प्लक ने 100 करोड़ रुपये का एआरआर किया हासिल, 12 महीने में राजस्व दोगुना करने का लक्ष्य

मुंबई । फ्रेश फूड ब्रांड प्लक ने वित्तीय वर्ष 2024 के दौरान 100 करोड़ रुपये का वार्षिक राजस्व रन रेट (एआरआर) हासिल किया है।

दिल्ली, मुंबई, बैंगलोर और पुणे जैसे प्रमुख शहरों में अपनी सेवाएं देने वाली प्लक आठ से ज्यादा मार्केटप्लेस प्लेटफॉर्म पर उपलब्ध है। कंपनी किसानों को पांच लाख घरों से जोड़ती है और हर महीने 20 लाख से ज्‍यादा उत्पाद डिलीवर करती है।

कंपनी के इस मुनाफे का श्रेय अमेजन, स्विगी, जेप्टो और ब्लिंकिट जैसे उद्योग के दिग्गजों के साथ रणनीतिक साझेदारी को दिया जा सकता है। इसके अलावा रेडी टू कुक मील बनाने वाली प्रमुख भारतीय फूड-टेक स्टार्टअप कूक के साथ किए गए करार से प्लक की उत्पाद रेंज को काफी फायदा हुआ है। इस समझौते ने राजस्व के आंकड़ों को भी मजबूत किया है।

कंपनी के ब्रांड एंबेसडर के रूप में बॉलीवुड आइकन करीना कपूर खान की भागीदारी ने प्लक की ब्रांड पहचान को और बढ़ाया है।

कंपनी के ग्रोथ पर टिप्पणी करते हुए प्लक के सीएफओ नेल्सन डिसूजा ने कहा, ”हमारे डिजिटल एफएंडवी बाजार का विस्‍तार हुआ है, जिससे प्लक के उत्पादों को अधिक स्वीकृति मिली है। हम अपने अभिनव दृष्टिकोण, मजबूत उत्पाद पोर्टफोलियो और विभिन्न रणनीतिक साझेदारी के कारण अपनी विकास आकांक्षाओं के बारे में आश्वस्त हैं।”

उन्होंने कहा, ”प्लक तेजी से विकास की राह पर है और इसकी योजना 12 महीनों के भीतर अपने राजस्व को दोगुना करने और अगले तीन वर्षों में 15 शहरों तक अपनी उपस्थिति को बढ़ाने की है।”

ओएनडीसी पर अपनी लिस्टिंग के साथ प्लक अब 5 लाख ग्राहकों को सेवाएं दे रहा है। प्लक की सफलता के पीछे इसकी तकनीकी टीम का बहुत बड़ा हाथ है। टीम ने किसानों के लिए अपने उत्पादों को सूचीबद्ध करने के लिए एक विक्रेता पोर्टल, 1,000 से अधिक साझेदार खेतों से उत्पादों की ट्रेसेब्लिटी, फलों की स्वच्छता सुनिश्चित करने के लिए ओजोन वाशिंग और फलों की मिठास की डिग्री का परीक्षण करने के लिए ब्रिक्स तकनीक विकसित की है।

इसके अलावा टीम ने चीजों की गुणवत्ता को बनाए रखने के लिए एआई सिस्टम, बेहतर मूल्य निर्धारण के लिए ऑटो प्राइसिंग एल्गोरिदम, कुशल डिलीवरी रूटिंग और शहरों में स्टॉक की उपलब्धता का प्रबंधन करने के लिए लाइव ऑर्डर ट्रैकिंग लागू की है।

डिसूजा ने कहा, “हम अपने संचालन के हर पहलू को बेहतर बनाने के लिए प्रौद्योगिकी का लाभ उठाने में विश्वास करते हैं। उत्पाद की गुणवत्ता सुनिश्चित करने से लेकर डिलीवरी मार्गों को अनुकूलित करने तक हमारे तकनीकी नवाचार और हमारी सफलता ग्राहकों की संतुष्टि पर निर्भर करती है। हमारा लक्ष्य ताजे भोजन को आसानी से सुलभ बनाने के साथ ग्राहकों को एक बेहतर अनुभव प्रदान करना है।

ग्राहक अनुभवों को और बेहतर बनाने के लिए कंपनी अपने स्वयं के ऐप पर भी काम कर रही है।

गुणवत्ता और नवाचार के प्रति प्लक की प्रतिबद्धता इसके विकास को आगे बढ़ा रही है, जो डिजिटल ताजा खाद्य बाजार में एक मजबूत भविष्य का वादा करती है।

–आईएएनएस

अर्थव्यवस्था में तेजी का असर, दुनिया में तीसरे नंबर पर पहुंचा भारत का एनबीएफसी सेक्टर

नई दिल्ली । भारत का नॉन-बैंकिंग फाइनेंसियल (एनबीएफसी) सेक्टर अब दुनिया में तीसरे स्थान पर पहुंच गया है। फिलहाल यूएस और यूके का एनबीएफसी क्षेत्र क्रमश: पहले और दूसरे स्थान...

