यूपीआई से लेनदेन जून में 49 प्रतिशत बढ़ा, प्रतिदिन हुए 66,903 करोड़ रुपये के ट्रांजैक्शन

नई दिल्ली । भारत में यूनिफाइड पेमेंट्स इंटरफेस (यूपीआई) प्लेटफॉर्म से लेनदेन की संख्या सालाना आधार पर 49 प्रतिशत बढ़कर 13.9 अरब हो गई है। नेशनल पेमेंट कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया (एनपीसीआई) द्वारा जारी किए गए डेटा में यह जानकारी दी गई है।

लेनदेन की संख्या मई के 14 अरब के मुकाबले थोड़ी सी कम है। इसकी वजह जून में मई के मुकाबले कम दिन का होना है। जून में यूपीआई लेनदेन की कुल वैल्यू सालाना आधार पर 36 प्रतिशत बढ़कर 20.1 लाख करोड़ रही है। मई में यूपीआई लेनदेन की वैल्यू सालाना आधार पर 37 प्रतिशत बढ़कर 20.4 लाख करोड़ रुपये पर थी।

एनपीसीआई के डेटा के मुताबिक, जून में यूपीआई से औसत लेनदेन की संख्या प्रतिदिन 463 मिलियन रही है और प्रतिदिन औसत 66,903 करोड़ रुपये का लेनदेन हुआ है।

आधार के जरिए होने वाले भुगतान की संख्या में सालाना 4 प्रतिशत की बढ़त हुई है और यह 100 मिलियन पर पहुंच गया है। हालांकि, कुल भुगतान वैल्यू सालाना आधार पर 5 प्रतिशत गिरकर 25,122 करोड़ रुपये रही है। औसत प्रतिदिन लेनदेन की संख्या 3.3 मिलियन पर रही है और औसत प्रतिदिन लेनदेन वैल्यू 837 करोड़ रुपये रही।

जून में फास्टैग लेनदेन की संख्या में सालाना आधार पर 6 प्रतिशत का इजाफा हुआ है और यह 334 मिलियन रही है। वहीं, इन लेनदेन की वैल्यू 11 प्रतिशत बढ़कर 5,780 करोड़ रुपये पर रही। यूपीआई के लेनदेन में बढ़त की वजह रुपे क्रेडिट कार्ड को यूपीआई से जोड़ना और यूपीआई को विदेशों में भी लॉन्च करना है।

–आईएएनएस

बजट में नौ शीर्ष प्राथमिकताओं में स्वास्थ्य का न होना चिंता का विषय : विशेषज्ञ

नई दिल्ली । केंद्रीय बजट 2024-25 को लेकर विशेषज्ञों ने कहा है कि इस बजट में घरेलू और अंतरराष्ट्रीय रुझानों का बेहतर तरीके से ध्यान रखा गया, लेकिन सरकार की...

अदाणी ग्रीन ने खावड़ा रिन्यूएबल एनर्जी प्लांट में शुरू किया पवन ऊर्जा का उत्पादन

अहमदाबाद | अदाणी ग्रीन एनर्जी लिमिटेड (एजीईएल) ने बुधवार को कहा कि कंपनी ने गुजरात के खावड़ा में स्थित 30,000 मेगावाट (30 गीगावाट) क्षमता वाले दुनिया के सबसे बड़े रिन्यूएबल...

बजट के बाद शेयर बाजार में रिकवरी, सेंसेक्स सपाट बंद

मुंबई । भारतीय शेयर बाजार में बजट के कारण मंगलवार को भारी उतार-चढ़ाव देखने को मिला। हालांकि, बाजार के मुख्य सूचकांक सपाट बंद होने में कामयाब रहे। कारोबारी सत्र के...

इंडस्ट्री दिग्गजों ने बजट को सराहा, बताया – रोजगार सृजन और महिला विकास में निभाएगा बड़ी भूमिका

नई दिल्ली । देश के बड़े इंडस्ट्री चैंबर्स ने मंगलवार को केंद्रीय बजट 2024-25 की सराहना करते हुए कहा कि यह आम जनता केंद्रित है, जो कि राजकोषीय स्थिरता के...

