बधाई दी

Read Next

ऋण डिफॉल्टर हीरा व्यापारी गुजरात में बनवा रहा अस्पताल, एचडीएफसी बैंक ने भेजा नोटिस

Leave a Reply

Your email address will not be published.

WP2Social Auto Publish Powered By : XYZScripts.com