रेल बजट में 2 लाख करोड़ रुपये का फंड संभव

नई दिल्ली: रेलवे बजट को लेकर विभाग की ओर से क्या तैयारी है, कितनी बढ़ोत्तरी की उम्मीद की जा रही है, रेलवे प्रस्तावों में किन पुनर्विकास परियोजनाओं को शामिल किया जायेगा। जानिए इस विशेष रिपोर्ट में –

रेल बजट से लोगों को इस बार काफी उम्मीदें हैं। 1 फरवरी को केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण अपना पांचवां बजट पेश करेंगी। केंद्र में सत्तारूढ़ मोदी सरकार ने अपने पहले कार्यकाल में रेल बजट को भी आम बजट से जोड़ दिया था। अब रेलवे के लिए भी पैसा इसी बजट से दिया जाता है। जानकारी के मुताबिक केंद्र इस बार रेलवे बजट में बढ़ोत्तरी करने जा रही है। उम्मीद लगाई जा रही है कि सरकार रेलवे के बजट में 20 फीसदी तक का इजाफा करेगी। इससे पहले बजट पूर्व बैठक में रेलवे बोर्ड ने वित्त मंत्रालय बजट एलोकेशन में 25-30 फीसदी अधिक फंड की मांग की है। ऐसे में इस बार सरकार रेल मंत्रालय को बजट में करीब 2 ट्रिलियन रुपये का फंड दे सकती है। बजट से पहले रेलवे से जुड़े कई सेक्टरों में उत्साह का माहौल है। रेल यात्रियों की ओर से कई तरह की मांगे भी रही हैं।

आगामी लोकसभा चुनाव से पहले मोदी सरकार का ये अन्तिम पूरा बजट है। साथ ही 2024 के लोकसभा चुनाव से पहले वर्ष 2023 में ही देश में 10 राज्यों चुनाव भी हैं। इसमें राजस्थान, छत्तीसगढ़, मध्य प्रदेश, कर्नाटक और तेलंगाना जैसे बड़े राज्यों के अलावा पूर्वोत्तर के त्रिपुरा, मेघालय, नगालैंड और मिजोरम में भी विधानसभा चुनाव होने हैं। साथ ही जम्मू-कश्मीर में भी इस साल चुनाव कराए जा सकते हैं। ऐसे में चुनाव से पहले पेश होने वाले इस रेल बजट में केंद्र सरकार आम यात्रियों से जुड़ी कई नई रेल सुविधाओं का ऐलान कर सकती है। यह माना जा रहा है कि इस बार का रेल बजट चुनावी बजट साबित हो सकता है, विशेषकर उन राज्यों में जहां चुनाव होने हैं। इसलिए केंद्र सरकार उनके लिए कुछ विशेष ऐलान कर सकती है।

हालांकि रेल मंत्रालय ने पिछले वित्त वर्ष की तुलना में अब तक 42,370 करोड़ रुपए अधिक राजस्व हासिल किया। पिछले साल से अगर इसकी तुलना करें तो इस साल रेलवे की इनकम 71 फीसदी तक बढ़ चुकी है। जबकि इससे पहले साल 2021 में 26 हजार 338 करोड़ रुपए का घाटा हुआ था। इसलिए सरकार ने आम लोगों को दी जाने वाली कई रिआयतों को बंद कर दिया था।

रेलवे की कमाई के मजबूत आंकड़े देखकर अब एक फिर तमाम तबकों के लोग सरकार से उस सब्सिडी को फिर से लागू करने की मांग कर रहे हैं। खासतौर पर 60 साल से ज्यादा उम्र के वरिष्ठ नागरिक जिन्हें कोविड महामारी से पहले 50 फीसदी तक की छूट मिलती थी। इसे अब बंद कर दिया गया है।

हालांकि रेल मंत्रालय के अनुसार वरिष्ठ नागरिकों को रेल टिकट में छूट देने की इस बजट में कोई योजना नहीं है। केंद्र सरकार अधिकतर निवेश रेलवे के आधुनिकीकरण में ही करेगा। रेलवे ट्रेनों के निर्माण के लिए बेहतर घरेलू इंफ्रास्ट्रक्च र का निर्माण करने पर भी ध्यान दे रहा है। इसमें ट्रेनों के पहियों को लेकर विदेशी निर्भरता कम करने की भी योजना बनाई जा रही है।