भूटान के नरेश और प्रधानमंत्री ने किया अदाणी की खावड़ा परियोजना, मुंद्रा पोर्ट का दौरा

अहमदाबाद । भूटान नरेश जिग्मे खेसर नामग्याल वांगचुक और प्रधानमंत्री शेरिंग टोबगे ने मंगलवार को अदाणी समूह की खावड़ा नवीकरणीय ऊर्जा परियोजना और मुंद्रा पोर्ट का दौरा किया। अदाणी समूह...

भारत की जीडीपी विकास दर 2024-25 में 6.5 से 7 प्रतिशत रहने का अनुमान : आर्थिक सर्वेक्षण

नई दिल्ली । वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण की ओर से सोमवार को पेश किए गए आर्थिक सर्वेक्षण में अनुमान जताया गया कि वित्त वर्ष 2024-25 में भारत की जीडीपी वृद्धि...

दीर्घकालिक आर्थिक विकास के लिए ग्रीन एनर्जी को बजट में मिले पर्याप्त फंडिंग : एक्सपर्ट्स

नई दिल्ली । बजट 2024-25 में सरकार को पर्यावरण और गवर्नेंस (ईएसजी) को प्राथमिकता देनी चाहिए, जिससे दीर्घकालिक आर्थिक विकास और पर्यावरण को बढ़ावा देने के लिए स्थिर पहल की...

वैश्विक चुनौतियों के बीच 7 प्रतिशत जीडीपी दर भारत के लिए मुमकिन : मुख्य आर्थिक सलाहकार

नई दिल्ली । वैश्विक आर्थिक चुनौतियों के बीच भारत के लिए वित्त वर्ष 2024-25 में 7 प्रतिशत की जीडीपी वृद्धि दर हासिल करना मुमकिन है। हालांकि, इस साल की शुरुआत...

बजट: ग्रामीण इंफ्रास्ट्रक्चर में निवेश से अर्थव्यवस्था होगी मजबूत : विशेषज्ञ

नई दिल्ली | ग्रामीण क्षेत्रों में अर्थव्यवस्था को उभारने के लिए पारंपरिक और नए सेक्टर दोनों में निवेश करने की आवश्यकता है। यह बात विशेषज्ञों ने कही। विशेषज्ञों का मानना...

कैपिटल गुड्स, डिफेंस, इलेक्ट्रॉनिक व टूरिज्म सेक्टर पर दिख सकता है बजट का असर

नई दिल्ली । केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण की ओर से आम बजट 23 जुलाई को पेश किया जाएगा। स्टॉक मार्केट एक्सपर्ट्स का मानना है कि बजट में चार सेक्टरों...

दक्षिण कोरिया: सरकार को मेडिकल प्रोफेसरों की चेतावनी, जूनियर डॉक्टरों के प्रशिक्षण का करेंगे बहिष्कार

सोल । दक्षिण कोरिया में पिछले कुछ समय से चिकित्सा-व्यवस्था को लेकर उठा विवाद बढ़ता ही जा रहा है। इस विवाद के बीच दक्षिण कोरियाई मेडिकल प्रोफेसरों ने जूनियर डॉक्टरों...

साइबर एक्सपर्ट ने बताई माइक्रोसॉफ्ट के विकल्प की जरूरत, ग्लोबल स्तर पर जांच की मांग

नई दिल्ली । माइक्रोसॉफ्ट की ग्लोबल क्लाउड सर्विस में आई खराबी के कारण हवाई अड्डों पर उड़ानों में देरी हो रही है। इस खराबी के कारण भारत भी प्रभावित हुआ...

admin

Read Previous

भारत केंद्रित ईटीएफ में जून में आया एक अरब डॉलर से ज्यादा का इनफ्लो

Read Next

जिम्बाब्वे के खिलाफ पहले दो टी20 मैचों के लिए भारतीय टीम में साई सुदर्शन, जितेश, हर्षित राणा शामिल

Leave a Reply

Your email address will not be published.

WP2Social Auto Publish Powered By : XYZScripts.com