एनटीपीसी ने प्राकृतिक गैस के साथ हाइड्रोजन ब्लेंडिंग के लिए वैश्विक ईओआई किया जारी

नई दिल्ली: एनटीपीसी ने भारत में सिटी गैस डिस्ट्रीब्यूशन (सीजीडी) नेटवर्क में प्राकृतिक गैस के साथ हाइड्रोजन ब्लेंडिंग पर एक पायलट प्रोजेक्ट स्थापित करने के लिए एक ग्लोबल एक्सप्रेशन ऑफ इंटरेस्ट (ईओआई) जारी किया है। ईओआई लेह और एनटीपीसी विद्युत व्यापार निगम लिमिटेड (एनवीवीएन) में फ्यूल सेल बसों की खरीद के लिए एनटीपीसी आरईएल द्वारा ग्रीन हाइड्रोजन फ्यूलिंग स्टेशन के लिए हाल ही में जारी टेंडर का अनुसरण करता है। हाइड्रोजन ईंधन स्टेशन को बिजली देने के लिए एनटीपीसी आरईएल द्वारा लेह में एक समर्पित 1.25 मेगावाट सौर संयंत्र भी स्थापित किया जा रहा है।

प्राकृतिक गैस के साथ हाइड्रोजन ब्लेंडिंग यह पायलट का अपनी तरह का पहला होगा। और भारत के प्राकृतिक गैस ग्रिड को डीकाबोर्नाइज करने की व्यवहार्यता का पता लगाएगा। एनटीपीसी के हाइड्रोजन अर्थव्यवस्था में परिवर्तन में महत्वपूर्ण भूमिका निभाने की अपनी महत्वाकांक्षा के साथ बाद में इसे पूरे भारत में वाणिज्यिक स्तर पर ले जाएगा।

पायलट का सफल निष्पादन सरकार के ‘आत्मनिर्भर भारत अभियान’ के तहत आयात प्रतिस्थापन उद्देश्य के साथ-साथ डीकाबोर्नाइजेशन उद्देश्य को भी प्रदर्शित करेगा।

एनटीपीसी लिमिटेड उर्वरक उद्योग को डीकाबोर्नाइज करने के लिए हरित अमोनिया के उत्पादन की भी तलाश कर रहा है और संभवत: उर्वरक और रिफाइनरी क्षेत्र में हरे हाइड्रोजन के कुछ प्रतिशत का उपयोग करने के सरकार के आगामी आदेश को पूरा कर रहा है।

साथ ही, रामागुंडम में हरित मेथनॉल उत्पादन पर विस्तृत अध्ययन पूरा कर लिया गया है और कंपनी द्वारा निकट भविष्य में अंतिम निवेश निर्णय लेने की उम्मीद है।

–आईएएनएस

editors

Read Previous

‘तमिलनाडु का पहला कृषि बजट दिल्ली में प्रदर्शनकारी किसानों को समर्पित’

Read Next

1947 में लाल किले पर फहराया तिरंगा किसने बनाया

Leave a Reply

Your email address will not be published.

WP2Social Auto Publish Powered By : XYZScripts.com