इस बार के बजट में स्लीपर सुविधा वाली नई वंदे भारत एक्सप्रेस ट्रेन और वंदे भारत 2.0 बनाने पर जोर दिया जा सकता है। अब इस ट्रेन में स्लीपर बर्थ भी लगाई जाएगी। इससे लंबी दूरी करने वाले यात्रियों को बेहतरीन स्लीपर ट्रेन सुविधा मिलेगी। यह ट्रेन राजधानी एक्सप्रेस की तरह काम करेगी जिसमें यात्रियों को स्लीपर एसी कोच की सुविधा भी मिलेगी। रेल बजट 2023 में 500 वंदे भारत, 35 हाइड्रोजन ट्रेन, 5000 एलएचबी कोच, 58000 वैगन के लिए 2.70 लाख करोड़ रुपये की योजना का ऐलान किया जा सकता है।

उल्लेखनीय है कि पिछले रेल बजट के ऐलान के दौरान वित्तमंत्री ने राष्ट्रीय रेल योजना 2030 की भी घोषणा की थी। इस योजना के तहत रेलवे के विकास के लिए प्लान तैयार किया गया। इसमें रेल सुविधाओं को नया रूप दिये जाने का ऐलान किया गया था। इसके लिए केंद्र ने एक लाख करोड़ के निवेश करने की बात की थी। दिसंबर 2023 तक रेलवे की बड़ी लाइन का 100 फीसदी विद्युतीकरण पूरा कर लिया जाएगा।

इसी तरह टीयर-2 श्रेणी के दो शहरों और टीयर-1 श्रेणी के शहरों के बाहरी हिस्सों में मेट्रो रेल सिस्टम तैयार किया जा रहा है जिसके तहत भारतीय रेल 2030 तक दुनिया की पहली 100 फीसदी ग्रीन रेल सेवा हो जाए। इसके साथ ही केंद्र सरकार इस बार रेल बजट में हाइपरलूप तकनीक को अपनाने का ऐलान कर सकती है। इसमें यात्रियों को ले जाने वाले पॉड ट्यूब या सुरंगों के माध्यम से यात्रा की जाती हैं। ये तकनीक बुलेट ट्रेन से भी तीव्र है। साथ ही इस बजट में इंफ्रास्ट्रक्च र को लेकर भी सरकार बड़े ऐलान कर सकती है।

हालांकि विजन 2024 की परियोजनाओं के तहत, दशक के उत्तरार्ध में, नए डेडिकेटेड फ्रेट कॉरिडोर और हाई स्पीड पैसेंजर कॉरिडोर को चालू करने के अलावा, भीड़भाड़ वाले मार्गों के मल्टीट्रैकिंग और सिग्नलिंग अपग्रेडेशन का लक्ष्य रखा गया है।

इसके साथ ही नया रेलवे ट्रैक भारतीय रेलवे के नए विजन डॉक्युमेंट का हिस्सा होगा। इसे चरणबद्ध तरीके से पूरा किया जाएगा। अगले वित्त वर्ष में करीब 4,000 किलोमीटर लंबी लाइन बिछाने का टारगेट तय किया जा सकता है। नए ट्रैक ब्रिज को भी दोगुना यानी 50,000 करोड़ रुपये किया जा सकता है। अभी की कीमत के मुताबिक, सामान्य 1,00,000 किलोमीटर लाइन बिछाने पर करीब 15-20 लाख करोड़ रुपये का खर्च आएगा।

आगामी रेल बजट में 7,000 किलो मीटर ब्रॉड गेज लाइन को इलेक्ट्रिफाई करने का भी ऐलान हो सकता है। इसके लिए 10,000 करोड़ रुपये का आवंटन हो सकता है। 7,000 किलो मीटर लंबी ब्रॉड गेज लाइन के इलेक्ट्रिफिकेशन से रेलवे के पूरे नेटवर्क को इलेक्ट्रिफाई करने का लक्ष्य पूरा हो जाएगा।

–आईएएनएस

ट्विटर अब ब्लू उपयोगकर्ताओं के साथ विज्ञापन राजस्व करेगा साझा : मस्क

सैन फ्रांसिस्को : ट्विटर के सीईओ एलोन मस्क ने घोषणा की कि माइक्रो-ब्लॉगिंग प्लेटफॉर्म अब उन क्रिएटर्स के साथ विज्ञापन राजस्व साझा करेगा, जिन्होंने अपने रिप्लाई थ्रेड्स में दिखाई देने...

कोविड जैसी भंयकर महामारी और मंदी के बावजूद भी मार्केट में अच्छा रिस्पांस मिला – अमन गुप्ता

नई दिल्लीःऊषा केबल ग्रुप के निदेशक अमन गुप्ता ने बताया कि हमारी कम्पनी अच्छी गुणवत्ता वाले केबल जैसे-(एफ आर एल एस, एच आर एफ आर तथा फायर सरबाइबल) का निर्माण...