डिफेंस शेयरों में तूफानी तेजी, सेंसेक्स 308 अंक बढ़कर बंद

मुंबई । भारतीय शेयर बाजार के लिए मंगलवार का कारोबारी सत्र काफी मुनाफे वाला रहा। दिन के दौरान सेंसेक्स और निफ्टी दोनों ने 77,366 और 23,579 का नया ऑल-टाइम हाई...

डिफेंस मैन्युफैक्चरिंग में आत्मनिर्भर बन रहा भारत, एचएएल को मिला नया ऑर्डर

नई दिल्ली । भारत की डिफेंस कंपनी हिंदुस्तान एयरोनॉटिक्स लिमिटेड (एचएएल) को रक्षा मंत्रालय की ओर से 156 लाइट कॉम्बैट हेलीकॉप्टर का ऑर्डर मिला है। नया ऑर्डर मिलने के साथ...

दक्षिण कोरिया में 2,900 ग्राहकों के निजी डाटा लीक

सोल । दक्षिण कोरिया में लक्जरी सामान बनाने वाली दिग्गज कंपनी एलवीएमएच के स्वामित्व वाली टीएजी ह्यूअर के लगभग 2,900 ग्राहकों के निजी डेटा लीक हो गये हैं। देश के...

वैश्विक रेटिंग एजेंसियों की राय, एक साल में नई ऊंचाइयों पर होगा शेयर बाजार

नई दिल्ली । नई सरकार के गठन के बाद से भारतीय शेयर बाजारों में जोरदार तेजी देखी गई है। पिछले सप्ताह शेयर बाजार अपने सर्वकालिक उच्च स्तर पर बंद हुए।...

भारत का इलेक्ट्रॉनिक विनिर्माण पांच साल में 250 अरब डॉलर पर पहुंचने की संभावना : रिपोर्ट

नई दिल्ली । भारत का इलेक्ट्रॉनिक विनिर्माण अगले पांच साल में लगभग 250 अरब डॉलर तक पहुंचने की संभावना है। मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, इस समय देश का इलेक्ट्रॉनिक निर्यात...

चिपमेकिंग उपकरण कंपनियां अब कर रहीं भारत का रुख

नई दिल्ली । चिपमेकिंग उपकरण उद्योग अब भारत की ओर रुख कर रहा है। चीन और पश्चिम देशों के बीच तनाव के चलते ये कंपनियां अब भारत को चीन के...

2024 में एशिया-प्रशांत क्षेत्र में भारत ही रहेगा सबसे तेजी से बढ़ती हुई अर्थव्यवस्था : मूडीज

नई दिल्ली । भारत 2024 में एशिया-प्रशांत क्षेत्र की सबसे तेजी से बढ़ने वाली अर्थव्यवस्था बनी रहेगी। ग्लोबल रेटिंग एजेंसी मूडीज की ओर से ताजा रिपोर्ट में ये दावा किया...

पीएम मोदी के नेतृत्व में एविएशन सेक्टर के 25 वर्षों के विकास का खाका तैयार हुआ

नई दिल्ली । प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में भारत का सिविल एविएशन मार्केट काफी तेजी से आगे बढ़ रहा है और सरकार की नीतियों से एविएशन इंडस्ट्री के अगले...

जेप्टो 3.5 अरब डॉलर के वैल्यूएशन पर जुटाएगी 650 मिलियन डॉलर की पूंजी

नई दिल्ली । क्विक कॉमर्स कंपनी जेप्टो ने मौजूदा और नए निवेशकों से 650 मिलियन डॉलर की पूंजी जुटाने का फैसला किया है। सूत्रों की ओर से बताया गया कि...

एआई में इनोवेशन और स्टार्टअप के लिए भारत एक अच्छा हब : गूगल क्लाउड सेल्स हेड

नई दिल्ली । भारत स्टार्टअप शुरू करने और आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस में इनोवेशन के लिए एक अच्छा हब है। ये दावा गूगल क्लाउड के शीर्ष अधिकारी की ओर से किया गया...

जीएसटी परिषद की बैठक 22 जून को

नई दिल्ली | वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण की अध्यक्षता में जीएसटी परिषद की बैठक 22 जून को होगी। इस बैठक में उत्पादों और सेवाओं पर लगने वाले गुड्स एंव सर्विसेज...

admin

Read Previous

शाहरुख खान को मुथूट पप्पाचन ग्रुप ने बनाया अपना नया ब्रांड एंबेसडर

Read Next

कन्याकुमारी पहुंचे पीएम मोदी, एक जून तक प्रसिद्ध विवेकानंद रॉक मेमोरियल में करेंगे ध्यान

Leave a Reply

Your email address will not be published.

WP2Social Auto Publish Powered By : XYZScripts.com