कबाड़ से जुगाड़ पर होगा सौंदर्यीकरण, रॉक गार्डन के तर्ज पर कई स्थानों पर कबाड़ से बनेंगे म्यूरल्स

नोएडा:नोएडा में कंपनियों और सरकारी प्रतिष्ठानों से निकलने वाला कबाड़ नोएडा की सुंदरता को बढ़ाने जा रहा है। इस योजना को कबाड़ से जुगाड़ नाम दिया गया है। इसके पहले...

2020-21 से 2021-22 तक ऑटोमोबाइल निर्यात में 35.9 फीसदी की रिकॉर्ड वृद्धि

नई दिल्ली: वाहन निर्यात में 2021-22 के दौरान जबरदस्त वृद्धि देखी गई है। ऑटोमोबाइल की कुल संख्या का निर्यात 2020-21 में 41,34,047 से बढ़कर 2021-22 में 56,17,246 हो गया, मतलब...

हैरिटेज फॉर हाइड्रोजन के तहत रेलवे चलाएगी 35 हाइड्रोजन ट्रेनें

नई दिल्ली:| भारतीय रेल हैरिटेज हाइड्रोजन के तहत 35 हाइड्रोजन ट्रेनें चलाएगी। ईंधन के रूप में हाइड्रोजन का उपयोग ग्रीन ग्रोथ की ओर एक बड़ा कदम है। संचार और इलेक्ट्रॉनिक...

एप्पल ने भारत में बिक्री का बनाया रिकॉर्ड, रिटेल स्टोर जल्द: टिम कुक

नई दिल्ली : एप्पल के सीईओ टिम कुक ने कहा है कि एप्पल ने ब्राजील और भारत में तिमाही रिकॉर्ड के साथ-साथ भारतीय बाजार के लिए एक और राजस्व रिकॉर्ड...

केंद्रीय बजट में अनदेखी से चाय उद्योग नाखुश

कोलकाता:केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने अपने बजट भाषण में चाय उद्योग पर पूरी तरह से चुप्पी साधे रखी, जिससे क्षेत्र के संचालक निराश हैं और उद्योग के पर्यवेक्षक हैरान...

सैमसंग गैलेक्सी एस23 सीरीज की भारत में कीमत 74,999 रुपये से शुरू

नई दिल्ली : सैमसंग ने गुरुवार को भारत में 74,999 रुपये की शुरुआती कीमत पर अपनी गैलेक्सी एस23 सीरीज लॉन्च करने की घोषणा की। गैलेक्सी एस23 सीरीज तीन वैरिएंट- एस23,...

छंटनी के बाद अब मार्क जुकरबर्ग चाहते हैं 2023 कुशलता का वर्ष हो

सेंस फ्रंसिस्कों : 11,000 कर्मचारियों की छंटनी के बाद, मेटा के संस्थापक और सीईओ मार्क जुकरबर्ग अब चाहते हैं कि साल 2023 में ऐसा न हो और कंपनी में कुशलता...

खुले बाजार में बिक्री के लिए गेहूं की ई-नीलामी शुरू

नई दिल्ली : भारतीय खाद्य निगम (एफसीआई) ने बुधवार को हुई पहली ई-नीलामी में खुले बाजार के माध्यम से बिक्री के लिए अपने 25 लाख मीट्रिक टन स्टॉक में से...

‘3 साल में 400 वंदे भारत रेक में से 75 का निर्माण 2023 में करने का वादा’

चेन्नई:ठीक एक साल पहले अपने बजट भाषण में वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण ने अगले तीन साल में 400 वंदे भारत ट्रेनें शुरू करने की घोषणा की थी। 1 फरवरी, 2022 को...

बजट में महिलाओं के लिए नई लघु बचत योजना, वरिष्ठ नागरिक योजना के लिए जमा सीमा बढ़ाई गई

नई दिल्ली:वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने बुधवार को 2023-24 के लिए केंद्रीय बजट पेश करते हुए कहा कि, महिलाओं का आर्थिक सशक्तिकरण सरकार के लिए एक महत्वपूर्ण फोकस क्षेत्र है...

akash

Read Previous

कई चुनावों के बावजूद लोकलुभावन बजट की संभावनाएं कम

Read Next

प्रधानमंत्री ने क्षेत्रीय भाषाओं में सुप्रीम कोर्ट के फैसलों के सीजेआई के विचार का स्वागत किया

Leave a Reply

Your email address will not be published.

WP2Social Auto Publish Powered By : XYZScripts.com